Anganwadi Message Alert Service: सरकार की नई सर्विस हुई शुरू, अब मोबाइल पर आएगा आंगनवाड़ी राशन का मैसेज

Anganwadi Message Alert Service: आंगनबाड़ी केंद्र पर बच्चों और महिलाओं को कई प्रकार की सामग्री दी जाती है। बच्चों के पोषण संबंधी जरूरत को पूरा करने के लिए सरकार विशेष प्रकार की राशन सामग्री भेजती है। लेकिन कई बार आंगनबाड़ी केंद्र पर सामग्री आने के बाद सभी को इसके बारे में सूचना नहीं मिल पाती है। इसी समस्या को ध्यान में रखकर अब जिला कार्यक्रम विभाग की तरफ से एक नई सर्विस को शुरू किया जा रहा है।

BiharHelp App

ANGANWADI MESSAGE ALERT SERVICE

इस सर्विस के अंतर्गत जो बच्चे आंगनबाड़ी केंद्र पर जाते हैं उनके माता-पिता को मोबाइल पर मैसेज पहुंचेगी जिसमें बताया जाएगा कि राशन आंगनबाड़ी केंद्र पर आ गया है तो अपने बच्चों को साथ ले जाएं और राशन लेकर आए। अगर आपके भी बच्चे आंगनबाड़ी केंद्र पर जाते हैं तो यहां पर दी गई यह जानकारी आपके लिए काफी उपयोगी साबित होगी इसीलिए इसे पूरा पढ़े।

Anganwadi Message Alert Service – Overview

Name of the  Article Anganwadi Message Alert Service
Type of Article Latest Update
Who is Beneficiaries All Indians
Detailed Information of Anganwadi Message Alert Service? Read The Article

राशन नहीं मिलने की शिकायतों की वजह से शुरू हुई सर्विस

आंगनबाड़ी केंद्र पर तरह-तरह की राशन और पोषाहार बाल एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा दिए जाते हैं। ब्लॉक और गांव स्तर पर आंगनबाड़ी केंद्र पर इनका वितरण करवाया जाता है लेकिन जिन लाभार्थी बच्चों, माता, बहनों को इस योजना का लाभ मिलना चाहिए वह नहीं मिल पाता है।




बहुत सारी जगह से किसी भी प्रकार का राशन नहीं मिलने की शिकायतें मिल रही थी। इस समस्या के लिए विभाग ने एक समाधान निकाला है जिसके अंतर्गत आप सभी आंगनबाड़ी केंद्र पर आने वाले बच्चों के अभिभावकों को उनके मोबाइल नंबर पर मैसेज के माध्यम से अलर्ट दिया जाएगा। जिससे वह राशन लेने के लिए समय पर आंगनबाड़ी केंद्र पहुंच सके।

Read Also..

ऐसा मैसेज भेजने की शुरुआत बुलंदशहर जिले से की जा चुकी है। जिससे धीरे-धीरे बाकी जिलों में भी लागू किया जा रहा है। अगर यह प्रोजेक्ट सफल रहता है तो पूरे भारत स्तर पर इसे लागू किया जाएगा। इसके लिए आंगनबाड़ी केंद्र पर काम कर रही कार्यकर्ताओं को, लाभार्थियों का मोबाइल नंबर रजिस्टर करना होगा। इसके बाद पोर्टल के माध्यम से उस मोबाइल नंबर पर राशन आने का मैसेज समय-समय पर आता रहेगा। ताकि अभिभावक अपने बच्चों के लिए जरूरी राशन प्राप्त कर सकें।

आंगनबाड़ी पोर्टल पर अपडेट करनी होगी यह डिटेल

बुलंदशहर जिले के अंदर इस योजना की शुरुआत की गई है। जिसके अंतर्गत 16 ब्लॉक और 3900 आंगनबाड़ी केन्द्रों को शामिल किया गया है। यहां पर चार लाख 16 हजार बच्चे आंगनबाड़ी केंद्र पर पंजीकृत है जिनके अभिभावकों का नाम आधार नंबर और फोन नंबर पोर्टल पर रजिस्टर किए गए हैं। जिसके बाद पोर्टल के माध्यम से किसी भी प्रकार का राशन आंगनबाड़ी केंद्र पर आने पर इनको मैसेज के माध्यम से सूचना मिल रही है। 




इस सर्विस के अंदर अभी तक जितने अभिभावकों का रजिस्ट्रेशन किया गया है उसमें से 83% अभिभावकों के पास राशन संबंधी मैसेज समय पर पहुंच रहे हैं। राशन वितरण के बाद में इस पूरी प्रक्रिया की मॉनिटरिंग होती है। अगर किसी भी आंगनबाड़ी केंद्र पर राशन नहीं मिलता है तो इसके बारे में अभिभावकों को अवगत करवाना होगा

सारांश

अगर आप किसी भी प्रकार से आंगनबाड़ी केंद्र से जुड़े हुए हैं तो यह दी गई जानकारी आपको जरूर पसंद आई होगी। आपके बच्चे अगर आंगनबाड़ी केंद्र पर विजिट करते हैं तो यह सूचना आपके लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। उम्मीद करते हैं कि आर्टिकल आपको पसंद आया होगा अगर ऐसा है तो इसे लाइक शेयर जरूर करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *