School Children Will Study In 7 Languages: बिहार बोर्ड इसी सत्र से करेगी भोजपुरी, मगही और मैथिली समेत 7 भाषाओँ मे होगी पढ़ाई शुरु

School Children Will Study In 7 Languages:  यदि आप भी बिहार बोर्ड  के  स्टूडेंट  है तो आपके लिए   बड़ी खबर  है कि, अब आपको कुल 7 भाषाओँ  मे पढ़ाने का  अनुपम सौभाग्य  प्राप्त  होने वाला है जिसको लेकर बिहार बोर्ड  ने, School Children Will Study In 7 Languages  नामक  न्यू अपडेट जारी किया है जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी हम, आपको इस आर्टिकल मे प्रदान करेगें।

इस आर्टिकल मे हम, आपको विस्तार से ना केवल School Children Will Study In 7 Languages के बारे मे बतायेगे बल्कि हम, आपको विस्तार से बिहार बोर्ड द्धारा राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020  के तहत अलग – अलग भाषाओं मे तैयार किये जा रहे स्टोर टैलिंग मैटेरियल्स को लेकर जारी अपडेट्स के बारे मे बतायेगें तथा

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

SCHOOL CHILDREN WILL STUDY IN 7 LANGUAGES

आर्टिकल के अन्त मे हम, आपको  क्विक लिंक्स प्रदान करेगें  ताकि  आप इसी प्रकार के आर्टिलक्स को  प्राप्त करके इनका लाभ प्राप्त कर सकें।

Read Also – ISRO Free Online Certificate Course For Students 2024: इसरो से करें ऑनलाइन कोर्स वो भी बिलकुल फ्री, जाने क्या है पूरी रजिस्ट्रैशन प्रक्रिया?

School Children Will Study In 7 Languages – Overview

Name of the Policy New Education Policy 2020
Name of the Arthcle School Children Will Study In 7 Languages
Type of  Article Latest Update
Detailed Information of School Children Will Study In 7 Languages? Please Read The Article Completely.

बिहार बोर्ड इसी सत्र से करेगी भोजपुरी, मगही और मैथिली समेत 7 भाषाओँ मे होगी पढ़ाई शुरु, जाने क्या है पूरी रिपोर्ट – School Children Will Study In 7 Languages?

बिहार राज्य  के हमारे सभी स्टूडेंट्स  के लिए  बडी खबर  है कि,  राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020  के तहत भाषाई कार्यक्रम  को  बिहार  मे  लागू  किया जा रहा है और इसीलिए हम, आपको इस आर्टिकल  में विस्तार से School Children Will Study In 7 Languages  को लेकर तैयार  रिपोर्ट  के बारे में बतायेगें जिसके  प्रमुख बिंदु  कुछ इस प्रकार से हैें –

Read Also – Career In Fashion Designing – फैशन डिजाइनिंग में करियर बनाने के लिए कर सकते हैं ये कोर्स

School Children Will Study In 7 Languages – संक्षिप्त परिचय

  • ताजा मिली जानकारी के अनुसार हम, आप सभी  बिहार राज्य  के  स्टूडेंट्स सहित पाठको  को बताना चाहते है कि,  बिहार बोर्ड  द्धारा ” राष्ट्रीय शिक्षा नीति ”  को लेकर   बड़ी कार्यवाही  की गई है औऱ बिहार के  स्कूलो  मे  NEP 2020 के भाषाई कार्यक्रम  को  लागू  करने का  निर्णय  लिया है जिसको लेकर  बिहार बोर्ड  ने, बड़े पैमाने  पर कार्यवाही  की है।



भोजपुरी, मगही और मैथिली सहित 7 भाषाओं मे होगी अब पढ़ाई – न्यू अपडेट

  • इसके साथ ही साथ हम,आप सभी स्टूडेंट्स सहित पाठको को बताना चाहते है कि,  बिहार बोर्ड  द्धारा अब स्टूडेंट्स  को  भोजपुरी, मैथिली और मगही  सहित 7 अलग – अलग भाषाओं  मे  शिक्षा   प्रदान की जायेगी जिसके लिए  बिहार बोर्ड  ने, अपने स्तर पर कार्यवाही  की  पहल  कर दी है जिसके जल्द ही परिणाम देखने को मिल सकते है।

बिहार में इसी सत्र से होगी 7 भाषाओँ मे पढ़ाई

  • दूसरी तरफ हम, आप सभी स्टूडेंट्स को बताना चाहते है कि, बिहार बोर्ड  द्धारा  इसी  सत्र  अर्थात् शैक्षणिक सत्र 2024 – 2025 से ही  NEP 2020  का  पालन  करते हुए  भोजपुरी, मगही और मैथिली सहित पूरे  7 भाषाओं  मे पठन – पाठन  का कार्य  शुरु किया जायेगा ताकि स्टूडेंट्स अपनी मातृभाषा  मे पढ़कर  गुणवत्तापूर्ण शिक्षा  प्राप्त कर सकें।

स्टोरी टैलिंग मैटेरिलय सहित अलग – अलग भाषाओं के हैंडबुक्स हो रहे है तैयार

  • यहां पर हम, आपको बताना  चाहते है कि,  बिहार बोर्ड  द्धारा  7 भाषाओं  मे  शिक्षा  प्रदान  हेतु  शिक्षको  को तैयार करने हेतु बड़े पैमाने  पर स्टोरी टैलिंग मैटेरिलय सहित अलग – अलग भाषाओं के हैंडबुक्स  तैयार किया गया जा  रहा है ताकि हमारे सभी शिक्षक, कुशलतापूर्व अपने स्टूडेंट्स को पढ़ा  सके और इसका लाभ प्राप्त कर सकते है।

स्थानीय भाषा मे पढ़ाने हेतु शिक्षको को मिल रही है ट्रैनिंग

  •  इसके साथ ही साथ हम, आपको बताना चाहते है कि,  बिहार बोर्ड द्धारा राज्य  के  सभी शिक्षको  को स्थानीय भाषा  मे पढ़ाने  का  कौशल  प्रदान करने हेतु  शिक्षको  को  ट्रैनिंग देने की  पहल शुरु कर दी गई है  ताकि हमारे सभी  स्टूडेंट्स को शिक्षक , कुशलतापूर्वक  उनकी  मातृभाषा  मे  शिक्षा  प्रदान कर सकें।



किन भाषाओं की हो रही है स्टोरी टैलिंग मैटेरियल तैयार

  • भोजपुरी,
  • बांग्ला,
  • मैथिली,
  • ऊर्दू,
  • हिंदी,
  • मगही और
  • अंग्रेजी आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको विस्तार से  पूरी रिपोर्ट प्रदान की ताकि आप इस रिपोर्ट  का पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें।

सारांश

बिहार राज्य  के आप  सभी स्टूडेंट्स  को समर्पित  इस आर्टिकल मे विस्तार से ना केवल School Children Will Study In 7 Languages के बारे मे बताया ताकि आप आसानी से इस पूरी रिपोर्ट  का लाभ प्राप्त कर सके और  स्थानीय भाषा  मे  गुणवत्तापूर्ण शिक्षा  प्राप्त कर सकें तथा

आर्टिकल के अन्तिम  चरण मे हम, आपसे उम्मीद  करते है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल  बेहद  पसंद  आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को  लाईक, शेयर व कमेंट  करेगें।

क्विक लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – School Children Will Study In 7 Languages

How many languages are there in NEP 2020?

What is the Three Language Formula? The Three Language Formula states that every student in India should learn three languages: two of which should be native Indian languages, including one regional language, and the third should be English.

What does NEP say about language?

Related Posts

Updated: 10/02/2024 — 6:46 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *