Valentine’s Day History In Hindi: जाने क्या है 14 फरवरी के प्रेम दिवस का इतिहास, कब कैसे और कहां से हुई थी इसकी शुरुआत?

जाने इस पोस्ट में क्या क्या है

Valentine’s Day History In Hindi:  क्या आप भी आने वाली 14 फरवरी  के दिन  सरेआम  अपने  प्यार  का  इज़हार  करने वाले है तो   आपकी  हौशला अफजाई  के लिए हम, आपको इस आर्टिकल की मदद से विस्तार से Valentine’s Day History In Hindi  के बारे मे बतायेगे जिसके लिए आपको  ध्यानपूर्वक  इस आर्टिकल को पढ़ना होगा ताकि आप पूरी जानकारी प्राप्त कर सकें।

इस लेख मे हम, आपको ना केवल Valentine’s Day History In Hindi  के बारे मे बतायेगे बल्कि हम, आपको विस्तार से Valentine’s Day  के  महत्व और उसके  मूल अर्थ  के बारे मे बतायेगे जिसके लिए  ध्यापूर्वक इस आर्टिकल को पढ़ना होगा ताकि  आप इस पूरी रिपोर्ट को समझ  सके  तथा

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

Valentine’s Day History In Hindi

आर्टिकल के अन्तिम चरण मे हम, आपको  क्विक् लिंक्स  प्रदान करेगें ताकि आप इसी  प्रकार के आर्टिकल्स को प्राप्त करके इनका लाभ प्राप्त कर सकें।

Read Also – Neet Exam Kya Hai? (NEET Full Form) जानिए परीक्षा पैटर्न, फुल फॉर्म, सिलेबस की पूरी जानकारी

Valentine’s Day History In Hindi – Overview

Name of the Article Valentine’s Day History In Hindi
Type of Article Career
Date of Valentine’s Day Every Year 14th March
Detailed Information of Valentine’s Day History In Hindi Please Read the Article Completely.

जाने क्या है 14 फरवरी के प्रेम दिवस का इतिहास, कब कैसे और कहां से हुई थी इसकी शुरुआत – Valentine’s Day History In Hindi?

आप सभी युवक  – युवतियां जो कि,  बेसब्री  से  14 फरवरी, 2023  के दिन अर्थात् वेलेनटाईन्स डे / प्रेम दिवस  का  इतंजार  कर रहे है उन्हें हम, इस आर्टिकल की मदद से विस्तार से Valentine’s Day History In Hindi  को लेकर तैयार  रिपोर्ट  के बारे में बतायेगे जिसके लिए आपको ध्यानपू्र्वक इस आर्टिकल को अन्त तक पढना होगा जिसके  मुख्य बिंदु  कुछ इस प्रकार से हैं –

Read Also – How to Make Beauty Parlor Certificate? ब्यूटी पार्लर सर्टिफिकेट कैसे बनाएं, जाने पूरी प्रक्रिया

Valentine’s Day History In Hindi – संक्षिप्त परिचय

  • हम,  आप और लगभग हर दूसरा व्यक्ति यह जानता है कि,  14 फरवरी  के दिन  वेलेनटाईन्स डे    मनाया जाता है लेकिन  कुछ ही  नौजवानओं और लोगो  को पता होगा कि,  14 फरवरी  का  बलिदानमय इतिहास  क्या है और इसीलिए हम, आपको  इस आर्टिकल मे ना केवल यह बतायेगें कि, 14 फरवरी के दिन  मनाये जाने वाले प्रेम दिवस  का  इतिहास  क्या है,  प्रेम पत्र  भेजने का  सिलसिला इतिहास  मे  कब शुरु होगा  और साथ ही साथ यह भी जानने का प्रयास करेंगे कि, 14 फरवरी  का  दिन प्यार, इज़़हार और इकरार का दिन कब  बना आदि के बारे मे जानने का प्रयास करेगे जिसके लिए आपको ध्यानपूर्वक इस आर्टिकल को पढ़ना होगा।



Valentine’s Day को लेकर क्या है आम धारणा?

अब हम,  आपको कुछ बिंदुओं की मदद से वेलेंनटाईन डे  को लेकर प्रतचिल आम धारणों  केे बारे में बताते है जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • प्राचीन रोमी सभ्यता  की माने तो 14 फरवरी  के दिन  देवता जूनो  की पूजा की जाती है औऱ प्रचीन रोमी सभ्यता  मे  14 फरवरी  के दिन को  प्यार औऱ  विवाह  का  शुभ दिन माना जाता है,
  • दूसरी  तऱफ  इतिहासकारों  का मानना है कि,  14 फरवरी  के दिन को  संत वेलेंटाईन  की  स्नेहमयी स्मृति  मे मनाय जाता  है औऱ  विश्व  को  प्रेम, प्रेम विवाह और प्रेमपूर्वक वैवाहिक जीवन  का  संदेश  दिया जाता है आदि।

Valentine’s Day History In Hindi – अनसुने और अनजाने रोचक तथ्यों पर एक नज़र

अब हम, आपको विस्तार से  वेलेनटाईन्स डे  के दिन से संबंधित  कुछ अनसुने व अनजाने रोचक तथ्यो  के बारे मे बताना चाहते है जो कि, इस प्रकार से हैं –

वेलेनटाइन डे कार्ड पर तीर – धनुष बनने का जाने ऐतिहासिक तथ्य

Valentine’s Day   के मौके पर या फिर अन्य   प्यार  के  अवसरों  पर  आमतौर  पर  तीर व धनुष  का  चिन्ह  देखने को मिलता है जो कि, केवल  प्रेम की निशानी  नही है बल्कि  इसका  इतिहास  700 ईसा पूर्व, यूनान के  ” इरोस ” नाम प्रेम के देवता  से  जुड़ा  है।

चौथी शताब्दि तक आते – आते रोमन सक्ष्यता  ने,  इसरो  को प्यार का धनुष व तीर  लिये दर्शाया  और इसी का नाम  ” क्यूपिड ”  रखा गया था।



Valentine’s Day पर हर रंग के गुलाब का होता है अलग अर्थ

दूसरी तऱफ हम, आप  सभी पाठको सहित  युवाओं को बताना चाहते है कि, Valentine’s Day  के तहत  भेंट या स्नेहपूर्वक गुलाब दिया जाता है  इसका एक  अलग  अर्थ होता है जैसे कि – लाल गुलाब  को  प्यार  की निशानी के तौर पर, गहरे गुलाबी गुलाब  को  खुशी  की निशानी के तौर पर, बैंगनी / पर्पल गुलाब   को रॉयल्टी  के तौर पर और सफेद गुलाब  को सहानुभूति  के तौर पर  प्रस्तुत   करके  प्यार  का  इज़हार  किया जाता है।

दिल की शेप वाला पहला चॉकलेट का डिब्बा कब और किसने बनाया था?

आपकी जानाकरी के लिए  आपको बताना चाहते है कि,  साल  1861  मे  कैडबरी चॉकलेट  के मालिक ” जॉन कैडबरी ”  ने, सबसे पहले ” दिल शेप / Heart Shape ” वाला चॉकलेट  का डिब्बा बनाया था जो कि, आज तक  प्रचलन  मे  बरकरार  है।

लव वर्ड्स का असल मतलब जानते है  क्या होता है?

आमतौर पर जब  दो प्रेमी  मिलते है तो और एक साथ कहीं – कहीं पर जुगनू की भांति दिखते है तो उसे ही लव वर्ड्स  कहा जाता है लेकिन असल मे  लव वर्ड्स , एक जनजाति के पक्षियो  को कहा जाता है जो कि, अगापोर्निस पक्षियों  का  समूह  होता है और ये  अफ्रीका महाद्धीप  मे पाये जाते है।

इतिहास के झरोखें मे कब, किसने और किसे लिखा था पहला प्रेम पत्र / लव लैटर?

यदि हम,  इतिहार  के  झरोखें  मे  झांके  तो पाते है कि, सबसे पहले  वीलियम शेक्सपीयर  ने, अपनी  प्रेमिका जूलियट  को  प्रेम पत्र  लिखा  था और ये चलन आज भी बरकार है  भले ही  इसमे माध्यम अलग औऱ विचित्र हो गये है लेकन भवना औऱ अहसास वही सदियों पुराने है।



Valentine’s Day का मूल अर्थ और महत्व क्या है?

यहां पर हम,  आपको बताना चाहते है कि, Valentine’s Day  केवल  प्यार  की  निशानी  के तौर पर मनाये जाने वाले  दिन  का  नाम  नहीं है बल्कि Valentine’s Day  एक प्रचानी यूनानी पादरी / प्रीस्ट  का नाम है जिन्होंने  प्रेम विवाह के पक्ष मे पुरजोर बगावत  की थी जिसके पुरस्कार के तौर पर उन्हें  सजा  ए मौत  दी गई थी औ इसीलिए  14 फरवरी  को उनकी याद मे Valentine’s Day  के तौर पर मनाया जाता है औऱ यही इस दिन का मूल अर्थ होता है।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको पूरी  रिपोर्ट  की  जानकारी  प्रदान की ताकि  आप इस पूरी रिपोर्ट का लाभ प्राप्त कर सकें और इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

सारांश

इस आर्टिकल मे हमने आपको विस्तार से ना केवल Valentine’s Day  के बारे मे बताया बल्कि हमने आपको विस्तार से Valentine’s Day History In Hindi  के बारे मे बताया ताकि आप इस दिन के महत्व  को समझ सके औऱ अपने प्यार को याद करके उसका इस्तकबाल कर सके तथा

आर्टिकल के अन्त में हम, आपसे उम्मीद करते है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को  लाईक, शेयर व कमेंट  कर सकते है।

क्विक लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – Valentine’s Day History In Hindi

वैलेंटाइन डे क्यों मनाया जाता है?

वैसे तो वैलेंटाइन डे से जुड़ी कई कहानियां हैं। लेकिन सबसे पहली जानकारी प्राचीन रोमी लोगों से मिलती है। जब वे 14 फरवरी को अपने देवता जूनो की पूजा करते थे। प्राचीन रोमी परंपरा के अनुसार, इस दिन को प्रेम और विवाह के साथ एक पवित्र अवसर के रूप में मनाया जाता था।

14 फरवरी एक प्रेम दिवस क्यों है?

14 फरवरी को संत वैलेंटाइन को फांसी दी गई थी. इसलिए हर साल उनकी याद में ये दिन प्रेम दिवस के रूप में मनाया जाता है.

Related Posts

Updated: 08/02/2024 — 3:00 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *