Soil Health Card Scheme 2023: मृदा स्वास्थ्य कार्ड योजना में ऑनलाइन आवेदन करे

Soil Health Card Scheme:  भारत के किसानों को लाभ देने के लिए इस योजना का शुभारंभ किया गया है।  भारत सरकार द्वारा साल 2015 में इस योजना को शुरू किया गया था जिसके तहत जमीन की मिट्टी की गुणवत्ता का अध्ययन और अच्छी फसल प्राप्त करने का उद्देश्य रखा गया था। 

BiharHelp App

सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम के तहत किसानों को हेल्थ कार्ड भी प्रदान किया जाएगा। आज इस लेख में हम आपको सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी देने वाले हैं, साथ में हम इस योजना के लाभ और विशेषताओं के बारे में भी चर्चा करने वाले  है जिससे कि किसान मिट्टी की गुणवत्ता के आधार पर फसल की खेती कर सके और सॉइल हेल्थ कार्ड स्कीम का लाभ ले सकें।

Soil Health Card Scheme 2023

Soil Health Card Scheme 2023 – Overview

Name of Scheme Soil Health Card Scheme
Name of Post सोइल हेल्थ कार्ड 
Beneficiaries Farmes of India
Mode of Apply Online
Official Website Click Here

Soil Health Card Scheme 2023

Soil Health Card Scheme 2023 के तहत केंद्र सरकार एक हेल्थ कार्ड जारी करेगी जो कि 3 साल के लिए किसानों को प्रदान किया जाएगा। ये हेल्थ कार्ड उनके खेतों की गुणवत्ता को देखते हुए 3 साल में सिर्फ एक बार जारी किया जाएगा। केंद्र सरकार द्वारा हेल्थ कार्ड पूरे भारत के किसानों के लिए जारी किया जाने वाला है। फिलहाल देश के 14 करोड किसानों तक इस कार्ड को पहुंचाने का उद्देश्य निर्धारित किया गया है।




Soil Health Card Scheme 2023 का उद्देश्य

सॉइल हेल्थ कार्ड योजना का मुख्य उद्देश्य किसानों की जमीन को उपजाऊ और स्वस्थ बनाने और ज्यादा से ज्यादा फसल उगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाना है।  हेल्थ कार्ड एक तरह का रिपोर्ट कार्ड है जो कि मिट्टी और खेती के गुण के बारे में किसानों को महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करेगा जिसके माध्यम से किसान फसलों को और भी अधिक और तेजी से  उगा सकेंगे और अपनी  आमदनी को काफी ज्यादा बढ़ा पाएंगे।

इस स्कीम के तहत किसानों को फसल उगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा और मिट्टी के स्वास्थ्य और गुणवत्ता को लेकर उन्हें अहम जानकारी प्रदान की जाएगी।  इस स्कीम का मुख्य उद्देश्य यह भी है कि किसानों को कम लागत में अधिक से अधिक पैदावार करने में मदद मिल सके।

सॉइल हेल्थ कार्ड  में दर्ज की जाने वाली कुछ जानकारी इस प्रकार से है-

  •  मिट्टी की सेहत
  •  उत्पादन की क्षमता
  • पोषक तत्वों की मौजूदगी या पोषक तत्वों की कमी
  • मिट्टी में नमी की मात्रा
  • अन्य पोषक तत्व
  • खेतों की गुणवत्ता सुधारने से जुड़े उचित निर्देश

Components of Soild Health Card Scheme

Soil Health Card –  देश के किसानों को सॉइल हेल्थ कार्ड दिया जाएगा।  यह एक तरफ से एक रिपोर्ट कार्ड है जो कि मिट्टी की गुणवत्ता और उत्पादक क्षमता के बारे में जानकारी प्रदान करेगा।  इसके अलावा फसल उगाने की क्षमता को बढ़ाने के लिए आवश्यक मापदंड और विस्तृत जानकारी इस कार्ड के जरिए दी जाएगी।

हेल्थ कार्ड के जरिए ना सिर्फ मिट्टी की नमी का पता लगाया जाएगा बल्कि मिट्टी के अंदर मौजूद अन्य पोषक तत्व और मिट्टी की सेहत से जुड़ी जानकारी इसमें प्रदान की जाएगी। जब किसानों को इस विषय में आवश्यक जानकारी प्रदान की जाएगी तब वह आसानी से अपनी उत्पादन क्षमता को बढ़ाकर कम लागत में अधिक से अधिक फसल उगायेंगे और अपनी आमदनी को और भी अधिक बड़ा पायेंगे।




मृदा विश्लेषण के लिए प्रशिक्षण SAUs/ICAR  जैसे संस्थानों के माध्यम से 20 प्रतिभागियों की एक बेच बनाकर मृदा केमिस्ट के छात्र एवं जेआरएस को मृदा विश्लेषण से जुड़ी जानकारी दी जाएगी और में मृदा विश्लेषण को लेकर प्रशिक्षित किया जाएगा। सोइल केमिस्ट्री के छात्रों को मृदा से संबंधित सभी महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की जाएगी जो कि आगे चलकर इस योजना को सफलतापूर्वक चलाने के लिए काफी उपयोगी साबित होने वाली है।

पोषक तत्वों को लेकर वित्तीय सहायता केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय और अन्य कृषि महाविद्यालय के द्वारा विशेषज्ञों की एक टीम किसानों को मिट्टी से संबंधित सलाह और जानकारी से जुड़े कई कार्यक्रमों को आयोजित करेगी।  इन सभी कार्यक्रमों के जरिए किसानों को मिट्टी से संबंधित जानकारी दी जाएगी जिसमें मिट्टी के पोषक तत्व, मिट्टी की नमी, मिट्टी में मौजूद आवश्यक तत्व और मिट्टी को उपजाऊ बनाने से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी दी जाएगी जिससे कि किसान ज्यादा से ज्यादा  फसल का उत्पादन कर पाएंगे । इन सभी कार्यक्रमों में भाग लेने के लिए किसानों को आवेदन करना होगा।

क्षमता निर्माण एवं नियमित निगरानी और मूल्यांकन राज्य द्वारा SAUs/ICAR  संस्थानों के साथ मिलकर तकनीकी एवं लाइन स्टाफ के लिए ओरियंटेशन आयोजित किया जाएगा  साथ ही कुछ समन्वय समितियों का गठन भी किया जाएगा जो कि संतुलित पोषण और आहार से जुड़ी जानकारियां और उनके प्रशिक्षण को सुगम बनाने के लिए अलग-अलग राज्यों में  गठित की जाएगी।  यह समितियां पोषक तत्व के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करेगी जो किसान पोषक तत्व के लिए वित्तीय सहायता चाहते हैं उन्हें इन समितियों द्वारा पंजीकृत कर लिया जाएगा।

Soil Health Card Scheme के लाभ तथा विशेषताएं

  • Soil Health Card Scheme  का शुभारंभ केंद्र सरकार द्वारा किया गया है।
  •  इस योजना के तहत किसानों को मिट्टी की उपज बढ़ाने में सहायता प्रदान होगी।
  •  इस योजना के तहत किसानों को हेल्थ कार्ड दिया जाएगा जो कि उन्हें खेत और मिट्टी के बारे में आवश्यक जानकारी प्रदान करेगा।
  •  इस योजना के तहत किसान  अपने खेत की मिट्टी का प्रकार जान सकते हैं और आवश्यक उत्पादन कर सकते हैं।
  •  इस स्कीम के तहत किसानों को उच्च गुणवत्ता  वाली फसल उगाने में मदद मिलेगी वह भी कम लागत में।
  •  इस योजना के तहत किसानों को ज्यादा से ज्यादा फसल उगाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
  •  इस योजना का शुभारंभ साल 2015 में किया गया था जिसके माध्यम से किसानों को मिट्टी की जानकारी दी जाती है।
  •  किसानों को मिट्टी के आधार और संतुलन को बढ़ाने के लिए और खाद के उपयोग के बारे में जागरूक करने के लिए काफी फायदेमंद साबित होगी।
  •  इस योजना के तहत किसानों को उनके खेत के अनुसार फसल उगाने के बारे में जागरूक किया जाएगा।
  •  इस योजना के तहत किसानों को जागरूक किया जाएगा कि कौन सी खाद का उपयोग किस तरह की फसल उगाने में किया जाता है।
  • योजना के तहत किसान को खाद का मात्रा का उपयोग बताया जाता है।




Soil Health Card Scheme में आवेदन कैसे करे?

  • सबसे पहले आवेदक को योजना से जुड़ी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर रिसेट करना होगा।  इसके बाद आपको सीधा होम पेज पर चले जाना है।

Soil Health Card Scheme

  •  होम पेज पर आपको Log In करने का ऑप्शन दिखाई देगा। इस ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक और नया इंटरफ़ेस खुल जाएगा।
  •  अब आपको अपने State का चयन करना है और फिर आगे Continue के बटन पर क्लिक कर देना है।

Soil Health Card Scheme

  •  अब आपके सामने एक लॉगइन पेज खुल जाएगा आपको बस एक नए उपभोक्ता के रूप में वेबसाइट पर Register कर लेना, जब आप new registration पर क्लिक करेंगे तब आपके सामने रजिस्ट्रेशन का फॉर्म खुलकर आ जाएगा।

Soil Health Card Scheme

  •  रजिस्ट्रेशन फॉर्म पर आपको कुछ आवश्यक जानकारी भरनी होगी जिससे User Organization Details, Language, User Details, User Login, Account Details आपको पूछी गई सभी जानकारी को ध्यानपूर्वक भर देना है और Submit बटन पर क्लिक कर देना है।
  •   एक बार जब आप वेबसाइट पर पूर्ण रूप से पंजीकृत हो जाते हैं तब आपको फिर से होम पेज की तरफ लौटना है।

Soil Health Card Scheme

  •  अब आपको login पर क्लिक करना है और आपके द्वारा दर्ज किए गए यूजर नेम, पासवर्ड को डालकर वेबसाइट पर लॉगिन हो जाना है।
  •  एक बार जब वेबसाइट पर लॉगिन हो जाते हैं तो आपका सोइल हेल्थ कार्ड स्कीम में आवेदन पूर्ण हो जाता है।

How to Print Soil Health Scheme Card

  • सोइल हेल्थ कार्ड प्रिंट करने के लिए सबसे पहले आपको ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा।

How to Print Soil Health Scheme Card

  • उसके बाद आपको होम पेज पर Farmer Corner के अन्दर Print Soild Health Card का विकल्प नजर आएगा उस पर क्लिक करे।
  • उसके बाद एक नया पेज आपके सामने खुलता है जहाँ पर आपको State का चुनाव करना होगा।
  • एक फॉर्म आपके सामने खुलेगा जिसमे आपको जो भी जानकारी पूछी गई है वह दर्ज करना है ।
  • उसके बाद आपको सर्च बटन पर क्लिक करना है ।
  • आपके सामने स्क्रीन पर आपका सोइल कार्ड नजर आने लगेगा, आप इसे डाउनलोड अथवा प्रिंट कर सकते है।

सारांश

Soil Health Card Scheme के माध्यम से किसान अपने खेत की मिट्टी की गुणवत्ता के बारे में जानकारी प्राप्त कर पाएंगे। जिससे वो पहले की तुलना में ज्यादा बेहतरीन ढंग से खेती कर पाएंगे। हमने आज आपको इस आर्टिकल में Soil Health Card Scheme के बारे में विस्तार्पुवक जानकारी प्रदान कर दी है। उम्मीद करते है की हमारे द्वारा दी गई जानकारी सभी किसान भाईयों के लिए लाभदायक साबित होगी। ऐसी ही सरकारी योजना और अन्य ख़बरों के लिए हमारी वेबसाइट पर नियमित रूप से विजिट करते रहे।

Read This

Quick Links

Direct Link to Print Soil Health Card Click Here
Official Website Click Here

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *