Cheque Bounce Jail Provision: जाने चेक बाऊंस पर कितनी साल की होती है जेल और कितना लगता है जुर्माना, पढ़े पूरी रिपोर्ट?

Cheque Bounce Jail Provision: क्या आपके  साथ भी Cheque Bounce जैसी घटना घटी है औऱ आप जानना चाहते है कि, Cheque Bounce  क्या होता है  या फिर Cheque Bounce  पर कितने साल की सजा होती है आदि तो हमारा यह आर्टिकल केवल  औऱ केवल आपके लिए है जिसमे हम, आपको विस्तार से Cheque Bounce Jail Provision  के बारे मे बतायेगें।

आपको बता देना चाहते है कि, Cheque Bounce Jail Provision  के साथ ही साथ हम, आपको जुर्माना राशि  के बारे मे बतायेगें ताकि आप   इन सभी  जानकारीयों का पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सके तथा

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

आर्टिकल के अन्त में हम,  आपको क्विक लिंक्स  प्रदान करेगें ताकि आप इसी प्रकार के आर्टिकल्स को प्राप्त करके इनका लाभ प्राप्त कर सकें।

Read Also – RRB Assistant Loco Pilot Recruitment 2024 Online Apply For 5696 Post, Notification, Qualification & Selection Process

Cheque Bounce Jail Provision

Cheque Bounce Jail Provision : Overivew

Name of the Article Cheque Bounce Jail Provision
Type of Article Latest Update
Type of Update Cheque Bounce Update
Detailed Information of Cheque Bounce Jail Provision? Please Read The Article Completely.

जाने चेक बाऊंस पर कितनी साल की होती है जेल और कितना लगता है जुर्माना, पढ़े पूरी रिपोर्ट – Cheque Bounce Jail Provision?

आप सभी युवा व नागरिक चेक  का सामान्यतौर पर इस्तेमाल  अलग – अलग वित्तीय लेन – देन मे करते  आये है लेकिन  चेक बाऊंस  होने पर आपको जेल व जुर्माने की सजा भी हो सकती है जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी प्रदान करने के लिए हम, आपको Cheque Bounce Jail Provision  को लेकर  तैयार रिपोर्ट के बारे मे बतायेगे जिसके प्रमुख बिंदु  कुछ इस प्रकार से हैं –

Read Also – BSSC Inter Level Correction Form 2024 – Edit Application Form Window Open Link, Date | Bihar SSC Inter Level Correction 2023

Cheque Bounce Jail Provision – संक्षिप्त परिचय

  • हम,आप सभी पाठको को  बताना चाहते है कि,  भुगतान लेने  से लेकर  भुगतान  करने का  सबसे सुरक्षित माध्यम Cheque को माना जाता है  जिसकी मदद से आप ना केवल सुरक्षित रुप  से  वित्तीय लेन – देन   कर सकते है बल्कि एक साथ भारी राशि  भी निकाल सकते है और इसीलिए हम, आपको इस आर्टिकल मे विस्तार से Cheque Bounce Jail Provision  के बारे में बतायेगें जिसके लिए  आपको ध्यानपूर्वक इस आर्टिकल को पढ़ना होगा।



सबसे पहले जाने Cheque Bounce क्या होता है?

  • सरल भाषा मे कहें तो Cheque Bounce  उस स्थिति को कहा जाता है जब आप कोई आपको भुगतान  के तौर पर  चेक  दें और जब आप  इस चेक  को  बैंक  मे जाये  रुपयो की निकासी  के लिए कब  बैंक कर्मचारी  द्धारा पाया जाये कि,  बैंक खाते में पैसा  ही नहीं है जिसके माध्यम से  चेक वाली राशि  की निकासी  की जा सकें तो उस स्थिति मे  बैंक द्धारा उस चेक को Cheque Bounce माना जाता है।

Cheque Bounce – एक नज़र

  • हम,आपको बता देना चाहते है कि, Cheque Bounce  होना कोई  सामान्य घटना  नहीं बल्कि  संगीन आपराधिक घटना  है औऱ जिस व्यक्ति का दिया हुआ चेक , Cheque Bounce  होता है  उसे अपराधी  माना जाता है जिसे ना केवल भविष्य  मे  जेल  की सजा  हो सकती है बल्कि उनके लिए  भारी जुर्माने  का भी प्रावधान  है।

Cheque Bounce होने पर दोषी व्यक्ति के खिलाफ पहली कार्यवाही क्या होगी?

  • यदि किसी व्यक्ति द्धारा दिया गया Cheque, Bounce  हो जाता है तो सबसे पहले उस व्यक्ति  को  दोषी  मानते हुए उसे Legal Notice भेजा जाता है,
  • इस लीगल नोटिस का जबाव, दोषी व्यक्ति  को  मात्र  15 के भीतर ही भीतर देना होता है और
  • यदि  दोषी व्यक्ति द्धारा 15 दिनो के भीतर  लीगल नोटिस  का जबाव नहीं दिया  जाता है तो उसके खिलाफ, नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट 1881  के तहत  केस / मामला  दर्ज कर लिया जाता है।

Cheque Bounce होने पर किस धारा के तहत केस दर्ज होगा और कितने साल की जेल होगी?

  • यहां पर हम,  आपको बता देना चाहते है कि, चेक बाऊंस  होने पर और  लीगल नोटिस  का  जबाव 15 दिन  के  भीतर ना दिये जाने पर नेगोशिएबल इंस्ट्रूमेंट एक्ट 1881   की  घारा  148 के तहत  केस दर्ज  किया जाता है जिसमे दोषी व्यक्ति  को  2 साल जेल की सख्त सजा दिये जाने प्रावधान  है।



Cheque Bounce होने पर किनती पैनल्टी लगती है औऱ जुर्माने को लेकर क्या प्रावधान है? 

  • यदि कोई Cheque Bounce  होता है तो सबसे पहले उस पर पूरे ₹ 800 रुपयो  की पेनल्टी  लगती है औऱ
  •  साथ ही  साथ Cheque Bounce  होने पर  चेक  मे दर्ज राशि की दुगुनी राशि  को जुर्माने के तौर पर लगाने जाने का भी प्रावधान है।

Cheque Bounce को किस प्रकार का अपराध माना जाता है?

  • हम, आपको बताना चाहते है कि, चूंकि Cheque Bounce होने पर पूरे 2 साल की Jail का प्रावधान  है जो कि,  7 साल की जेल  की सजा से कम होता है और इसीलिए Cheque Bounce को जमानती अपराध ”  की  श्रेणी  मे  शामिल  किया  जाता है,
  • इसका अर्थ है कि,  अन्तिम फैसला  आने से पहले आपको  जेल  नहीं होगी और
  • अन्त मे, यदि  जेल  हो भी जाती है तो आप ट्रायल कोर्ट के सामने दंड प्रक्रिया संहिता 389(3) के तहत आवेदन करके ” जमानत ”  ले सकते है आदि।

उपरोक्त सभी बिंदुओं  की मदद से हमने  आपको विस्तार से चेक बाऊंस  के बारे मे बताया ताकि आप इसका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सके।

सारांश

आप सभी पाठको  सहित नागरिको को हमने इस आर्टिकल मे विस्तार से ना केवल Cheque Bounce Jail Provision  के बारे मे बताया बल्कि हमने आपको विस्तार से पूरी रिपोर्ट  की  जानकारी प्रदान  की ताकि आप इसका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें तथा

आर्टिकल के अन्त में हम, आपसे उम्मीद करते है कि, आपको हमारा यह  आर्टिकल  बेहद पसंद आय़ा होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को लाईक,शेयर व कमेंट करेगें।

क्विक लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – Cheque Bounce Jail Provision

How long is jail time for bounced cheque?

The Negotiable Instruments Act,1881 applies to the cases related to cheque bounces in India. According to this law, cheque bounces(giving a bounced cheque to someone) is a punishable offence and can cause imprisonment for two years, penalty, or both in some cases.

What is the punishment for cheque bounce case?

Cheque Bounce Law in India In such cases, the offender can be punished with imprisonment up to two years, or with a fine of up to twice the amount of cheque or with both.

Related Posts

Updated: 20/01/2024 — 7:30 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *