What Is Article 370: क्या है अनुच्छेद 370, सुप्रीम कोर्ट मे क्यूं हो रही है बहस, कश्मीर मे 370 का क्या मतलब है? जाने क्या है पूरी रिपोर्ट?

What Is Article 370:  क्या आप भी आर्टिकल 370 को लेकर जारी  न्यू अपेड्टस और पूरी रिपोर्ट  को जानना चाहते है तो हमारा  यह आर्टिकल केवल औऱ केवल आपके लिए है जिसमें हम, आपको विस्तार से What Is Article 370  के बारे में बतायेगे जिसके लिए आपको  ध्यानपूर्वक इस लेख को पढ़ना होगा ताकि आप पूरी – पूरी जानकारी प्राप्त कर सकें।

दूसरी तरफ हम, आपको बता देना चाहते है कि, What Is Article 370  कोे लेकर  शुरु से लेकर अब तक हुए सभी घटनाओं  के बारे मे हम, आपको बताने का प्रयास करेगे जिसके लिए आपको अन्त तक हमारे साथ बने रहना होगा ताकि आप पूरी जानकारी प्राप्त कर सकें तथा

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

लेख के अन्तिम चरण मे हम, आपको  क्विक लिंक्स  प्रदान करेगें ताकि आप आसानी से इसी  प्रकार के आर्टिकल्स को प्राप्त करके  इनका लाभ  प्राप्त कर सकें।

What Is Article 370

What Is Article 370 : Overview

Name  the Judicial Authority Supreme Court of India
Name of the Article What Is Article 370?
Type of Article Latest Update
Detailed Information Please Read the Article Completely.



क्या है अनुच्छेद 370, सुप्रीम कोर्ट मे क्यूं हो रही है बहस, जाने क्या है पूरी रिपोर्ट – what is article 370 verdict?

इस लेख मे हम, आप सभी पाठको सहित  राजनीतिक विज्ञान  के आप सभी  स्टूडेंट्स  का  हार्दिक स्वागत  करना चाहते है औऱ  आपको अपने इस लेख की मदद से What Is Article 370   को लेकर तैयार  रिपोर्ट  के बारे में बतायेगें जो कि, इस प्रकार से हैं –

Read Also – 

Latest Update Article 370 Verdict In Hindi

  • यहां पर हम,  आपको बता देना चाहते है कि,  केंद्र सरकार  ने,  जम्मू कश्मीर  को  मिले विशेष दर्जे  हटाने के लिए  आर्टिकल  370  को हटाने का  निर्णय  लिया था,
  • इसी संदर्भ मे,  सुप्रीम कोर्ट  ने,  फैसला  सुनात  हुए  केंद्र सरकार  के  हित  मे  फैसला  सुनाते हुए  केंद्र सरकार के  फैसले   बरकार  रखा है  और
  • अन्त में, इस प्रकार  जल्द ही जम्मू व कश्मीर  से विशेष दर्जा हटाने के लिए  जल्द ही अनुच्छे  370  को  हटा  दिया जायेगा।

Meaning Of Article 370

  • वर्तमान समय में  चारों  तरफ और  राजनीति  के हर गलियारे   में  आर्टिकल  370  की  चर्चा  हो रही है लेकिन क्या आप जानते है कि, What Is Article 370   क्या है यदि नहीं है तो हम,  आपको बता देना चाहते है कि,  अनुच्छेद  370  भी  भारतीय संविधान  के अन्य  अनुच्छेदों  की भांति ही एक  अनुच्छेद  है जिसके तहत  जम्मू व कश्मीर  को  ” विशेष दर्जा ”  दिया गया था।



Article 370 को हटाने की प्रक्रिया – एक नज़र

  • जम्मू व कश्मीर  को  विशेष दर्जा  दिलाने वाले Article 370 को हटाने की प्रक्रिया बेहद जटिल औऱ पेचीदा  साबित हुई है,
  • Article 370  को हटाने हेतु   05 अगस्त, 2019  को  राष्ट्रपति  ने, आदेश  जारी किया था,
  • इसके बाद  संविधान  मे  संधोधन किया गया है औऱ यह व्यवस्था की गई कि,  अन्य राज्यों  की भांति ही  जम्मू व कश्मीर  मे भी  विधानसभा होगी,
  • इसके बाद आपको बता देना चाहते है कि, 9 अगस्त को संसद ने राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू और कश्मीर और लद्दाख में बांटने वाला एक क़ानून पारित किया  और
  • अन्त में, हम आपको बताना चाहते है कि, जम्मू-कश्मीर में विधानसभा होगी, लेकिन लद्दाख में नहीं होगी आदि।

Article 370 को हटाने के क्या परिणाम सामने आये?

आर्टिकल  370  को  हटाना  काफी जटिल काम रहा जिसके कई  दुष्परिणाम  सामने आये है जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • 05 अगस्त, 2019  के दिन जब  राष्ट्रपति  ने , Article 370 को हटाने का  आदेश  जारी किया था उसी दिन से जम्मू व कश्मीर  मे लॉक – डाउन लगा दिया गया था,
  • तत्काल  प्रभाव से टेलीफोन व इन्टरनेट सेवायें  बंद कर दी गई थी,
  • Article 370  को हटाने का विरोध कर रहे  हजारों नेताओँ को  या हिरासत  मे लिया गया था या फिर  नज़रबंद कर  दिया गया था,
  • जनवरी, 2020  मे जाकर  2G Internet Service  को शुरु किया गया औऱ
  • पूरे  जम्मू व कश्मीर  मे  फरवरी, 2021  को  4G Internet Service   को शुरु किया गया था आदि।

Supreme Court Assistant Result 2023

कश्मीर मे 370 का क्या मतलब है?

  • अकले  कश्मीर  मे ही नहीं बल्कि  जम्मू और कश्मीर  मे  आर्टिकल  370  होने का  मतलब  है कि,  पूरे जम्मू व कश्मीर  को विशेष दर्जा  प्राप्त होग, उनका अपना एक संविधान होगा जिसके अनुसार,  पूरे  जम्मू – कश्मीर  का संचालन किया जायेगा।



What is Article 370 Verdict By Supreme Court

  • Article 370  को लेकर  सुप्रीम कोर्ट  मे  सुनवाई  के दौरान सुप्रीम कोर्ट  ने जो कुछ कहा उसे यहां पर प्रस्तुत करना उचित नहीं है क्योंकि यह मामला बेहद संवेदनशील  है और  मामले की संवेदनशील गंभीरता  को देखते हुए हम, इतना ही कह सकते है कि, Article 370  को लेकर  सुप्रीम कोर्ट  ने ,  केंद्र सरकार  के  फैसले  को  बरकरार / सुरक्षित  रखा है।

आर्टिकल  370 हटाने से क्या होगा?

  • हम, आपको  साफ तौर  पर बता देना चाहते है कि, Article 370  को  जम्मू – कश्मीर  से हटाने के बाद  उनको मिले  ” विशेष दर्जे  ”  की  व्यवस्था  को त्म  कर दिया जायेगा जिसके बाद  जम्मू व कश्मीर  मे भी  भारत का संविधान  लागू होगा औऱ  जम्मू व कश्मीर  भी  भारत  के  अन्य राज्यों  के भांति एक  सामान्य राज्य  होगा।

कश्मीर में अनुच्छेद 370 क्यूं लगाया गया था?

  • तत्कालीन राजनीतिक दलो द्धारा  कश्मीरी जनता  के  हितो  की  सुरक्षा  और  जम्मू – कश्मीर  की  सम्प्रभुता  को   बरकरार  रखने के लिए Article 370  का लगाया गया था जिसके तहत  पूरे जम्मू – कश्मीर  को  ” विशेष दर्जा ”  दिया गया था आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको  पूरी  रिपोर्ट  प्रदान की ताकि आप इस रिपोर्ट  का पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें।

सारांश

हमारे सभी युवा व पाठक  जो कि,  Article 370  के बा्रे में  जानना चाहते थे उन्हें हमने इस लेख में विस्तार से यह बताया कि, What Is Article 370  और सुप्रीम कोर्ट  द्धारा सुनायें गये  फैसले के बारे में बताया ताकि आप  इस  रिपोर्ट  का पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें तथा

लेख के अन्तिम चरण मे हम, आपसे उम्मीद करते है कि,  आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस  आर्टिकल को  लाईक, शेयर व कमेंट करेगे।

क्विक लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – What Is Article 370

What is Article 370 says?

“Article 370 was an interim arrangement due to war conditions in the state,” Chief Justice DY Chandrachud said, referring to the provision in the Indian Constitution that provided the special status after Muslim-majority Kashmir's Hindu ruler signed an agreement in 1947 to join India.

Why Article 370 is removed in Jammu and Kashmir?

Union Home Minister Amit Shah recently said in Lok Sabha that Article 370 was the foundation of secessionist sentiment in the erstwhile state of Jammu and Kashmir, and suggested that its abolition had cleared the way for end of terrorism in the Valley.

Related Posts

Updated: 12/12/2023 — 4:14 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *