Janani Suraksha Yojana 2022: शादीशुदा महिलाओं के खाते में केंद्र सरकार ट्रांसफर करेगी 3600 रुपये, आप भी फटाफट कर दें अप्लाई, जानिए कैसे?

Janani Suraksha Yojana: यदि आप भी एक गर्भवती माता या बहन है और 1200 से लेकर 2000 रुपयो की आर्थिक सहायता प्राप्त करना चाहती है तो हमारा यह आर्टिकल आपके लिए है क्योंकि हम अपने इस आर्टिकल मे, आपको Janani Suraksha Yojana के बारे में बतायेगे।

जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन के तहत सुरक्षित मातृत्‍व कार्यक्रम है। इसे गरीब गर्भवती महिलाओं में संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देकर मातृत्‍व एवं नवजात मृत्‍यु दर घटाने के उद्देश्‍य से कार्यान्‍वित किया जा रहा है।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

अन्त, हम अपने इस आर्टिकल में आपको विस्तार से Janani Suraksha Yojana, janani suraksha yojana online registration, anani suraksha yojana payment status, janani suraksha yojana benefits, what is janani suraksha yojana?, janani suraksha yojana eligibility?, janani suraksha yojana objectives? की पूरी जानकारी प्रदान करेगे।




Janani Suraksha Yojana 2022

Janani Suraksha Yojana – संक्षिप्त परिचय

मंत्रालय का नाम परिवार व स्वास्थ्य कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार
योजना का नाम Janani Suraksha Yojana ।। जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई)
आर्टिकल का प्रकार सरकारी योजना
कौन आवेदन कर सकता है देश के सभी गर्भवती मातायें व बहन आवेदन कर सकतेी है।
योजना का लाभ ग्रामीण क्षेत्र में गर्भवती महिला को प्रसव होने पर 2000 रुयो की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

शहरी क्षेत्र में गर्भवती महिला को प्रसव होने पर 1200 रुपयो की आर्थिक सहायता प्रदान की  जाती है।

योजना में आवेदन का माध्यम ऑफलाइन 
Official Website Click Here
Official Advertisement Guidelines Of JSY  [505 KB]




what is janani suraksha yojana?

जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई)
जननी सुरक्षा योजना (जेएसवाई) राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन के तहत सुरक्षित मातृत्‍व कार्यक्रम है। इसे गरीब गर्भवती महिलाओं में संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देकर मातृत्‍व एवं नवजात मृत्‍यु दर घटाने के उद्देश्‍य से कार्यान्‍वित किया जा रहा है।
इस योजना की शुरुआत 12 अप्रै, वर्ष 2005 को भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री द्वारा की गई थी। यह योजना कम निष्‍पादन वाले राज्‍यों (एलपीएस) पर विशेष बल के साथ सभी राज्‍यों एवं संघ राज्‍य क्षेत्रों में चल रही है।
जेएसवाई एक 100% केन्द्र प्रायोजित योजना है। यह योजना गर्भावस्‍था के दौरान प्रसूति पूर्व देखभाल, प्रसव के दौरान संस्‍थागत देखभाल तथा प्रसूति उपरांत देखभाल के साथ-साथ नकद सहायता भी प्रदान करती है।
इस योजना के तहत दस कम निष्‍पादन वाले राज्‍यों मुख्यतः आठ ईजी राज्य, असम तथा जम्मू और कश्मीर और शेष एनई राज्यों में सरकार और गरीब गर्भवती महिलाओं के बीच एक प्रभावी कड़ी के रूप में अधिकृत सामाजिक स्वास्थ्य कार्यकर्ता आशा की पहचान की गयी है।
अन्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में, जहाँ एडब्ल्यूडब्ल्यू (आंगनवाड़ी कार्यकर्ता) और टीबीए या आशा जैसे कार्यकर्ता इस उद्देश्य में संलग्न हैं, वे सेवाएं प्रदान करने के लिए इस योजना से जुड़ी हो सकती हैं।

janani suraksha yojana objectives? – प्राथमिक लक्ष्य

यहां पर हम, अपनी सभी गर्भवती माताओं व बहनो को इस कल्याणकारी योजना के लक्ष्यो की जानकारी प्रदान करेगे जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • देश के सभी ग्रामीण / शहरी क्षेत्र की माताओँ व बहनो को प्रसव व गर्भावस्था से संबंधित सभी सुविधाओ प्रदान करना,
  • गर्भवती माताओं व बहनो को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाय प्रदान करना,
  • janani suraksha yojana के तहत गर्भवती माताओ व बहनो को प्रसव पूर्व व प्रसव के बाद दवाओं व चिकित्सा जांच के नि-शुल्क सुविधा प्रदान करना,
  • मातृ व शिशु मृत्यु दर में कटौती करना और
  • देश के सभी गर्भवती माताओं व बहनो का सतत विकास करके उनके उज्जवल भविष्य का निर्माण करना आदि। 

उपरोक्त सभी बिंदुओं की मदद से आपको इस योजना के उद्धेश्यो की पूरी जानकारी प्रदान की।




जेएसवाई की महत्वपूर्ण विशेषताएं – janani suraksha yojana benefits

आइए अब हम, आपको विस्तार से कुछ बिंदुओँ की मदद से इस योजना के तहत प्राप्त होने वाले लाभों व विशेषताओँ की पूरी जानकारी प्रदान करेगे जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • यह योजना गरीब गर्भवती महिला पर ध्यान केंद्रित करती है, जिसके तहत उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, असम, राजस्थान, उड़ीसा और जम्मू-कश्मीर राज्यों में निम्न संस्थागत प्रसव दर है।
  • जबकि इन राज्यों को निम्न प्रदर्शन करने वाले राज्यों (एलपीएस) के रूप में नामित किया गया है तथा शेष राज्यों को उच्च प्रदर्शन करने वाले राज्यों (एचपीएस) के रूप में नामित किया गया है।
  • प्रत्येक गर्भावस्था की निगरानी करना: इस योजना के तहत पंजीकृत प्रत्येक लाभार्थी के पास एक एमसीएच कार्ड के साथ एक जेएसवाई कार्ड होना चाहिए।
  • सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के चिकित्सा अधिकारी और एएनएम की संपूर्ण देखरेख में पहचान की गई संबंधित अधिकृत कार्यकर्ता आशा/एडब्ल्यूब्ल्यू अनिवार्य रूप से विस्तृत जन्म योजना तैयार करेगें। यह प्रभावी रूप से प्रसव पूर्व जांच और प्रसवोत्तर देखभाल की निगरानी में मदद करेगा।
  • नकद आर्थिक सहायता के लिए पात्रता: गरीबी रेखा से नीचे का प्रमाण पत्र- यह सब एचपीएस राज्यों में आवश्यक है और
  • हालांकि, जहां बीपील कार्ड अभी तक जारी नहीं किए गए हैं या अपडेट नहीं किए गए हैं, वहां राज्य/संघ शासित प्रदेश, ग्राम प्रधान या वार्ड सदस्य को अधिकृत करते हुए गरीब और गर्भवती माता के परिवार की ज़रूरतमंद स्थिति के प्रमाणपत्र के लिए एक सरल मानदंड तैयार करेंगे आदि।
अन्त, इस प्रकार हमने आपको विस्तार से कुछ बिंदुओ की मदद से इस योजना के लाभों व विशेषताओँ की पूरी जानकारी प्रदान की।

संस्थागत प्रसव के लिए नकद आर्थिक सहायता के मापदंड –  Janani Suraksha Yojana

श्रेणी ग्रामीण क्षेत्र
एल.पी. एस माता का पैकेज

  • 1400

आशा का पैकेज

  • 600

कुल – 2,000

एच.पी. एस माता का पैकेज

  • 700

आशा का पैकेज

  • 600

कुल – 700

शहरी क्षेत्र
एल.पी. एस माता का पैकेज

  • 1000

आशा का पैके

  • 200

कुल – 1,200

एच.पी. एस माता का पैकेज

  • 600

आशा का पैकेज

  • 200

कुल – 600




janani suraksha yojana eligibility?

आइए अब हम, आप सभी आवेदक माताओ  बहनो को विस्तार से बताते है कि, उन्हे इस योजना में आवेदन करने के लिए किन योग्यताओँ की जरुरत होगी जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • सभी गर्भवती मातायें व बहने, भारत के शहरी व  ग्रामीण क्षेत्रो की मूल निवासी होनी चाहिए,
  • आवेदक माताओ व बहनो की आयु 18 साल से अधिक होनी चाहिए,
  • देश की हमारी जो गर्भवती मातायें  व बहने, गरीबी रेखा  से नीचे आती है आवेदन कर सकती है आदि।

अन्त, इस प्रकार हमारी सभी गर्भवती मातायें व बहने इस योजना मे, आवेदन कर सकती है और इसका लाभ प्राप्त कर सकती है।

Janani Suraksha Yojana

Required Documents For जननी सुरक्षा योजना ?

हमारी सभी गर्भवती माताओँ व बहनो को Janani Suraksha Yojana में आवेदन करने के लिए कुछ दस्तावेजो की पूर्ति करनी होगी जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • आवेदक, गर्भवती माता व बहन का आधार कार्ड,
  • मूल व स्थायी निवास प्रमाण पत्र,
  • BPL Ration Card,
  • जननी सुरक्षा कार्ड,
  • आवेदक माता व बहन के पास सरकारी अस्पताल द्धारा जारी प्रसव प्रमाण पत्र,
  • बचत बैंक खाता पाबुक,
  • चालू मोबाइन नंबर औऱ
  • पासपोर्ट साइज फोटो आदि।

अन्त, उपरोक्त सभी दस्तावेजो की पूर्ति करके हमारी सभी गर्भवती मातायें व बहने इस योजना मे, आवेदन कर सकती है।

How to Apply in Janani Suraksha Yojana?

देश की हमारी सभी गर्भवती मातायें व बहने इस कल्याणकारी योजना में आवेदन करना चाहती है इन स्टेप्स को फॉलो करके इस योजना मे, आवेदन कर सकती है जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • Janani Suraksha Yojana में आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाना होगा,
  • वहां से आपको Janani Suraksha Yojana हेतु जारी एप्लीकेशन फॉर्म को प्राप्त करना होगा,
  • अब आपको इस एप्लीकेशन फॉर्म को ध्यान से भरना होगा,
  • मांगे जाने वाले सभी दस्तावेजो की छायाप्रतियो को ध्यानपूर्वक इसके साथ अटैच करना होगा और
  • अन्त मे, आपको अपने इस एप्लीकेशन फॉर्म को उसी स्वास्थ्य केद्र में जमा करवा देना होगा और इसकी रसीद प्राप्त कर लेेनी होगी आदि।

अन्त, इस प्रकार हमारी सभी गर्भवती मातायें व बहने आसानी से इस योजना में आवेदन कर सकती है और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकती है।




निष्कर्ष

भारत सरकार द्धारा देश की सभी गर्भवती माताओं और बहनो के बेहतर स्वास्थ्य व उज्ज्वल भविष्य के लिए जारी Janani Suraksha Yojana की पूरी जानकारी और पूरी आवेदन प्रक्रिया की जानकारी हमने आपको इस आर्टिकल में विस्तार से प्रदान की ताकि आप सभी गर्भवती मातायें व बहने इस योजना मे जल्द से जल्द आवेदन करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।

अन्त, हम उम्मीद व आशा करते है कि, आप सभी गर्भवती माताओ व बहनो को हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक करेगे, शेयर करेगे और अपने विचार व सुझाव भी कमेंट करके सांक्षा करेंगे।

Janani Suraksha Yojana – महत्वपूर्ण लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here
Official Website Click Here

FAQ’s – Janani Suraksha Yojana

What is the benefit of Janani Suraksha Yojana?

JananiSurakshaYojana (JSY) is a safe motherhood intervention under the National Health Mission. It is being implemented with the objective of reducing maternal and neonatal mortality by promoting institutional delivery among poor pregnant women.

What is Janani Suraksha Yojana scheme?

JANANI SURAKSHA YOJANA (JSY) Janani Suraksha Yojana (JSY) is a safe motherhood intervention under the. National Rural Health Mission (NRHM) being implemented with the objective of. reducing maternal and neo-natal mortality by promoting institutional delivery among. the poor pregnant women.

WHO launched Janani Suraksha Yojana?

The Yojana, launched on 12th April 2005, by the Hon'ble Prime Minister, is being implemented in all states and UTs with special focus on low performing states. JSY is a 100 % centrally sponsored scheme and it integrates cash assistance with delivery and post-delivery care.

Who are eligible for Janani Suraksha Yojana?

All pregnant women categorized under Below Poverty Line (BPL) households, residing in rural as well as urban areas. Monetary assistance can be availed only by pregnant women of the age of 19 years and above. Women below 19 years cannot register themselves under Janani Suraksha Yojana.

Updated: 08/02/2022 — 2:51 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published.