Agri Business Idea: इस फसल से होगी लाखों की कमाई, आसान है खेती करने का तरीका, जाने उन्नत किस्में

Agri Business Idea: क्या आप भी एक किसान हैं। और अपनी फसल से ज्यादा मुनाफा नहीं कमा पाते हैं। तो यह आर्टिकल केवल आपके लिए ही है। क्योंकि इसमें संपूर्ण जानकारी हम आपको बताएंगे। पारंपरिक फसल की जगह नगदी फसल की खेती ज्यादा फायदेमंद होती है। आज हम आपको ऐसे ही कुछ बेहतरीन फसल के बारे में बताएंगे। जो पोषक तत्वों से भरपूर है। और इसकी मांग अभी खूब है। 

हमारे सभी किसान भाइयों, राजमा पोषक तत्वों से भरपूर एक दलहनी फसल है, जो कि देश में इसकी मांग अभी खूब है। अगर बात करें राजमा की तो इसके सेवन करने से स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होती है। बीते कुछ वर्षों में रबी सीजन, में राजमा की खेती मैदानी इलाकों में होने लगी है। अगर किसान राजमा की उन्नत किस्म की खेती करे तो उन्हें काफी फायदा और मुनाफा कमा पाएंगे।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)
Agri Business Idea

Agri Business Idea

आज का यह आर्टिकल आप सभी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाली है, क्योंकि हम इसमें सभी को बताने जा रहे हैं, Agri Business Idea के बारे में जो की सभी के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होने वाली है। इसके बारे में हम आप लोगों को पूरे, विस्तार के साथ सभी जानकारी को देंगे। 

Agri Business Idea: Overview

Article Name Agri Business Idea
Article Type Latest Update
Telegram Channel Click Here
Homepage Click Here

इस फसल से होगी लाखों की कमाई, आसान है खेती करने का तरीका- Agri Business Idea

हमारे सभी प्रिय साथियों हम आप लोगों को इस, आर्टिकल में हार्दिक अभिनंदन एवं स्वागत करते हैं. क्योंकि आज हम आपको Agri Business Idea के बारे में सही जानकारी देने जा रहे हैं।, इसीलिए आप लोग पूरे इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक अंत तक पढ़े, ताकि आपको इसके बारे में पूरे सही-सही जानकारी प्राप्त हो सके, और इससे सभी किसान भाइयों का मुनाफा कमाया जा सके।

Read Also:

अगर आप इस आर्टिकल को अंत तक पूरा पढ़ लेते हैं।, तो हम उम्मीद करेंगे की Agri Business Idea के संबंध में आपको कोई भी दूसरा आर्टिकल पढ़ने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी। 

Agri Business Idea

राजमा की किस्म

राजमा की खेती से बेहतर उपज और मुनाफा के लिए किसानों को राजमा की उन्नत किस्म, की ही बुवाई जरूर करनी चाहिए। राजमा की उन्नत किस्म जैसे की पी.डी.आर-14, (उदय), मालवीय-137, वी.एल.-63, अम्बर (आई.आई.पी.आर-96-4), उत्कर्ष (आई.आई.पी.आर-98-5), अरूण शामिल है।



राजमा फसल की मिट्टी और बुवाई करने का तरीका

दोमट और हल्की दोमट मिट्टी अधिक बेहतर माना जाता है। पानी के निकास की अच्छी व्यवस्था भी होनी चाहिए। पहले जुदाई मिट्टी पलटने वाले हल से और करीब 2 से 3 जुताई कल्टीवेटर से करने पर खेत को तैयार हो जाता है। बुवाई के समय ध्यान दें कि मिट्टी में पर्याप्त नमी बहुत जरूरी होती है। 120 से 140 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर थीरम से बीज उपचार करने के बाद डालनी चाहिए। ताकि पर्याप्त नमी मिल सके।

अक्टूबर के तीसरे और चौथे हफ्ते में बुवाई के लिए बेहतर विकल्प होता है। अगर बात करें पूर्वी क्षेत्र में नवंबर के पहले हफ्ते, में भी बोया जाता है। इसके बाद बोने से उत्पादन घट जाता है।

Agri Business Idea

फसल की उर्वरक और सिंचाई करने का तरीका

राजमा में राइजोबियम ग्रंथि, ना होने के कारण नाइट्रोजन की अधिक मात्रा में जरूरी होती है। 120 किग्रा नाइट्रोजन, 60 किग्रा, फास्फेट, 30 किग्रा पोटाश प्रति हेक्टेयर देनी जरूरी मानी जाती है। 60 किग्रा नाइट्रोजन और फास्फेट और पोटाश की पूरी मात्रा बुवाई के समय और बची आधी नाइट्रोजन की मात्रा टाप ड्रेसिंग में देनी चाहिए। 20 किग्रा प्रति हेक्टेयर गंधक देने से लाभकारी नतीजे मिलती है।

2 प्रतिशत यूरिया के घोल का छिलका 30 दिन और 50 दिन पर करने से उपज बढ़ती रहती है। राजमा में दो या तीन सिंचाई की जरूरत तो पड़ती ही है। बुवाई के चार हफ्ते बाद प्रथम सिंचाई आवश्यक करनी होती है। और फिर बाद में इसकी सिंचाई एक माह के अंतराल पर की जाती है। और इसकी सिंचाई हल्का के रूप में करनी चाहिए ताकि पानी खेत में बिल्कुल ठहरे।

Agri Business Idea

क्या है इसकी निराई गुड़ाई करने का आसान तरीका?

पहले सिंचाई के बाद निराई और गुड़ाई करनी चाहिए। गुड़ाई के समय, थोड़ा मिट्टी पौधे पर चढ़ा देना चाहिए ताकि, फल लगने पर पौधे को सहारा मिलती रहे। फसल उगाने के पहले पेन्डीमेथलीन का छिड़काव करना चाहिए। ताकि खरपतवार को नियंत्रित किया जा सकता है।



रोग नियंत्रण उपाय?

पत्तियों पर मौजेक देखते ही, डाइमेथेयेट 30% ई. सी 1 लीटर लीटर, या इमिडाक्लोप्रिड 17.8% एस.एल कि मात्रा को 500-600 लीटर पानी में घोल बनाकर छिड़काव करना चाहिए। ताकि रोग न फैल सके।

फसल की कटाई एवं भंडारण

जब फल पक जाए तो, फसल काट लेनी चाहिए। अधिक सूखने, पर फल चटकने लगती है

निष्कर्ष

हम आपको इस आर्टिकल में पूरे विस्तार के साथ Agri Business Idea के बारे में पूरी सही जानकारी को दिए हैं। जानकारी दिए ही नहीं बल्कि, आपको पूरी अच्छे तरीके से इसके बारे में फायदे एवं फसल कैसे उगने हैं, इन सभी के बारे में इस आर्टिकल में जिक्र किए हैं। 

हम उम्मीद करते हैं, हमारा यह Agri Business Idea आर्टिकल आपको बेहद पसंद आया होगा। अगर पसंद आया होगा तो अपना दोस्तों के पास शेयर जरूर करेंगे। और अगर आपको इस आर्टिकल से संबंध में आपके मन में कोई डाउट है। तो उसे कमेंट जरुर कर देंगे

Important Links

Telegram Channel Click Here
Homepage Click Here

 

Related Posts

Updated: 01/12/2023 — 9:39 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *