Top 5 Free Money Making Government Scheme: New Government Scheme | Government Of India | Schemes

Top 5 Free Money Making Government Scheme:  क्या आप भी घर बैठे – बैठे पैसे बनाना चाहते है तो हमारा यह आर्टिकल केवल आपके लिए है जिसमें हम आपको विस्तार से Top 5 Free Money Making Government Scheme  के बारे में बतायेगे।

इन योजनाओं की मदद से ना केवल आप पैसा बना सकते है बल्कि अपना – अपना सामाजिक व आर्थिक विकास भी कर सकते है औऱ एक बेहतर जीवन जी सकते है व इसीलिए हम आपको इस योजना की पूरी – पूरी जानकारी प्रदान करेगे।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

आर्टिकल के अन्त में हम आपको क्विक लिंक्स प्रदान करेगे ताकि आप इसी प्रकारे अन्य आर्टिकल को प्राप्त रक पायें।

Top 5 Free Money Making Government Scheme

Top 5 Free Money Making Government Scheme – Overview

Name of the Article Top 5 Free Money Making Government Scheme
Type of Article Latest Update
Subject of Article Full Information of Top 5 Money Making Schemes
Mode of Application Online + Offline




Top 5 Free Money Making Government Scheme

अपने इस आर्टिकल मे, आप सभी युवाओं व पाठको का स्वागत करते हुए हम आपको विस्तार से Top 5 Free Money Making Government Scheme  के बारे मे बताना चाहते है जिसके लिए आपको अन्त तक इस आर्टिलक को पढ़ना होगा।

आपको बता दे कि बताये जाने वाली 5 योनाओं में आप सभी को ऑफलाइन व ऑनलाइन माद्यम से आवेदन करना होगा औऱ इसीलिए हम आपको इस योजना की पूरी – पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते है और इसका लाभ प्राप्त कर सकते है।

आर्टिकल के अन्त में हम आपको क्विक लिंक्स प्रदान करेगे ताकि आप इसी प्रकारे अन्य आर्टिकल को प्राप्त रक पायें।

Reads Also – LNMU Part 2 Result 2019-22: यहाँ Direct link से देखें | How to Check LNMU Part 2 Result 2022?

Complete Information of Top 5 Free Money Making Government Scheme?

आइए अब हम आपको विस्तार से  पैसा बनाने वाले 5 अलग – अलग सरकारी योजनाओं  के बारे मे बताते है जो कि, इस प्रकार से हैं –

स्टैंड-अप इंडिया

संक्षिप्त विवऱण

  • बैंक ऋण की सुविधा के साथ विनिर्माण सेवाओं, व्यापार क्षेत्र आदि में ग्रीनफील्ड परियोजना उपक्रम स्थापित करने के लिए एस.सी./एस.टी. और/या महिला उद्यमियों के वित्तपोषण हेतु वित्त मंत्रालय की एक योजना।
  • ग्रीनफील्ड उपक्रम स्थापित करने के लिए प्रति बैंक शाखा से न्यूनतम एक अनुसूचित जाति (एस.सी.) या अनुसूचित जनजाति (एस.टी.) ऋणकर्ता और न्यूनतम एक महिला ऋणकर्ता को ₹10 लाख से ₹1 करोड़ तक के बैंक ऋण प्रदान करने में सुगमता इस योजना का उद्देश्य है। यह उपक्रम विनिर्माण, सेवाओं या व्यापारिक क्षेत्र में हो सकता है।
  • गैर-व्यक्तिगत उपक्रम के मामले में न्यूनतम 51% शेयरधारिता एवं नियंत्रण भागीदारी एस.सी./एस.टी. या महिला उद्यमी की होनी चाहिए।

लाभ

  • ₹10 लाख से लेकर ₹100 लाख तक के कम्पोजिट ऋण (सावधि ऋण एवं कार्यशील पूंजी सहित) के लिए सुगमता। ऋणकर्ता की सुविधा के लिए रुपे डेबिट कार्ड जारी किया जाएगा।
  • प्रशिक्षण, कौशल विकास, परामर्श, परियोजना रिपोर्ट तैयार करने, आवेदन भरने, वर्क शेड/उपयोगिता सहायता सेवाओं, सब्सिडी योजनाओं आदि में संलग्न एजेंसियों के नेटवर्क के माध्यम से सिडबी का वेब पोर्टल सहायता प्रदान करता है।

पात्रता

  • आवेदक उद्यमि ही होनी चाहिए।
  • यदि आवेदक पुरुष है तो उसे एस.सी./एस.टी. श्रेणी से होना चाहिए।
  • आवेदक की न्यूनतम आयु 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक किसी बैंक/वित्तीय संस्थान के लिए भुगतानचूककर्ता नहीं होना चाहिए।




मांगे जाने वाले दस्तावेज

  • पहचान प्रमाणपत्र : मतदाता पहचान पत्र / पासपोर्ट / ड्राइविंग लाइसेंस / पैन कार्ड / मालिक के वर्तमान बैंकरों, निदेशक के भागीदार (यदि कोई कंपनी है) से हस्ताक्षर की पहचान)
  • निवास का प्रमाण: हाल के समय का टेलीफोन बिल, बिजली बिल, प्रोपराइटर , निदेशक का भागीदार (यदि कोई कंपनी है) का संपत्ति कर की रसीद / पासपोर्ट / मतदाता पहचान पत्र
  • व्यापार पते का प्रमा
  • प्रमाण जो बताता है कि आवेदक किसी बैंक/वित्तीय संस्थान में डिफाल्टर नहीं ह
  • कंपनी के ज्ञापन और संस्था के अंतर्नियम/भागीदारों का भागीदारी विलेख आदि।
  • नवीनतम आयकर विवरणी के साथ प्रमोटरों और गारंटरों की परिसंपत्ति और देयताओं का विवरण।
  • मकान किराया अनुबंध (रेंट एग्रीमेंट) (यदि व्यावसायिक परिसर किराए पर है) और यदि लागू हो तो प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड से मंजूरी।
  • एसएसआई / एमएसएमई पंजीकरण (यदि लागू हो)
  • कार्यशील पूंजी सीमा के मामले में अगले दो वर्षों के लिए और सावधि ऋण के मामले में ऋण की अवधि के लिए अनुमानित तुलन-पत्र।
  • प्राथमिक और संपार्श्विक प्रतिभूतियों के रूप में दी जा रही सभी परिपत्तियों के पट्टा विलेख /हकदारी विलेख की छायाप्रति।
  • वे दस्तावेज जिससे यह साबित हो कि आवेदक अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति वर्ग से संबंधित है, जहां कहीं लागू हो।
  • आरओसी से निगमन का प्रमाण पत्र साबित हो सके कि कंपनी में बहुमत हिस्सेदारी एससी / एसटी / महिला वर्ग से संबंधित व्यक्ति के हाथ में है या नहीं।

आवेदन प्रक्रिया

प्रक्रिया:
  1. सबसे पहले, स्टैंडअप इंडिया के आधिकारिक पोर्टल पर जाएं: https://www.standupmitra.in/Login/Register
  2. व्यवसाय के अवस्थान का पूर्ण विवरण भरें।
  3. एस.सी., एस.टी., महिला के बीच श्रेणी का चुनें और यह कि क्या भागीदारी 51% या इससे अधिक है।
  4. प्रस्तावित व्यवसाय की प्रकृति; ऋण राशि, व्यवसाय का अपेक्षित विवरण, परिसर का विवरण आदि चुनें।
  5. विगत व्यावसायिक अनुभव तथा कार्यावधि वाले फील्ड भरें।
  6. आवश्यक हैंड-होल्डिंग की ज़रूरत चुनें।
  7. समस्त वांछित व्यक्तिगत विवरण भरें, जिसमें उपक्रम का नाम एवं अंतर्नियक सम्मिलित हैं।
  8. अंत में, प्रक्रिया पूरी करने के लिए रजिस्टर बटन चुनें।
पंजीकरण पूरा कर लेने पर आप संबंधित वित्तीय संस्थान में स्टैंडअप इंडिया के अंतर्गत ऋण आवेदन प्रक्रिया शुरू करने के लिए पात्र होते हैं, जिसके पश्चात स्टैंडअप इंडिया की ऋण प्रक्रिया एवं आवश्यक औपचारिकताएं पूरी करने के लिए अधिकारी आपसे संपर्क करते हैं।



प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना

विशेषता

  • पीएम-जेएवाई दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा/आश्वासन योजना है, जिसे पूरी तरह से सरकार द्वारा वित्तपोषित किया जाता है।
  • यह भारत में सार्वजनिक और निजी पैनल में शामिल अस्पतालों में माध्यमिक और तृतीयक देखभाल अस्पताल में भर्ती होने के लिए प्रति वर्ष प्रति परिवार 5 लाख रुपये का कवर प्रदान करता है।
  • 10.74 करोड़ से अधिक गरीब और कमजोर हकदार परिवार (लगभग 50 करोड़ लाभार्थी) इन लाभों के लिए पात्र हैं।
  • पीएम-जेएवाई सेवा के बिंदु पर लाभार्थी के लिए स्वास्थ्य देखभाल सेवाओं तक कैशलेस पहुंच प्रदान करता है, अर्थात्, अस्पताल।
  • पीएम-जेएवाई ने चिकित्सा उपचार पर भयावह व्यय को कम करने में मदद करने की परिकल्पना की है जो हर साल लगभग 6 करोड़ भारतीयों को गरीबी में धकेलता है।
  • यह अस्पताल में भर्ती होने से पहले के 3 दिनों तक और अस्पताल में भर्ती होने के बाद के 15 दिनों के खर्च जैसे कि निदान और दवाओं को कवर करता है।
  • परिवार के आकार, उम्र या लिंग पर कोई प्रतिबंध नहीं है।
  • पहले से मौजूद सभी शर्तें पहले दिन से कवर की जाती हैं।
  • योजना के लाभ पूरे देश में पोर्टेबल हैं अर्थात लाभार्थी कैशलेस उपचार का लाभ उठाने के लिए भारत में किसी भी सार्वजनिक या निजी अस्पताल में जा सकता है।
  • सेवाओं में उपचार से संबंधित सभी लागतों को कवर करने वाली लगभग 1,393 प्रक्रियाएं शामिल हैं, जिनमें दवाएं, आपूर्ति, नैदानिक सेवाएं, चिकित्सक की फीस, कमरे का शुल्क, सर्जन शुल्क, ओटी और आईसीयू शुल्क आदि शामिल हैं, लेकिन यह इन्हीं तक सीमित नहीं है।
  • सरकारी अस्पतालों को स्वास्थ्य सेवाओं के लिए निजी अस्पतालों के बराबर प्रतिपूर्ति की जाती है।

लाभ

  • अस्पताल में भर्ती होने के बाद 15 दिनों तक अनुवर्ती देखभाल
  • पैनल में शामिल स्वास्थ्य देखभाल प्रदाताओं (ईएचसीपी) के नेटवर्क के माध्यम से द्वितीयक और तृतीयक देखभाल अस्पताल में भर्ती होने के लिए प्रति वर्ष प्रति परिवार प्रति वर्ष 5,00,000 रुपये तक का स्वास्थ्य कवरेज।
  • इस योजना में उपचार के निम्नलिखित घटकों पर किए गए सभी खर्चों को शामिल किया गया है।
  • चिकित्सा परीक्षा, उपचार और परामर्श
  • अस्पताल से पहले भर्ती
  • दवा और चिकित्सा उपभोज्य वस्तुएँ
  • गैर-गहन और गहन देखभाल सेवाएं
  • नैदानिक और प्रयोगशाला जांच
  • चिकित्सा प्रत्यारोपण सेवाएं (जहां आवश्यक हो)
  • आवास लाभ
  • खाद्य सेवाएं
  • उपचार के दौरान उत्पन्न होने वाली जटिलताएं
  • पहले से मौजूद बीमारियों को पहले ही दिन से कवर किया जाता है

पात्रता

ग्रामीण क्षेत्रों के लिए

  • जिन परिवारों में कच्ची दीवारों और कच्ची त के साथ केवल एक कमरा है;
  • जिन परिवारों में 16 से 59 वर्ष की आयु के बीच कोई वयस्क सदस्य नहीं है;
  • 16 से 59 वर्ष की आयु के बीच कोई वयस्क पुरुष सदस्य के साथ महिला मुखिया वाले परिवार;
  • परिवार में दिव्यांग सदस्य और कोई भी सक्षम शारीरिक वयस्क सदस्य नहीं है;
  • एससी/एसटी परिवार;
  • भूमिहीन परिवार अपनी आय का बड़ा हिस्सा शारीरिक अस्थिर श्रम से प्राप्त करते हैं,
  • ग्रामीण क्षेत्रों में परिवार जिनमें निम्न में से कोई एक है: आश्रय रहित घर, निराश्रित, भिक्षा पर जीवनयापन करने वाले, हाथ से मैला ढोने वाले परिवार, आदिम आदिवासी समूह, कानूनी रूप से मुक्त बंधुआ मजदूर।

शहरी क्षेत्रों के लिए

  • कचरा बीनने वाला
  • भिखारी
  • घरेलू नौकर
  • स्ट्रीट वेंडर/मोची/हॉकर/सड़कों पर काम करने वाले अन्य सेवा प्रदाता
  • निर्माण श्रमिक / प्लंबर / राजमिस्त्री / मजदूर / पेंटर / वेल्डर / सुरक्षा गार्ड / कुली और अन्य हेड-लोड मजदूर
  • स्वीपर/सफाई कर्मचारी/ माली
  • घर पर काम करने वाला/कारीगर/हस्तशिल्प कामगार / दर्जी
  • परिवहन कर्मचारी/चालक/कंडक्टर/हेल्पर से ड्रावर और कंडक्टर/गाड़ी खींचने वाला/रिक्शा चालक
  • दुकान कर्मचारी/सहायक/छोटे प्रतिष्ठान में चपरासी/सहायक/वितरण सहायक/अटेंडेंट/वेटर
  • इलेक्ट्रीशियन / मैकेनिक / असेंबलर / मरम्मत कर्मचारी
  • धोबी/चौकीदार




मांगे जाने वाले दस्तावेज

  • अस्पताल में भर्ती होने के समय लाभार्थी को अपना पीएमजेएवाई कार्ड एक आईडी प्रूफ (वोटर आईडी / पैन कार्ड / लाइसेंस आदि) के साथ दिखाना होगा।

आवेदन प्रक्रिया

  • यह देखने के लिए कि क्या आप लाभार्थी हैं, आप login कर सकते हैं https://mera.pmjay.gov.in/search/login अपने मोबाइल नंबर का उपयोग करके।
  • आपको योजना के तहत लाभ का दावा करने के लिए कहीं भी नामांकन करने की आवश्यकता नहीं है।
  • योजना के तहत लाभ का दावा करने के लिए आप निकटतम सूचीबद्ध अस्पताल या सामुदायिक सेवा केंद्र (सीएससी) में खुद की पहचान करवा सकते हैं

प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

विवरण

  • पूर्व शिक्षा की मान्यता (आरपीएल) भारतीय युवाओं को उद्योग से संबंधित कौशल प्रमाणन प्राप्त करने में सक्षम बनाने के लिए एक कौशल प्रमाणन घटक है जो उन्हें बेहतर आजीविका सुरक्षित करने में मदद करेगा। पूर्व सीखने के अनुभव या कौशल वाले व्यक्ति खुद को पंजीकृत कर सकते हैं और पीएमकेवीवाई के आरपीएल घटक के तहत मूल्यांकन और प्रमाणित हो सकते हैं। यह मुख्य रूप से अनियमित क्षेत्रों में कार्यरत व्यक्तियों पर केंद्रित है।
  • परियोजना कार्यान्वयन एजेंसियों (पीआईए) जैसे क्षेत्र में निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के विशेषज्ञ निकायों, केंद्र और राज्य सरकार के मंत्रालयों और उनके संस्थानों और एमएसडीई/एनएसडीसी द्वारा नामित अन्य एजेंसियों को पांच मॉडलों में से किसी में भी आरपीएल परियोजनाओं को कार्यान्वित करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है (आरपीएल शिविर, नियोक्ता के परिसरों में आरपीएल, मांग द्वारा आरपीएल, सर्वश्रेष्ठ नियोक्ताओं के साथ आरपीएल और ऑनलाइन आरपीएल)।
  • आरपीएल में 12 घंटे का ओरिएंटेशन है। ज्ञान अंतराल को दूर करने के लिए, पीआईए उम्मीदवारों को 12 घंटे के अभिविन्यास डोमेन कौशल, सॉफ्ट स्किल्स और उद्यमिता युक्तियों और मूल्यांकन प्रक्रिया से परिचित होने के साथ ब्रिज कोर्स प्रदान करते हैं।
  • इन दिशानिर्देशों में किए गए किसी भी संशोधन को पीएमकेवीवाई की आधिकारिक वेबसाइट (www.pmkvyofficial.org) पर अपलोड किया जागा। सभी हितधारकों को सलाह दी जाती है कि वे नियमित रूप से संशोधन/परिवर्तन, यदि कोई हो, की जांच करें।

लाभ

  1. नकद पुरस्कार: प्रत्येक प्रमाणित उम्मीदवार को प्रोत्साहन के रूप में परीक्षा पास करने के लिए 500 /- रुपये का इनाम मिलेगा
  2. दुर्घटना बीमा: प्रत्येक प्रमाणित उम्मीदवार को 2 लाख रुपये का 3 साल का दुर्घटना बीमा प्रदान किया जाएगा।
  3. आरपीएल किट
  4. पांच प्रकार की आरपीएल परियोजनाएं पीएमकेवीवाई 3.0 में उपलब्ध होंगी।
    1. RPL Type 1(Camps) – यह एक ऐसे स्थान पर लक्षित लाभार्थियों के लिए आयोजित किया जाता है जहां किसी क्षेत्र के श्रमिकों को समेकित किया जाता है (जैसे औद्योगिक और / या पारंपरिक कौशल क्लस्टर)
    2. आरपीएल टाइप 2 (नियोक्ता परिसर) – इस प्रकार का आरपीएल औद्योगिक कर्मचारियों के लिए नियोक्ता के परिसर में साइट पर आयोजित किया जाता है।
    3. आरपीएल टाइप 3 (मांग के अनुसार आरपीएल) – इस प्रकार में नामित प्रधानमंत्री कौशल केंद्र (पीएमकेके) / पीएमकेवीवाई केंद्रों पर आरपीएल शामिल है। कोई भी व्यक्ति या जिला कौशल समितियां (डीएससी) नौकरी की भूमिका के लिए उपलब्ध केंद्र पर आरपीएल के लिए अनुरोध कर सकती हैं।
    4. आरपीएल टाइप 4 (सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता के साथ आरपीएल (बीआईसीई)-बड़े निगम / उद्योग और मध्यम स्तर के उद्यम) – क्षेत्र कौशल परिषदों (एसएससी) के मानदंडों के अनुसार बड़े और मध्यम दोनों उद्यमों में श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ नियोक्ता को प्रमाणित किया जाएगा। इस प्रकार में कोई ओरिएंटेशन मॉड्यूल नहीं है। इसमें केवल आकलन है।
    5. आरपीएल टाइप 5 (ऑनलाइन आरपीएल) – सभी कौशल चाहने वालों के लिए खुला है, जो ऑनलाइन परीक्षा देना चाहते हैं और प्रमाणित होना चाहते हैं। यह विशिष्ट नौकरी भूमिकाओं पर लागू होता है जहां सिद्धांत और व्यावहारिक दोनों ऑनलाइन आयोजित किए जाने योग्य हैं।
आरपीएल प्रकार 1, 2, और 3 के लिए, पीआईए एक आरपीएल किट प्रदान करेगा जिसमें निम्नलिखित अनिवार्य वस्तुएं होंगी:
  1. 01 मानक पीएमकेवीवाई टी-शर्ट (पुरुषों के लिए)/जैकेट या टी-शर्ट (महिलाओं और ट्रांसजेंडर के लिए)। महिलाओं और ट्रांसजेंडरों को टी-शर्ट या जैकेट में से किसी एक को चुनने की अनुमति होगी]
  2. 01 मानक पीएमकेवीवाई कैप
  3. उस नौकरी की भूमिका के लिए अध्ययन सामग्री
  4. नौकरी की भूमिका से संबंधित आइटम जैसे उपकरण, आइटम जो कार्यस्थल पर उपयोगी हो सकते हैं आदि (यह वैकल्पिक है)।

पात्रता

आरपीएल भारतीय राष्ट्रीयता के किसी भी उम्मीदवार के लिए लागू होता है जो:
  1. 18-45 वर्ष के बीच की आयु का है
  2. नौकरी की भूमिका में पूर्व अनुभव है जिसके लिए वे आरपीएल प्रमाणन चाहते हैं और जैसा कि एसएससी द्वारा उन नौकरी भूमिकाओं के लिए निर्दिष्ट किया गया है
  3. आधार कार्ड और आधार लिंक्ड बैंक खाता है
  4. कार्य अनुभव से संबंधित अन्य मानदंडों को पूरा करता है जैसा कि संबंधित नौकरी भूमिकाओं के लिए एसएससी द्वारा परिभाषित किया गया है
  5. यदि लक्षित लाभार्थी बिंदु 1 में निर्दिष्ट आयु वर्ग से अधिक आयु वर्ग के हैं, तो परियोजना कार्यान्वयन एजेंसी (पीआईए) को पीएमकेवीवा 3.0 कार्यकारी समिति/राज्य स्तरीय अधिकार प्राप्त समिति से मंजूरी के दौरान इसे अनुमोदित कराना होगा।




प्रधान मंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई)

प्रधान मंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) एक गैर-कार्पोरेट, गैर-कृषि लघु / लघु उद्यमों को 10 लाख तक की ऋण प्रदान करने के लिए 8 अप्रैल 2015 को एक योजना शुरू की गई है।

इन ऋणों को पीएमएमवाई के तहत मुद्रा ऋण के रूप में वर्गीकृत किया गया है ये ऋण वाणिज्यिक बैंक, आरआरबी, लघु वित्त बैंक, सहकारी बैंक, एमफआई और एनबीएफसी द्वारा दिए गए हैं। उधारकर्ता ऊपर उल्लिखित किसी भी ऋण देने वाले संस्थान से संपर्क कर सकता है या इस पोर्टल के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन कर सकता है।

पीएमएमवाई के तत्वावधान के तहत, मुद्रा ने लाभार्थी माइक्रो यूनिट / उद्यमी की विकास / विकास और वित्तपोषण की जरूरतों के स्तर को दर्शाते हुए ‘शिशु’, ‘किशोर’ और ‘तरुण’ के लिए तीन उत्पादों का निर्माण किया है और अगले स्नातक स्तर की पढ़ाई / विकास का चरण के लिए एक संदर्भ बिंदु भी प्रदान किया है।

AYUSHMAN BHARAT – PRADHAN MANTRI JAN AROGYA YOJANA

Benefits

  • प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत 10 करोड़ से अधिक परिवारों को लाभ मिलेगा|
  • अपने मोबाइल नम्बर से लॉगिन कर पता करें आपका परिवार प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना में सम्मिलित है या नहीं|
  • प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का लाभ लेने के लिए आपको कोई आवेदन करने की ज़रूरत नहीं है|
  • अगर आपका परिवार प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना लिस्ट में सम्मिलित है तो आप चिकित्सा उपचार के लिए किसी भी सूचिबद्ध अस्पताल में प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक का लाभ उठा सकते हैं|

अन्त, इस प्रकार हमने आपको 5 अलग – अलग योजनाओं के बारे मे बताया जिनमें आवेदन करके आप पैसा बना सकते है।

सारांश

आप सभी युवाओं के सतत विकास को समर्पित अपने इस आर्टिकल मे, हमने आपको विस्तार से ना केवल  Top 5 Free Money Making Government Scheme  के बारे मे बताया बल्कि हमने आपको इन योजनाओं की पूरी – पूरी जानकारी प्रदान की ताकि आप सभी इन योजनाओ मे आवेदन करके इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

अन्त, हमे उम्मीद है कि, आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक, शेयर व कमेट करेगे।

महत्वपू्र्ण लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – Top 5 Free Money Making Government Scheme

Which government scheme has highest interest?

Top 5 interest rates on Tax-saving Bank FDs. Unit Linked Insurance Plan (ULIP) Equity Linked Savings Scheme (ELSS) Sukanya Samriddhi Yojana. National Pension Scheme (NPS) Pradhan Mantri Vaya Vandhana Yojana (PMVVY) Senior Citizen Saving Scheme (SCSS) Public Provident Fund :

Which scheme is best for investment?

Sukanya Samriddhi Yojana. ... Public Provident Fund (PPF) ... Post Office Monthly Income Schemes. ... Government Schemes For Senior Citizens (SCSS) ... Tax Saving FD's. ... Sovereign Gold Bonds. ... Life Insurance. ... Bonds.

Which schemes are provided by government?

Pradhan Mantri Jan Dhan Yojana (PMJDY) ... From Jan Dhan to Jan Suraksha. ... Pradhan Mantri Jeevan Jyoti Bima Yojana (PMJJBY) ... Pradhan Mantri Suraksha Bima Yojana (PMSBY) ... Atal Pension Yojana (APY) ... Pradhan Mantri Mudra Yojana. ... Stand Up India Scheme. ... Pradhan Mantri Vaya Vandana Yojana.

Updated: 08/07/2022 — 8:12 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *