स्वयं सहायता समूह (Self Help Group): 2 लाख नये महिला स्वयं सहायता समूह होंगे गठित (New SHG)

Self Help Group: यदि आप भी कुछ अन्य महिलाओं के साथ मिलकर लगातार 6 महिनो से काम कर रही है तो आप Self Help Group  का दर्जा प्राप्त कर सकते है और इसीलिए हम आपको विस्तार से इस आर्टिकल में, Self Help Group के बारे में बतायेगे।

हमारी महिलाओँ की भी चीजे के उत्पादन या फिर पुन – निर्माण कार्य को लघु स्तर पर शुरु करके आप इसके लिए Self Help Group का दर्ज प्राप्त कर सकते है जिससे ना केवल आपके उद्योग का विकास होगा बल्कि आपके आमदनी में भी इजाफा होगा।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

लेकिन आपको Self Help Group  का दर्जा प्राप्त करने के लिए कुछ योग्यताओं व दस्तावेजो की जरुरत पड़ेगी जसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में, विस्तार से प्रदान करेगे।

Self Help Group

Self Help Group – एक नजर

आर्टिकल का नाम Self Help Group
आर्टिकल का प्रकार लेेटेस्ट अपडेट
कौन बना सकता है ग्रामीण व शहरी क्षेत्र की शभी इच्छुक महिलायें
लाभ महिलाओँ के उद्योग का विकास होगा और महिलाओं का आत्मनिर्भर आर्थिक विकास होगा।
न्यू अपडेट Self Help Group को भारत सरकार द्धारा उनके उद्योग के विकास के लिए लोन प्रदान किया जायेगा।
आयु सीमा 18 से लेकर 65 वर्ष




Self Help Group Notification

हम अपने इस आर्टिकल मे, आप सभी महिलाओं का स्वागत करते हुए आपको विस्तार से Self Help Group के बारे में बताना चाहते है जिसके लिए आपको अन्त तक इस आर्टिकल को पढ़ना होगा।

हम आपको बता दें कि, अपना – अपना  Self Help Group बनाकर आप सरकार से अपने उद्योग के विकास के लिए लोन भी प्राप्त कर सकते है जिससे ना केवल आपके उद्योग का विकास होगा बल्कि आपके सामाजिक व आर्थिक जीवन का भी सतत विकास होगा।

अन्त, Self Help Group कैसे बनायें आदि की पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए आपको हमारे इस आर्टिकल के साथ बने रहना होगा।

Read Also – PM Kisan Yojana Payment Aadhar Based: पीएम किसान निधि में हुआ बड़ा बदलाव, जल्द करें वरना नहीं मिलेगा पैसा

Self Help Group – लाभ

Self Help Group  से आपको कई प्रकार के लाभ प्राप्त होते है जैसे कि –

  • बेरोगार महिलाओं को रोजगार की प्राप्ति होती है,
  • महिलाओँ का आर्थिक विकास होता है,
  • महिलायें, आत्मनिर्भऱ बनती है,
  • महिलाओं में, एक साथ काम करने की भावना का विकास होता है और
  • धीरे – धीरे Self Help Group द्धारा शुरु किया गया है लघु उद्योग एक दिन बड़ा हो जाता है जिसका लाभ सभी को प्राप्त होता है आदि।

अन्त, इस प्रकार आप सभी को Self Help Group  से कई प्रकार के लाभ प्राप्त होते है।




किन योग्यताओं व दस्तावेजो की जरुरत होगी – Self Help Group?

आप सभी को अपना – अपना स्वयं सहायता समूह बनाने के लिए कुछ दस्तावेजो व योग्यताओँ की जरुरत होगी जो कि, इस प्रकार से हैं –

जरुर दस्तावेज

  • समूह के सभी सदस्यो का आधार कार्ड होना चाहिए,
  • समूह के सभी सस्यो का पैन कार्ड होना चाहिए,
  • बैंक खाता पासबुक होना चाहिए,
  • पासपोर्ट साइज फोटो व चालू मोबाइल नंबर आदि।

योग्यता

  • समूह के सभी सदस्यो की आयु 18 से लेकर 65 साल के बीच होनी चाहिए और
  • सभी सदस्य, भारत के स्थायी निवासी होने चाहिए आदि।

उपरोक्त सभी योग्यताओं व दस्तावेजो की पूर्ति करके अपना – अपना स्वयं सहायता समूह बना सकते है।




Self Help Group कैसे बनायें?

यदि आप भी ग्रामीण या फिर शहरी क्षेत्र में, अपना खुद का स्वंय सहायता समूह बनाना चाहते है तो आपको इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • Self Help Group  बनाने के लिए आको अपना कोई छोटा – मोटा उद्योग शुरु करना होगा,
  • इसके बाद आपको कुछ अन्य सदस्यो को अपने साथ जोड़कर उसे एक समूह का रूप देना होगा ,
  • इसके बाद आपको लगाता 6 महिने तक सक्रियतापूर्वक कार्य करना होगा और
  • अन्त में, आप अपने प्रखंड या फिर ब्लॉक में जाकर प्रखंड विकास अधिकारी से बात करके Self Help Group  का दर्जा प्राप्त कर सकते है आदि।

अन्त, इस प्रकार आप सभी आसानी से अपना – अपना स्वयं सहायता समूह बना सकते है औऱ इसका लाभ प्राप्त कर सकते है।

सारांश

महिला सशक्तिकरण को ध्यान में रखते हुए हमने आपको विस्तार से ना केवल Self Help Group  के बारे में बताया बल्कि हमने आपको विस्तार से बताया कि, आप कैसे अपना – अपना  Self Help Group  बना सकते है औऱ आत्मनिर्भर विकास कर सकते है।

अन्त, हम उम्मीद करते है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक, शेयर व कमेंट करेगे।

महत्वपूर्ण लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – Self Help Group

What are the 4 features of self help group?

The Functions of Self Help Groups are listed below. Developing and enhancing the decision making capacity of members. Increasing general awareness on literacy among members. Equipping the poor with basic skills for understanding monetary transactions. Maintaining books and registers to ensure proper accounts.

What is SHG and its function?

Self-Help Groups (SHGs) are informal associations of people who choose to come together to find ways to improve their living conditions. It can be defined as self governed , peer controlled information group of people with similar socio-economic background and having a desire to collectively perform common purpose

Why is SHG important?

The very existence of SHGs is highly relevant to make the people of below poverty line hopeful and self-reliant. SHGs enable them to Increase their income, improve their standard of living and status in society. It acts as a catalyst for bringing this section of society to the main stream.

How do I start a self help group?

The handbook also guides the process of linking an SHG to a bank and divides it into 4 steps: The opening of a bank account. ... Internal lending. ... Assessment of the SHG. ... Sanction of credit facility to the SHG.

Updated: 01/05/2022 — 1:45 PM

2 Comments

Add a Comment
  1. Rajesh kumar gupta

    CRP ka kam chahea

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *