PM Mitra yojna 2022 : ऐसे करे PM मित्र योजना में आवेदन और जाने इसका लाभ

PM Mitra yojna 2022:- नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Biharhelp.in में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा PM Mitra yojna 2022 के बारे में |अगर आप इस योजना के बारे में नहीं जानते हैं तो आप सही जगह पर आये हैं , यहाँ पर आपको इस योजना से सम्बंधित सभी प्रकार की जानकारी प्रदान की जाएगी |

अगर आप भी इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं और साथ ही साथ इस योजना से जुडी जानकारी जैसे – योग्यता , पात्रता , आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में नीचे पुरे विस्तार से बताया गया हैं |

सरकार द्वारा व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए निरंतर प्रयास किया जाता है। इसके लिए विभिन्न प्रकार की योजनाएं आरंभ की जाती है। इन योजनाओं के माध्यम से प्रशिक्षण से लेकर वित्तीय सहायता तक प्रदान की जाती है।

आज हम आपको टेक्सटाइल एवं मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए आरंभ की गई ऐसी ही एक योजना से संबंधित जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं जिसका नाम पीए मित्र योजना है।तो दोस्तों यदि आप इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपसे निवेदन है कि आप हमारे इस लेख को अंत तक पढ़े।

PM Mitra yojna 2022

PM Mitra yojna 2022:- overview

योजना का नाम पीएम मित्र योजना
किसने आरंभ की केंद्र सरकार
लाभार्थी देश के नागरिक
उद्देश्य टैक्सटाइल इंडस्ट्री को इंटीग्रेटेड इकोसिस्टम प्रदान करना।
आधिकारिक वेबसाइट जल्द लॉन्च की जाएगी
साल 2022
बजट ₹4445 करोड़

 




 

PM Mitra Yojana 2022

इस योजना का शुभारंभ 6 अक्टूबर 2021 को किया गया है। इस योजना को प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल एंड अपैरल योजना के नाम से भी जाना जाता है।

PM Mitra Yojana के अंतर्गत देशभर में 7 इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल पार्क का निर्माण किया जाएगा जिससे कि एक ही जगह पर स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाई एवं प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा। पीएम मित्र योजना के माध्यम से टेक्सटाइल एवं मैन्युफैक्चरिंग क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रांति आएगी।

पीएम मित्र योजना प्रधानमंत्री जी के 5 एफ मॉडल से प्रेरित की गई है जो की फार्म टू फाइबर टू फैक्ट्री टू फैशन टू फॉरेन है। इस योजना के माध्यम से टैक्सटाइल पार्क में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया जाएगा।

3 साल में प्रदान की जाएगी 30 करोड़ रुपए की मदद

वह सभी राज्य जहां सस्ती जमीन, पानी एवं लेबर प्रदान किया जाएगा वहां पर यह पार्क लगाए जाएंगे। 7 पार्क स्थापित करने का अनुमानित खर्च 17000 करोड रुपए है। वह यूनिट जो शुरुआत में आकर बड़ा निवेश करेंगी उनको पहले आओ पहले पाओ के आधार पर मदद भी मुहैया कराई जाएगी।

एक यूनिट को 3 साल में 30 करोड़ रुपए तक की मदद सरकार द्वारा मुहैया कराई जाएगी। इन टैक्सटाइल पार्क में रिसर्च सेंटर, डिजाइन सेंटर, ट्रेनिंग सेंटर, मेडिकल सुविधाएं, काम करने वालों के लिए घर की सुविधा, वेयरहाउस, ट्रांसपोर्ट की सुविधा होटल, दुकानें भी बनाई जाएगी।

यह पार्क पूरा एक इंटीग्रेटेड सिस्टम होगा जिसके माध्यम से एक ऐसा इकोसिस्टम बन सकेगा जिसमें सभी को एक दूसरे से लाभ एवं मदद प्राप्त हो।

पार्क का 50% क्षेत्र शुद्ध विनिर्माण गतिविधियों के लिए, 20% क्षेत्र उपयोगिताओं के लिए एवं 10% क्षेत्र वाणीजिक विकास के लिए विकसित किया जाएगा।

 




 

पीएम मित्र योजना का उद्देश्य

पीएम मित्र योजना का मुख्य उद्देश्य टैक्सटाइल इंडस्ट्री को इंटीग्रेटेड इकोसिस्टम प्रदान करना है। इस योजना के माध्यम से 7 टेक्सटाइल पार्को का पूरे देश में निर्माण किया जाएगा। इन पार्कों में स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाई एवं प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा।

यह योजना देश की बेरोजगारी दर को कम करने में भी कारगर साबित होगी क्योंकि इस योजना के माध्यम से 21 लाख रोजगार उत्पन्न होंगे। देश के नागरिकों के जीवन स्तर में भी इस योजना के माध्यम से सुधार आएगा।

 

PM Mitra yojna 2022

PM Mitra Yojana के लाभ

  • पीएम मित्र योजना का शुभारंभ 6 अक्टूबर 2021 को किया गया है।
  • इस योजना को प्रधानमंत्री मेगा टेक्सटाइल इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल एंड अपैरल योजना के नाम से भी जाना जाता है।
  • इस योजना के अंतर्गत देश भर में 7 इंटीग्रेटेड टैक्सटाइल पार्क का निर्माण किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा इस योजना के संचालन के लिए 4445 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
  • PM Mitra Yojana के माध्यम से टैक्सटाइल पार्क में वर्ल्ड क्लास इंफ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से 21 लाख नौकरियां पैदा की जाएगी।
  • 21 लाख नौकरियों में 7 लाख डायरेक्ट एवं 14 लाख इनडायरेक्ट नौकरियां होंगी।
  • यह योजना भारतीय कंपनी को ग्लोबल कंपनी के तौर पर उभरने में भी कारगर साबित होगी।
  • इसके अलावा इस योजना के माध्यम से निवेश भी आकर्षित किया जा सकेगा।
  • इस योजना के माध्यम से एक ही जगह पर स्पिनिंग, बुनाई, प्रोसेसिंग, डाई एवं प्रिंटिंग से लेकर कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग तक का काम किया जाएगा।
  • इस योजना के माध्यम से लॉजिस्टिक की कीमत में भी गिरावट आएगी क्योंकि पूरी वैल्यू चैन एक ही जगह पर मौजूद होगी।




 

पीएम मित्र योजना की विशेषताएं

  • पार्क का निर्माण अलग-अलग राज्यों में स्थित ग्रीन फील्ड एवं ब्राउन फील्ड जगहों पर किया जाएगा।
  • ग्रीन फील्ड मित्र पार्क को विकसित करने के लिए 500 करोड़ रुपया खर्च किए जाएंगे।
  • ब्राउन फील्ड पार्क को विकसित करने के लिए 200 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।
  • मैन्युफैक्चरिंग यूनिट की प्रतिस्पर्धा प्रोत्साहन के लिए सभी मित्र पार्क को 300 करोड़ का सपोर्ट प्रदान किया जाएगा।
  • 7 पार्क स्थापित करने का अनुमानित खर्च 17000 करोड़ रुपए है।
  • यह पार्क पूरा एक इंटीग्रेटेड सिस्टम होगा जिसके माध्यम से एक ऐसा इकोसिस्टम बन सकेगा जिसमें सभी को एक दूसरे से लाभ एवं मदर प्राप्त हो सकेगी।
  • पार्क का 50% क्षेत्र शुद्ध विनिर्माण गतिविधियों के लिए, 20% क्षेत्र उपयोगिताओ के लिए एवं 10% क्षेत्र वाणिज्यिक विकास के लिए विकसित किया जाएगा।

 

पीएम मित्र योजना के अंतर्गत आवेदन करने की प्रक्रिया

यदि आप पीएम मित्र योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको अभी कुछ समय इंतजार करना होगा। सरकार द्वारा अभी केवल इस योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई है। जल्द सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत आवेदन से संबंधित जानकारी प्रदान की जाएगी।

जैसे ही सरकार इस योजना के अंतर्गत आवेदन से संबंधित कोई भी जानकारी साझा करेगी हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से जरूर बताएंगे। तो आप से निवेदन है कि आप हमारे इस लेख से जुड़े रहे।

 




 

Important Links

Official Website  Click Here [ launch Soon ]
Join Our Telegram Group Click Here

 




 

 यह भी पढ़े 

 

 

सारांश 

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह आर्टिकल पसंद आई होगी , अगर आपको मेरी यह आर्टिकल पसंद आई होगी तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों , फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Updated: 03/05/2022 — 3:40 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published.