Self Help Group Registration Process/Eligibility: गांव में नया स्वयं सहायता समूह कैसे बनाएं

Self Help Group Registration: क्या आप भी अपना Self Help Group  खोलकर अपना आत्मनिर्भऱ विकास करना चाहती है और महिला उत्थान की साक्षात प्रतिमा बनना चाहती है तो हमारा यह आर्टिकल आपके लिए है जिसमें हम आपको विस्तार से Self Help Group Registration के बारे में बतायेगे।

आपको बता दें कि, Self Help Group Registration  के लिए आपको कोई शुल्क नहीं देना होगा और एक बार आपके  समूह को स्वयं सहायता समूह का दर्जा प्राप्त हो जायेगा तो आपके समूह को अनेको प्रकार के लाभ व सहायतायें प्रदान की जायेगी जिससे आपका सामाजिक व आर्थिक विकास होगा।

अन्त, Self Help Group Registration से संबंधित सभी जानकारीयो को प्राप्त करने के लिए आपको अन्त तक इस आर्टिकल को पढना होगा ताकि आप इसका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सके।

Self Help Group Registration

Self Help Group Registration – संक्षिप्त परिचय

लेख का नाम Self Help Group Registration
लेख का प्रकार लेटेस्ट अपडेट
कौन बना सकता है ग्रामीण क्षेत्र की सभी इच्छुक महिलायें मिलकर अपना – अपना स्वयं सहायता समूह बना सकती है।
आवेदन शुल्क कोई आवेदन शुल्क नहीं लगेगा।
कहां सम्पर्क करना होगा अपने ब्लॉ के प्रखंड विकास अधिकारी के पास।
self help group registration form कहां से मिलेगा अपने ब्लॉक के प्रखंड विकास अधिकारी के पास।




Self Help Group Registration

हम, अपने इस आर्टिकल मे, ग्रामीण क्षेत्रो की उन सभी महिलाओं का स्वागत करना चाहते है जो कि, अपना  कोई लघु / कुटीर उद्योग शुरु करके  स्वयं सहायता समूह बनाना चाहती है और इसीलिए हम आपको इस आर्टिकल मे, विस्तार से  Self Help Group Registration  के बारे में बतायेगे।

आपको बता दे कि,  स्वयं सहायता समूह को केंद्र सकार व राज्य सरकार के द्धारा मान्यता प्रदान करके उनके लघु / कुटीर उद्योगी  के विकास के लिए पर्याप्त मात्रा में, लाभ प्रदान किया जाता है ताकि समूह की सभी महिलाओं का सतत विकास हो सकें।

अन्त, आप सभी महिलायें  स्वयं सहायता समूह  की पूरी विस्तृत जानकारी प्राप्त  करने के लिए अन्त तक हमारे इस आर्टिकल के साथ बना रहिए ताकि आप इसका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें।

जरुर पढ़े – UP Scholarship 2022-23: छात्रवृत्ति और फीस भरपाई के ऑनलाइन आवेदन की समय सारिणी जारी, जानिए लास्ट डेट

Self Help Group Registration – लाभ?

स्वंय  सहायता समूह से आपको अनेको प्रकार के लाभो की प्राप्ति होती है जैसे कि –

  • Self Help Group   की मदद से ग्रामीण क्षेत्रो की बेरोजगार महिलाओं को रोजगार की प्राप्ति होती है जिससे उनका सामाजिक व आर्थिक विकास होता है,
  • इन Self Help Group  से होने वाली कमाई का लाभ प्राप्त करते हुए हमारी सभी महिलायें  आर्थिक तौर पर आत्मनिर्भर  बनती है,
  • समूह से जुडी महिलाओँ को अनेको प्रकार के लाभ प्रदान किये जाते है,
  • उन्हे राज्य सरकार द्धारा जारी सभी योजनाओँ का लाभ प्रदान किया जाता है और
  • समूह की सभी महिलाओं का सतत व सर्वांगिन विकास सुनिश्चित होता है आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको विस्तार से  स्वयं सहायता समूह  के तहत प्राप्त होने वाले लाभोें के बारे में बताया ताकि आप इनका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें।




Self Help Group Registration – Required Documents and Eligibility?

अपना स्वयं सहायता समूह शुरु करने के लिए आपको कुछ योग्यताओँ व दस्तावेजो की पूर्ति करनी होगी जो कि, इस प्रकार से हैं –

योग्यता

  • समूह में कम से कम 10 से लेकर 15 महिला सदस्य होनी चाहिए,
  • महिलाओ की आयु से कम  18  साल  से अधिक होनी चाहिए आदि।

दस्तावेज

  • समूह की सभी महिलाओं के पास उनका धार कार्ड  होना चाहिए,
  • समूह द्धारा किये जा रहे लघु उद्योगा या फिर कुटीर उद्योग का प्रमाण पत्र होना चाहिए आदि।

अन्त, इस प्रकार कुछ योग्यताओँ व दस्तावेजो की पूर्ति करके आप अपना  – अपना स्वयं सहायता समूह बना सकते है।




Step By Step Process of Self Help Group Registration?

ग्रामीण क्षेत्र की हमारी सभी महिलायें जो कि, अपना  – अपना  स्वयं सहायता समूह  बनाना चाहती है इन स्टेप्स को फॉलो करके बना सकते है जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • Self Help Group Registration  करने के लिए सबसे पहले किसी एक महिला को  कोई लघु उद्योग या फिर कुटीर उद्योग शुरु करना होगा,
  • लघु  व कुटीर उद्योग शुरु करने के बाद आपको  अपने लघु व कुटीर उद्योग से अन्य महिलाओं को जोड़ना होगा जिनकी संख्या कम से कम 10 से लेकर 15 होनी चाहिए,
  • इसके बाद आपको  आपको धीरे – धीरे अपने लघु व कुटीर उद्योग को विकसित करना होगा,
  • जब आपका लघु व कुटीर उद्योग मध्यम स्तर तक विकसित हो जाये तो आपकोअपनी सहयोगी महिलाओं के नाम से किसी भी बैंक मे, एक  संयुक्त बैंक खाता खोलना होगा,
  • इसके बाद आपको अपने ग्रामीण प्रखंड या फिर अनुमंडल स्तर पर  अपने क्षेत्र के विकास अधिकारी से बात करनी होगी आदि।

अन्त, इस प्रकार उपरोक्त सभी स्टेप्स को फॉलो करके आप सभी आसानी से अपना  – अपना  स्वंय सहायता समूह  बना सकते है औऱ इसका लाभ प्राप्त कर सकती है।

सारांश

महिला सशक्तिकरण की दिशा में,  स्वयं सहायता समूह  एक अमूल्य योगदान निभा रहा है और इसीलिए हमने आपको इस आर्टिकल मे, विस्तार से  Self Help Group Registration  के बारे में बताया ताकि आप सभी जल्द से जल्द अपना – अपना  स्वयं सहायता समूह  बना सके और इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

अन्त, हम उम्मीद करते है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक, शेयर व कमेंट करेगे।

महत्वपूर्ण लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’ – Self Help Group Registration

How do I register for self-help group?

Step 1: To register online for the self-help group, you must first click on the link given: https://www.kviconline.gov.in. Step 2: After clicking on the link, you will see a form. You have to fill in all the information in this form carefully. Step 3: Select your state, district, your village and get your SHG code

Are SHGs registered?

SHG is an informal group and registration under any Societies Act, State cooperative Act or a partnership firm is not mandatory vide Circular RPCD.No.

Updated: 09/05/2022 — 2:32 PM

2 Comments

Add a Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.