Online Product Fake Review: अमेजन, फ्लिपकार्ट और मिंत्रा जैसी ऑनलाइन कम्पनियों के लिए बड़ी अपडेट, वेबसाइट से हटाना होगा फेक प्रोडक्ट रिव्यू

Online Product Fake Review:  क्या भी  ई कॉमर्स कम्पनियों  द्धारा दिये जाने वाले  ऑनलाइन फेक प्रोडक्ट रिव्यू  से  परेशान  है तो हमारा यह आर्टिकल केवल और केवल आपके लिए है जिसमे हम, आपको  केंद्र सरकार  द्धारा  फेक प्रोडक्ट रिव्यू  को लेकर जारी  अपडेट्स  के बारे मे बताने का प्रयास करेगें जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी हम, आपको इस आर्टिकल मे प्रदान करेगें और इसीलिए हम, आपको इस आर्टिकल मे विस्तार से Online Product Fake Review  को लेकर तैयार  रिपोर्ट  के  बारे मे बतायेगें।

BiharHelp App

इस आर्टिकल मे हम, आपको विस्तार से ना केवल Online Product Fake Review  के बारे मे बतायेगें बल्कि हम, आपको ग्राहको  की  शिकायतो  को लेकर जारी नये आंकड़ो  के बारे मे बताने का  प्रयास  करेगें जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी प्राप्त करने हेतु आपको हमारे साथ बने रहना होगा तथा

ONLINE PRODUCT FAKE REVIEW

आर्टिकल के अन्तिम चरण मे हम, आपको  क्विक लिंक्स  प्रदान करेगें ताकि आप इसी प्रकार के आर्टिकल्स कोे प्राप्त करके इनका लाभ प्राप्त कर सकें।

Read Also – NDA 2 Exam 2024 Online Form Available: Exam Date, Age Limit, Application Form Eligibility & Apply Online Now

Online Product Fake Review – Overview

Name of the Article Online Product Fake Review
Type of Article Latest Update
Article Useful For All of Us
Detailed Information of Online Product Fake Review? Please Read the Article Completely.

अमेजन, फ्लिपकार्ट और मिंत्रा जैसी ऑनलाइन कम्पनियों के लिए बड़ी अपडेट, वेबसाइट से हटाना होगा फेक प्रोडक्ट रिव्यू, जाने क्या है पूरी रिपोर्ट – Online Product Fake Review?

इस आर्टिकल मे हम, आप सभी पाठको सहित नागरिको का  हार्दिक स्वागत  करते हुए आपको   ऑनलाइन ई कॉमर्स क्पनियों  के लिए जारी  न्यू अपडेट्स  पर तैयार रिपोर्ट  के बारे मे बताना चाहते है जिसके  मुख्य बिंदु कुछ इस प्रकार से हैें –

Read Also – BSF Group A, B, C Paramedical, Workshop & Veterinary Staff Recruitment 2024 Notification Out For 141 Post, Online Apply

Online Product Fake Review – संक्षिप्त परिचय

  • जैसा कि, आप सभी जानते है कि, दिन व दिन  ई कॉमर्स कम्पनियों  जैसे कि  – अमेजन, फ्लिकार्ट या मित्रा  जैसी कम्पनियों का  भारतीय बाजारों  पर  कब्जा  होते चला जा रहा है जिसका  दुष्परिणाम  यह है कि, ई कॉमर्स प्लेटफॉर्म्स  द्धारा अपने  प्रोडक्ट्स  की  सेल  बढाेन  हेतु  पोर्टल या वेबसाइट   पर  किसी भी प्रोडक्ट  का  फेक रिव्यू  दिये रहते है जिसे  पढ़कर और विश्वास  करके  ग्राहक  उस  प्रोडक्ट  को  खरीद  लेते है  और आगे चलकर  ग्राहक  को  भारी नुकसान  का सामना करना पड़ता है और ग्राहक  को  असुविधा  ना हो इसके लिए हम, आपको इस आर्टिकल की मदद से विस्तार से Online Product Fake Review  को लेकर  तैयार रिपोर्ट  के बारे मे बतायेगें जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी हम, आपको इस आर्टिकल मे प्रदान करेगें जिसके लिए आपको अन्त तक हमारे साथ बने रहना होगा।

ई कॉमर्स कम्पनियों को हटाना होगा फेक प्रोडक्ट रिव्यू – केंद्र सरकार का नया आदेश

  • इस आर्टिकल की मदद से हम, आपको बताना चाहते है कि,  ग्राहको  की  लगातार मिल  रही  शिकायतों  को  मद्देनजर  रखते हुए  केंद्र सरकार  ने, अलग – अलग  ई कॉमर्स वेबसाइट्स  जैसे कि –  अमेजन, फ्लिपकार्ट और मिंत्रा  जैसी  ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट्स  अपने  वेबसाइट्स  पर से सभी प्रकार के  प्रोडक्ट्स  के  फेस रिव्यू  को  हटाने  का  तत्काल और सख्त आदेश दिया गया है ।

ई कॉमर्स कम्पनियां एडिट या नहीं हटा पायेगी ग्राहको के असली रिव्यू – केंद्र सरकार

  • यहां पर हम, आपकोे बताना चाहते है कि,  अलग – अलग ऑनलाइन ई कॉमर्स कम्पनियों  द्धारा अपने  प्रोडक्ट्स  पर  ग्राहको  के  वास्तविक कमेंट या फीडबैक  को या तो  हटा  दिया जाता है या फिर उसे  एडिट  करके  कम्पनी को प्रोडक्ट  के  हित  मे लिखा जाता है जिससे  ग्राहक, कम्पनी  के  झांसे  मे आ जाते है,
  • कम्पनियों  की  इसी प्रवृति  को रोकने हेतु  केंद्र सरकार  ने,  सख्त आदेश  देते हुए कहा है कि,  कोई भी ई कॉमर्स कम्पनी  अपने  प्रोडक्ट्स  पर मिलने  ग्राहको  के  वास्तविक कमेंट या फीडबैक  को  एडिट ना करे या उसे हटायें  नहीं और इसके लिए  कम्पनियों  को  रिव्यू / फीडबैक  को  हटाने या एडिट  करने का  विकल्प  दिया ही नहीं जायेगा।

सरकारी आदेश का पालन ना करने वाली ई कॉमर्स कम्पनी होगी सीधी कार्यवाही

  • साथ ही साथ हम, आपको बताना चाहते है कि,  उपभोक्ता मालमो  की सचिव श्रीमति. निधि खरें  ने साफतौर पर कहा है कि,   जिन ई कॉमर्स कम्पनियों  को कहा है कि, यदि  ई कॉमर्स कम्पनियों, सरकार  के  आदेश  का पालन नहीं करती है तो उन पर  सरकार  द्धारा  सीधी और निर्णायक कार्यवाही  की जायेगी।

ऑनलाइन प्रोडक्ट्स को करना होगा BIS मानको को पूरा – केंद्र सरकार

  • केंद्र सरकार  ने, साफ तौर पर कहा है कि,  सभी ऑनलाइन कम्पनियों  को  अपने वेबसाइट  से  घटिया और बेकार प्रोडक्ट्स  को  हटाना पड़  सकता है क्योंकि अब  ई कॉमर्स वेबसाइट्स  पर  उपलब्ध प्रोडक्ट्स  को   BIS Standards  से होकर गुजना होगा जिसमे यदि कोई प्रोडक्ट  फेल  हो जाता है तो कम्पनी  को  उस प्रोडक्ट  को  हटाना  पड़ सकता है जो कि,  ग्राहको  के  हित   मे लिया गया एक  क्रान्तिकारी कदम  सिद्ध होगा।

शिकायतो को लेकर नये आंकड़े जारी

  • यहां पर हम, आपको बताना चाहते है कि,  ई कॉमर्स कम्पनियों  के  फेक / फर्जी प्रोडक्ट रिव्यू और घटिया सामान  को लेकर  ग्राहको  की  शिकायत  लगातार बढ़ती जा रही है जिसका  प्रत्यक्ष प्रमाण  यह है कि, साल 2018  मे  शिकायतों  की  संख्या 95,270  थी जो कि, साल 2023   मे बढ़कर 4,44,034  हो गई है  जो कि, अब तक दर्ज हुई  शिकायतों  का  मात्र 43%  है आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको विस्तार से पूरी  रिपोर्ट  के बारे मे बताया ताकि आप आसानी से पूरी – पूरी  रिपोर्ट  का लाभ प्राप्त कर सकें।

सारांश

इस आर्टिकल मे हमने आपको विस्तार से ना केवल Online Product Fake Review  के बारे मे बताया बल्कि हमने आपको विस्तार से  कम्पनियों  द्धारा दिये जाने वाले  फेक / फर्जी प्रोडक्ट रिव्यू  को लेकर  तैयार रिपोर्ट  के बारे मे बतायेगें जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी हम, आपको इस आर्टिकल मे प्रदान करेगें जिसके लिए आपको हमारे साथ बने रहना होगा तथा

आर्टिकल के अन्तिम चरण मे हम, आपसे उम्मीद करते है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को  लाईक, शेयर व कमेेंट  करेगें।

क्विक लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’as – Online Product Fake Review

Can online reviews be faked?

Online reputation building works both ways. Businesses may falsely bolster their reputations while slaying legitimate businesses in the online reviews arena. It's one of the most sinister sides of business, and there are countless tales of honest business owners losing everything due to fake reviews.

Are online product reviews legit?

You should be able to trust that these reviews reflect the honest opinions of people who actually used a product or service. Unfortunately, some reviews are fake, deceptive, or manipulated — and that hurts both people and honest companies.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *