PM MUDRA YOJANA 2023 | प्रधानमंत्री मुद्रा योजना ₹10 लाख तक का ऋण प्राप्त करें, ऐसे करें आवेदन

PM MUDRA YOJANA 2023: – नमस्कार दोस्तों , स्वागत है आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग biharhelp.in में।’माइक्रो यूनिट्स डिवेलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी’ (MUDRA) लोन स्कीम भारत सरकार की एक पहल है जो की व्यक्तियों, SME और MSME को लोन सुविधा प्रदान करती है

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना एक विशेष प्रकार की योजना है इसका उद्देश्य स्वरोजगार को बढ़ावा देना है इसके साथ-साथ छोटे कारोबारियों को भी मदद पहुंचाना भी शामिल है। इस योजना के अंतर्गत महिला उद्यमी को कुछ विशेष प्रकार की सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं जिससे महिलाओं की सामाजिक स्थिति में सुधार हो सके।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

PM MUDRA YOJANA 2023

 

➡ देश के यशस्वी प्रधानमंत्री जी द्वारा 8 अप्रैल 2015 को इस योजना का शुभारंभ किया गया था।इस योजना के अंतर्गत देश का कोई भी नागरिक जो अपना खुद का स्वरोजगार शुरू करना चाहता है उसे  सरकार द्वारा ₹10 लाख तक की राशि प्रदान की जाती है।सरकार स्थानीय निकायों की सहायता से छोटे उद्योगों तथा स्वरोजगार करने वाले अन्य नागरिकों को  वित्तीय मदद मुहैया करवाती है।

दोस्तों आज के आर्टिकल में हम इस योजना से जुड़े सभी पहलुओं पर चर्चा करेंगे, यदि आप भी प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत लोन लेना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक पूरा पढ़ें इससे निश्चित रूप से आपको मदद मिलेगी।प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत 5.77 करोड़ बिजनेस को चिन्हित किया गया था।

PM MUDRA YOJANA 2023

PM MUDRA YOJANA 2023 Highlights

योजना का नाम प्रधान मंत्री मुद्रा योजना 2023
Date Of launch 8th April 2015
Launched By PM Shree Narendra Modi
Scheme Type लोन योजना(वित्तीय) 
Yojana Category Central Government
लक्षित वर्ग  छोटे ब्यापारियों के लिए 
ऋण की राशि Rs 50,000 से लेकर 10 Lakhs तक
योजना की केटेगरी शिशु (50000 ), किशोर ( 5 Lakhs), तरुण  (Rs 10 Lakhs)
योजना का दायरा पूरे भारत में
आधिकारिक वेबसाईट mudra.org.in
आवेदन मोड ऑनलाइन
योजना स्टेटस वर्तमान में चालू है




प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के प्रकार-

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना को निम्नलिखित तीन भागों में विभाजित किया गया है-

शिशु (50,000 सीमा तक के लोन)-

 

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत शिशु लोन दिया जाता है इस लोन के तहत लाभार्थी अपना नया कारोबार शुरू कर सकता है।इसके अंतर्गत अधिकतम ₹50000 तक का लोन दिया जा सकता है।5 साल पर रीपेमेंट करने पर इस प्रकार के लोन पर 10% से 12% सालाना ब्याज दर रहता है।

किशोर (इसमें 500000 सीमा तक के लोन प्रदान किए जाते हैं)-

इस कैटेगरी के लोन में ऐसे लोगों को लोन दिया जाता है जिनका कारोबार पहले शुरू हुआ था लेकिन अभी पूरी तरीके से स्थापित नहीं हो पाया है उन्हें 50000 से लेकर ₹500000 तक का कर्ज मुहैया कराकर कारोबार को पुनर्स्थापित करने में सरकार उनकी मदद करती है।ब्याज की दर यहां पर, ऋण प्रदान करने वाली संस्था व्यापार के मॉडल तथा एक्जिस्टेंस को देखते हुए ब्याज दर का निर्धारण करती है।क्रेडिट के आधार पर लोन का ड्यूरेशन बैंक द्वारा ही तय किया जाता है।




तरुण(इसमें ₹1000000 तक का लोन का प्रावधान किया गया है)-

  • कैटेगरी में ऐसे लोगों को लोन दिया जाता है जिनका बिजनेस पहले से इस्टैबलिश्ड हो चुका है और उन्हें अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए धन की आवश्यकता है तो ऐसे में वह  उद्यमी मुद्रा योजना के अंतर्गत ₹500000 से लेकर ₹1000000 तक का लोन प्राप्त कर सकता है। इस कैटेगरी के लोन में ब्याज दर कारोबार के क्रेडिट के आधार पर बैंक द्वारा निर्धारित किया जाता है।
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में इनकी कुल हिस्सेदारी की बात करें तो शिशु की हिस्सेदारी लगभग 40% है। किशोर की हिस्सेदारी लगभग 35% है. तथा तरुण की हिस्सेदारी लगभग 25% है। इसके साथ साथ मुद्रा योजना में महिला उद्यमियों की संख्या मै बढ़ोतरी हुई है।
  • शिशु मुद्रा के अंतर्गत सर्वाधिक 66% लोगों को रोजगार मिला हुआ है. किशोर मुद्रा के अंतर्गत लगभग 19% लोगों को रोजगार मिला हुआ है. तथा तरुण मुद्रा के अंतर्गत लगभग 15% लोगों को रोजगार प्राप्त हुआ है। योजना को सफल बनाने के लिए केंद्र सरकार ने 1 ट्रिलियन रुपए इस योजना के लिए खर्च करेगी।
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के तहत गैर-कॉरपोरेट, गैर-कृषि लघु/सूक्ष्म उद्यमों को 50 हजार रुपये से लेकर 10 लाख रुपये तक की सहायता दी जाती है। इस योजना के तहत, वाणिज्यिक बैंकों, आरआरबी, लघु वित्त बैंकों, एमएफआई से ऋण उपलब्ध हैं और एनबीएफसी द्वारा प्रदान किए जाते हैं।प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत मिलने वाले लोन के लिए लाभार्थी को किसी भी प्रकार का गारंटी या कुछ भी गिरवी रखने की आवश्यकता नहीं होती है। मुद्रा योजना के अंतर्गत मिलने वाले लोन को लाभार्थी आराम से 3 से 5 सालों में भर सकता है।प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत लगभग 70% से 80% की सब्सिडी सीधे सरकार द्वारा प्रदान की जाती है।

PM MUDRA YOJANA 2023 में महिला उद्यमी के लिए विशेष लाभ-

केंद्र सरकार, PMMY के तहत मुद्रा योजना द्वारा भारतीय महिला उद्यमियों को प्रोत्साहित किया जाता है। भारत सरकार ने सभी बैंकों, ऋण संस्थानों और सूक्ष्म वित्त संस्थानों (MFI) को महिला उद्यमियों को कम ब्याज दरों पर ऋण प्रदान करने के लिए भी कहा है। वर्तमान में मुद्रा योजना के तहत कम ब्याज दरों पर एनबीएफसी और एमएफआई से महिला उद्यमियों को ऋण दिया जाता है, यही कारण है कि महिला उद्यमियों ने भी इस योजना का लाभ उठाया है।

Customer Care Helpline Number

S.N Toll-Free No
1 1800-180-1111
2 1800-11-0001

Read Also 

वर्ष 2022 में मुद्रा लोन देने वाले बैंक के नाम

axis Bank of India  kotak mahindra bank
बजाज फिनसर्व कर्नाटक बैंक
बैंक ऑफ बड़ौदा indian bank
बैंक ऑफ इंडिया लेंडिंगकार्ट फाइनेंस
बैंक ऑफ महाराष्ट्र पंजाब नेशनल बैंक
केनरा बैंक सारस्वत बैंक
सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया स्टेट बैंक ऑफ इंडिया 
HDFC बैंक सिंडीकेट बैंक
ICICI बैंक टाटा कैपिटल
आईडीएफसी फर्स्ट बैंक यूनियन बैंक ऑफ इंडिया 
आईडीबीआई बैंक यस बैंक




Mudra Loan: ज़रूरी दस्तावेज-

  • पासपोर्ट साइज़ फोटो के साथ में विधिवत भरा हुआ एप्लीकेशन फॉर्म।
  • आवेदक के KYC दस्तावेज: पासपोर्ट, वोटर आईडी कार्ड, आधार कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड, यूटिलिटी बिल (पानी / बिजली बिल) आदि।
  • लाभार्थी किसी स्पेशल कैटेगरी से यानी एससी/एसटी/ओबीसी/अल्पसंख्यक हैं, तो इसका प्रमाण (यदि लागू हो)
  • पिछले 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट(जरुरी)
  • बिज़नेस का लोकेशन, उसका पता और कितने साल से चल रहा है, इसका प्रमाण
  • बैंक या एनबीएफसी द्वारा ज़रूरी अन्य दस्तावेज

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में लोन के लिए आवेदन की प्रक्रिया क्या है?

अगर आप मुद्रा योजना के तहत लोन लेना चाहते हैं तो-

  • आपको आवेदन करने के लिए सबसे पहले इसके ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब सामने इसका होम पेज ओपन होगा जिसमे आपको सबसे नीचे जाना है।
  • नीचे तीन विकल्प मिलेंगे Shishu , Kishor और Tarun जिसमे आप लोन लेना चाहते हैं उसे सिलेक्ट करें।
  • यदि आप शिशु लोन को सिलेक्ट करते हैं तो आपके सामने अगला इंटरफ़ेस ओपन होगा।
  • अब आपको Application Form For Shishu के आगे दिए Download के लिंक को सिलेक्ट करें।
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना का फॉर्म डाउनलोड करें उसका आप प्रिंटआउट निकाल लें।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी को भरें और साथ ही साथ दस्तावेजों को भी अटैच भी कर दें।
  • इस फॉर्म को दस्तावेजों के साथ बैंक में जमा कर दें जहाँ से आपको मुद्रा लोन लेना हो।
  • कुछ समय बाद आपका आवेदन पूरा हो जायेगा और सत्यापन के बाद लोन मिलने की प्रक्रिया शुरू जायेगी।

PM Mudra Yojana

 

पीएम मुद्रा योजना के 7 साल पूरे-

  • 8 अप्रैल 2022 को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के साथ-साथ पूरे  हो चुके हैं।
  •  योजना की शुरुआत से लेकर अभी तक इसके अंतर्गत 34 करोड से भी ज्यादा रिजल्ट खाते खोले जा चुके हैं।
  • पी एम एम वाई योजना की शुरुआत वित्तीय समावेश के लक्ष्य के साथ की गई थी।
  • इसमें जमीनी स्तर पर बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर पैदा करने में युवाओं की काफी मदद की है।
  • विशेष रुप से छोटे कारोबारियों तथा नए बिजनेस शुरू करने वाले लोगों के लिए एक डर मुक्त माहौल लोगों के बीच इस योजना के तहत बना है।
  • बिना गारंटी लोन मिलने के कारण जिनके पास गारंटी के लिए कोई संपत्ति नहीं थी उन्हें भी लोन आसानी से प्राप्त हुआ जिससे देश के भीतर नए रोजगार के अवसर बड़े पैमाने पर निकल कर आए।
  • इस योजना का नोडल  मंत्रालय वित्त मंत्रालय है।

Quick Links




Direct Link To Application Form Click Here
Sbi Mudra Loan 50000 Online Click Here
PNB E Mudra Loan
Click Here
Join Our Telegram Group Click Here

मुद्रा कार्ड क्या है?

मुद्रा कार्ड एक प्रकार से डेबिट कार्ड की तरह होता है जो मुद्रा लोन प्राप्त करने वाले लाभार्थी को उनके बिजनेस तथा वर्किंग कैपिटल संबंधी जरूरतों को ध्यान में रखकर बनाया जाता है इसकी मदद से लाभार्थी अपनी छोटी-छोटी जरूरतों को आसानी से पूरा कर सकता है।प्रधानमंत्री मुद्रा लोन की मंजूरी मिलने के बाद बैंक अथवा लोन संस्थान लाभार्थी के लिए एक मुद्रा लोन अकाउंट खुलता है और इसके साथ ही एक डेबिट कार्ड भी जारी करता है। लोन की राशि उसी बैंक अकाउंट में ट्रांसफर की जाती है जिसमें लाभार्थी अपने व्यापार संबंधित कार्य करता है।

क्या प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में महिलाओं के लिए कुछ विशेष प्रदान किए गए हैं?

ऐसी महिलाएं जो उत्पाद निर्माण, सेवा आदि आर्थिक गतिविधियों से संबंधित कार्य करती हैं, उन्हें 'संयुक्त महिला उद्यमी योजना' के तहत आसानी से ऋण मिल सकता है। यह योजना भी मुद्रा लोन योजना का एक हिस्सा है। यह योजना विशेष रूप से महिला उद्यमियों को सशक्त और प्रोत्साहित करने के लिए डिज़ाइन की गई है। जिन महिलाओं की किसी कंपनी में 50% से अधिक वित्तीय भागीदारी है, वे इस श्रेणी के तहत मुद्रा लोन के लिए आवेदन कर सकती हैं।

हम उम्मीद करते हैं दोस्तों के आज के लेख में आपको बहुत सारी जानकारियां मिली होगी।यदि इसी तरह आप किसी अन्य विषय पर जानकारी चाहते हैं तो आप हमें कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं हम अगला लेख उस विषय पर लिखने का प्रयास करेंगे।

धन्यवाद

Updated: 26/12/2022 — 11:06 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *