Medical Coding Course Kaise Kare (2024) – मेडिकल कोडिंग कोर्स कैसे करे? जाने योग्यता, शुल्क और सिलेबस के बारे में सारी जानकारी

Medical Coding Course Kaise Kare: आज के आर्टिकल आप लोग के लिए बहुत ही खास होने वाला है क्योंकि आज हम अलग ही करियर ऑप्शन के बारे में बात करने वाले हैं जिसे देख सब है लेकिन जानते नहीं है।  जिसे हम इस आर्टिकल में विस्तार से बताने वाले हैं।  आज हम बात करने वाले हैं कि Medical Coding Course Kaise Kare और इससे जुड़ी सारी जानकारी को हम विस्तार में आपको बताने वाले हैं तो आप ध्यान पूर्वक आर्टिकल को पढ़ें। 

MEDICAL CODING COURSE KAISE KARE 2024

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

 आप सभी को बताने की आज के दिन में यह करियर काफी ही डिमांडिंग है, आप जरूर देखें होइएगा अगर आप डॉक्टर के पास जाते हैं और बिल या रिपोर्ट का इंतजार करते हैं तो, जो व्यक्ति इन्हें तैयार करता है। उसी को ही हम Medical Coder कहते हैं। इस आर्टिकल में आपको स्टेप टू स्टेप गाइड किया जाएगा।  तो इसमें करियर बनाने के लिए आपको हमारा आर्टिकल लास्ट तक ध्यान पूर्वक पढ़ना है। 

Medical Coding Course Kaise Kare – Overview

Article Name Medical Coding Course Kaise Kare
Article Type Career
qualification 12th
Year 2024
Average Salary 4lakh – 6lakh



मेडिकल कोडिंग कोर्स कैसे करे? जाने योग्यता , शुल्क और सिलेबस के बारे में सारी जानकारी 

 आज के आर्टिकल उन सभी स्टूडेंट के लिए खास होने वाला जो कि, अपना करियर मेडिकल क्षेत्र में बनाने वाले हैं।  तो आज हम ऐसे करियर ऑप्शन के बारे में बात करने वाले हैं जिसे करके आप आसानी से अच्छे खासे पैसे कमा सकते हैं तो आज हम जाने वाले हैं कि Medical Coding Course Kaise Kare और इससे जुड़ी योग्यता शुल्क और सिलेबस के साथ-साथ इसे पूरी विस्तार में हम बताने वाले हैं, तो आप पूरी आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें

Medical Coding Course संक्षिपत मे 

 अगर आप भी 12वीं या डिप्लोमा या फिर ग्रेजुएट कर चुके हैं, तो आप सभी के लिए यह क्षेत्र काफी ही अच्छी होगी अपना करियर बनाने के लिए।  क्योंकि इस स्केल की काफी डिमांड है अभी मार्केट में और इसे करने के बाद अच्छा खासा सैलरी भी दी जाती है इस कोर्स को करने में 9 महीने से 20 महीने तक का समय लगता है जिसे करने के बाद आप आसानी से अच्छे खासे पैसा कमा सकते हैं। 

Read Also..

Medical Coding Course क्या है ?

 आप सभी को बता दे कि आप अपने जीवन में कभी ना कभी डॉक्टर के पास तो गए ही होंगे। जाने के बाद डॉक्टर  बस आपको देखा है उसके बाद आपको रिपोर्ट या बिल के लिए वेट करने के लिए बोलता है। तो Medical Coder का यही काम होता है कि वह अच्छी तरह से आपको एक बिल या फिर रिपोर्ट तैयार करके दे।  जिससे आप कहीं भी इसका used कर सकते हैं जैसे बहुत सारी बीमा कंपनी होती है या फिर सरकारी कंपनी के लिए। Medical Coder हेल्थ केयर उद्योग के  पर्दे के पीछे रखे काम करते हैं। 



Medical Coder कैसे बने ?

 आप सभी को बता दे कि आज के समय में Medical Coder का डिमांड दिन पर दिन बढ़ता ही जा रहा है। अगर आप भी इन क्षेत्रों में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित बातों का ध्यान रखना होगा। 

  •  सबसे पहले अगर आप भी मेडिकल कोडिंग कोर्स करना चाहते हैं तो आपको इस कॉलिंग के बाद डिप्लोमा या Graduation सर्टिफिकेशन कोर्स करनी होगी। 
  •  जिसके लिए आपको एग्जाम पास करनी होगी। 
  •  उसके बाद आपको इस क्षेत्र में अनुभव प्राप्त करनी होगी। 

Medical Coding Course skills

  • ICD-10
  • Cpt coding
  • Microsoft Proficiency
  • customer billing
  • health information technology
  • inpatient coding
  • outpatient coding
  • ICD-9
  • Body structure
  • hcpcs coding
  • Clinical Documents

Medical Coding Course –

  • Advanced ICD-10-CM Code Set Training
  • Advanced Neurology and Neurosurgery Coding Course
  • Behavioral Health Coding Training
  • Dental Billing and Coding with Medical Cross Coding
  • EHR and EMR Specialist Course
  • Anatomy & Physiology
  • Medical Terminology
  • Pathophysiology and Pharmacology
  • CD-10-CM
  • ICD-10-PCS
  • CPT Coding
  • CPT Coding
  • Home Health Coding Course
  • Physical Medicine and Rehabilitation (PMR) Coding
  • Skilled Nursing Facility Coding Course
  • Anatomy & Physiology

Syllabus under Medical Coding Course –

  • Introduction to Medical Terminology
  • Anatomy structure
  • Medical terminology
  • Medical ethics
  • ICD-9-CM Coding Manual
  • Infections Using ICD-9-CM
  • Digestive System Using ICD-9-CM
  • Coding for Pregnancy Using ICD-9-CM
  • CPT Coding for Reproductive System
  • Coding for Medical Disorders Using ICR-9-CM



Medical Coding Fee Structure –

 आप सभी को बता दे कि यह कोर्स 9 महीना से लेकर 20 महीना तक का होता है इसे करने में 20 हजार  से लेकर 2 लाख प्रतिवर्ष के बीच फाई लगा सकती है या फीस उन संस्थान पर निर्भर करता है जिसमें आप एडमिशन लेते हैं

Entrance Examinations –

 अगर आप भी चाहते मेडिकल कोडिंग कोर्स के लिए आवेदन करना तो, अब सभी को इसके लिए प्रवेश परीक्षा देनी होगी जो की निमानलिखित है । 

  • IELTS
  • TOEFL
  • GTEC CBT
  • Duolingo
  • PTE

सैलरी –  

 आप सभी को बता दे कि अगर आप भी Medical Coding Course क्षेत्र में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो शुरुआती दौर में 4 से  6 लाख रुपया सैलरी दी जाती है जिसके बाद आपका अनुभव बढ़ाने के बाद 15 से 17 लाख तक की कमाई आप कर सकते हैं अगर आप इसमें ज्यादा पैसा कमाना चाहते हैं, तो आप विदेश जाकर अच्छी खासी पैसे की कमाई कर सकते हैं। 

सारांश :

 आज के आर्टिकल में हम न केवल Medical Coding Course Kaise Kare के  बारे में ही नहीं बल्कि इससे जुड़ी वह सभी जानकारी योग्यता सैलरी और कोर्स के साथ-साथ Fee Structure के बारे में भी हमने विस्तार से बताया है जिसे पढ़ कर आप आसानी से इसका लाभ उठा सकते हैं। 

 आशा करता हूं कि आज का आर्टिकल आप लोग को बेहद ही पसंद आया होगा तो यह आर्टिकल अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें और आपके मन में कोई सवाल हो तो आप मुझे कमेंट करके पूछ सकते हैं। 

Related Posts

Updated: 07/02/2024 — 9:17 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *