PM Matritva Vandana Yojana 2023 | प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना ₹6000 पाए बिना कुछ खर्च किए: जाने कैसे?

PM Matritva Vandana Yojana 2023: –प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का शुरुआत देश की यशस्वी प्रधानमंत्री जी द्वारा 1 जनवरी 2017 को शुरू किया गया था। इस योजना के अंतर्गत सरकार पहली बार गर्भवती होने वाली तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओं को ₹6000 प्रदान करती है।इस योजना को एक और नाम प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना के नाम से भी जाना जाता है क्योंकि इस योजना के अंतर्गत गर्भधारण करने वाली महिलाओं को ही वित्तीय मदद प्रदान की जाती है।दोस्तों आज के इस लेख के माध्यम से हम योजना से जुड़ी सभी जानकारी आपको देने वाले हैं अतः आप इस आर्टिकल को ध्यान पूर्वक अंत तक पढ़ें।

PM Matritva Vandana Yojana 2023

                    PM Matritva Vandana Yojana 2023 Highlight     

योजना का नाम Pradhan Mantri Matritva Vandana Yojana 2023 [PMMVY]
योजना कीसके द्वारा शुरू की गई भारत सरकार द्वारा
योजना का लांच डेट 1 जनवरी 2017
योजना से संबंधित विभाग विभाग महिला और बाल विकास विकास मंत्रालय
आवेदन की अंतिम तिथि Not Applicable
लाभार्थी देश भर की गर्भवती महिला
योजना का लाभ 6000 रूपये(केवल पहली बार जीवित बच्चे के जन्म देने पर)
ऑफिसियल वेबसाइट https://wcd.nic.in/




⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2023-

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत पहली बार गर्भधारण करने वाली तथा स्तनपान कराने वाली महिलाओं को भारत सरकार द्वारा ₹6000 का वित्तीय मदद दिया जाता है। इस योजना का यह शर्त है कि इस योजना के अंतर्गत लाभ लेने वाली महिला का उम्र 19 वर्ष या उससे अधिक होना अनिवार्य होता है। इस योजना के अंतर्गत एक महिला एक बार अर्थात पहले बार गर्भधारण करने पर ही योजना का लाभ उठा सकें दूसरी बार गर्भधारण करने पर इस योजना का लाभ नहीं ले सकती।

  • इस योजना को शुरू करने का सरकार का उद्देश्य था कि महिलाएं बच्चे के जन्म जन्म के बाद अपनी  सेहत को बनाए रखने के लिए इस धन का उपयोग कर सकती है जिससे जच्चा और बच्चा दोनों कुपोषण के शिकार से बच सकता है।
  • प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत बच्चे के जन्म के बाद कुछ धन मिल जाने से अपने बच्चे का देखभाल भी ठीक प्रकार से कर पाएंगे साथ ही समय समय पर टीकाकरण भी करवा सकेंगी। इस योजना का लाभ लेने के लिए एक शर्त यह भी है कि महिला का गर्भ धारण 1 जनवरी 2017 के बाद वह होना चाहिए तभी वह इस योजना के अंतर्गत लाभ ले सकती है।

मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना 2022-23 रजिस्ट्रेशन करें, मिलेगे 15000 रूपए | Kanya Sumangala Yojana

Keep India Smiling Foundational Scholarship: 20 से 50 हजार रुपयों की स्कॉलरशिप पाने का सुनहरा मौका, ऐसे करे आवेदन

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आवेदन कैसे और कहां करें?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में आवेदन करने की प्रक्रिया बहुत ही आसान होती है योजना में आवेदन करने के लिए गर्भवती महिलाओं को अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र में जाना चाहिए अथवा अपने नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र में जाना चाहिए।प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ उठाने के लिए महिलाओं को अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र अथवा स्वास्थ्य केंद्र में जाने के बाद 3 फॉर्म भरने होते हैं इन 3 फॉर्म भरने के बाद आपकी आवेदन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी  और जब आपका पहला जीवित बच्चा जन्म ले लेगा तब सरकार आपको ₹6000 का वित्तीय मदद प्रदान करेगी।

Join Our Telegram Group Click Here

PM Matritva Vandana Yojana 2023

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ अब प्राइवेट अस्पतालों में भी मिलेगा-

प्राप्त जानकारी के अनुसार अब प्राइवेट अस्पतालों में भी प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ दिया जाएगा बशर्ते सर दिया है कि महिला को अपने किसी नजदीकी सरकारी अस्पताल में जाकर आवेदन करना होगा अथवा आंगनवाड़ी केंद्र में जाता आवेदन करना होगा।सीएमओ डॉ मनोज अग्रवाल ने बताया कि प्राइवेट अस्पतालों के साथ सरकार की बातचीत चल रही है जल्द ही इस योजना को सरकारी अस्पतालों के साथ-साथ प्राइवेट अस्पतालों में भी शुरू कर दी जाएगी जिससे बड़े पैमाने पर गर्भवती महिलाओं को इस योजना का लाभ मिलेगा।

PM Matritva Vandana Yojana 2023

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत वित्त का वितरण किस प्रकार से किया जाएगा?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत वित्त का वितरण किसी महिला द्वारा जीवित बच्चे के जन्म देने के बाद यह धन महिला को DBT के माध्यम से लाभार्थी के खाते में सीधे सरकार द्वारा भेज दिया जाता है यह धन लाभार्थी को 3 चरणों में  दीया जाता है जो निम्नलिखित है-

  1. पहले चरण का क़िस्त 1000: गर्भवती महिला जब अपना पंजीकरण करती है उस समय ₹1000 उन्हें प्रदान किया जाता है
  2. दूसरे चरण की किस्त 2000: महिला को तब प्रदान किया जाता है जब वह 6 महीने बाद तथा प्रसव से  पूर्व एक जांच करवाती है
  3. तीसरे चरण की किस्त ₹2000: यह महिला को कब प्रदान किया जाता है जब वह प्रसव के बाद अपने बच्चे को BCG, OPV, DPT और हेपेटाइटिस-B सहित पहले टीके का चक्र शुरू होता है ।




इस योजना का लाभ ऐसी महिलाएं नहीं उठा सकती जो-

  • राज्य सरकार अथवा केंद्र सरकार में अपनी सेवाएं दे रही हैं, अथवा लाभ के पद पर हैं वह इस योजना का लाभ नहीं उठा सकती
  • ऐसी महिलाएं जो समान प्रकार की योजना का लाभ पहले  से ले रही हैं वह भी इस योजना का लाभ नहीं ले सकती

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • माता-पिता का आधार कार्ड
  • माता-पिता का पहचान पत्र
  • बच्चे का जन्म प्रमाण पत्र
  • बैंक खाते की पास-बुक

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के हेल्पलाइन नंबर में किया गया बदलाव-

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022 का हेल्पलाइन नंबर अब चेंज होकर 104 हो गया है। यह हेल्पलाइन नंबर पहले 7998799804 हुआ करता था। केंद्र सरकार द्वारा इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं को उनके लालन  पालन व पोषण के लिए तीन किस्तों में ₹5000 की धनराशि मानदेय के रूप में प्रदान की जाती है।

PM Matritva Vandana Yojana 2023

Quick Links




Direct Link To Application Form Click Here
Sbi Mudra Loan 50000 Online Click Here
PNB E Mudra Loan
Click Here
Join Our Telegram Group Click Here

ये भी पढ़ें-

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में आवेदन कैसे कर सकते हैं?

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ उठाने के लिए गर्भवती महिला को आशा कर्मचारी, आशा संगिनी आदि के माध्यम से फॉर्म भरना होगा। यह फॉर्म इंचार्ज मेडिकल ऑफिसर के पर्यवेक्षण में भरा जाएगा।फॉर्म भरते समय लाभार्थी को सभी महत्वपूर्ण दस्तावेज जैसे कि आधार कार्ड, बैंक अकाउंट डिटेल, मदर चाइल्ड सिक्योरिटी कार्ड एवं जांच रिपोर्ट आदि जमा करने होंगे।

क्या प्रधानमंत्री मातृत्व योजना के अंतर्गत आवेदन के लिए पैसे जमा करने होते हैं?

प्रधानमंत्री प्रधानमंत्री मातृत्व योजना के अंतर्गत आवेदन करने के लिए किसी भी प्रकार के पैसे जमा नहीं करने होते हैं यदि कोई वेबसाइट आपसे किसी भी प्रकार की पैसे जमा करने के लिए कहता है तो आप इसे बचे हैं क्योंकि ऐसा देखा गया है कि सरकारी योजनाओं के नाम पर ऐसी बहुत सी फर्जी वेबसाइट बन चुकी हैं जो लोगों से पैसे ठगने का काम कर रही हैं।

 

Updated: 02/01/2023 — 12:46 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *