Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023: सरकार ने किसानो को दिया फ्री बीज का तौहफा, जाने कैसे करना होगा आवेदन?

जाने इस पोस्ट में क्या क्या है

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023: क्या आप भी राजस्थान राज्य  के रहने वाले एक  किसान  है और  कम पैदावार  की समस्या से परेशान है तो आपके लिए राजस्थान सरकार ने, राज्य के सभी किसानों के लिए Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023  को शुरु किया है जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में, प्रदान करेगे।

साथ ही साथ हम आप सभी राज्य के किसानों को Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023  मे आवेदन हेतु मांगे जाने वाले सभी दस्तावेजो एंव योग्यताओं के बारे मे बतायेगे ताकि आप सभी इस योजना में भारी मात्रा मे आवेदन करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

और अन्त में, हम  आपको क्विक लिंक्स  प्रदान करेगे ताकि आप आसानी से इसी प्रकार के आर्टिकल्स को लगातार प्राप्त करके इनका लाभ प्राप्त कर सकें।

Read Also – Bihar Bhumi Parimarjan Online: बिहार राजस्व विभाग ने शुरु किया भूमि परिमार्जन की ऑनलाइन प्रक्रिया, ऐसे करे सुधार?

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023 – एक नजर

विभाग का नाम कृषि विभाग, राजस्थान सरकार
योजना का नाम मुख्यमंत्री बीज स्वावलम्बन योजना
आर्टिकल का नाम Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023
आर्टिकल का प्रकार सरकारी योजना
योजना में कौन आवेदन कर सकता है? राज्य के सभी किसान आवेदन कर सकते है।
योजना का लाभ क्या है? योजना के तहत चयनित किसानों को  फ्री बीज  प्रदान किये जायेगे।
योजना मे कैसे आवेदन करना होगा? ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया को अपनाते हुए आवेन करना होगा।
विस्तृत जानकारी  कृप्या करके आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढें।



राजस्थान सरकार ने किसानो को दिया फ्री बीज का तौहफा,  जाने कैसे करना होगा आवेदन – Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023?

हम, अपने इस आर्टिकल में, आप सभी  राजस्थान राज्य  के  किसान भाई – बहनो  का  हार्दिक स्वागत करते हुए आपको आपको राजस्थान सरकार  की नई  किसान हितकारी योजना  अर्थात् Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023  के बारे में बताना चाहते है जिसके लिए आपको ध्यानपूर्वक इस आर्टिकल को पढ़ना होगा।

आपको बता दें कि, राज्य के आप सभी किसानों को Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023  का लाभ प्राप्त करने के लिए  ऑफलाइन आवेदन प्रक्रिया  को अपनाते हुए  आवेदन  करना होगा जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी हम आपको प्रदान करेगे ताकि आप इस योजना मेे भारी मात्रा में आवेदन करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।

और अन्त में, हम  आपको क्विक लिंक्स  प्रदान करेगे ताकि आप आसानी से इसी प्रकार के आर्टिकल्स को लगातार प्राप्त करके इनका लाभ प्राप्त कर सकें।

Read Also – Ayushman Golden Card List 2023: आयुष्मान गोल्ड कार्ड की नई लिस्ट हुई जारी, ऐसे करें लिस्ट में अपना नाम चेक?

Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023 – योजना का क्रियान्वयन कैसे किया जाता है?

आईए अब हम आपको बताते है कि, इस योजना का क्रियान्वयन  कैसे किया जाता है जो कि, इस प्रकार से हैं –

प्रथम चरण – फसल का चयन किया जाता है

  • खरीफ सीजन में ज्वार, सोयाबीन, मूंगफली, मूंग, मोठ एवं ड़द तथा रबी सीजन में गैंहूं, जौ, चना फसलों की 10 वर्ष से कम अवधि की अधिसूचित किस्मों का बीज उत्पादन कार्यक्रम।

द्धितीय चरण – कृषक समूह का गठन किया जाता है

  • योजनान्तर्गत प्रगतिशील एवं फसल विशेष की खेती में रूचि रखने वाले कृषको का चयन कर समूह का गठन किया जाता हैस
  • प्रत्येक समूह में 30 से 50 कृषकों का चयन, जिनके द्वारा उस फसल का सामान्यतः बोया जाने वाला क्षेत्रफल 50 से 100 हैक्टर तक होगा आदि।



तृतीय चरण – समूह मे बीज उत्पादक सदस्यो का चयन किया जाता है

  • कृषक समूह में से आवश्यकतानुसार 2 – 4 बीज उत्पादक कृषकों का चयन समूह द्वारा ही किया जाता है। समूह में शेष वे कृषक होंगे, जो उक्त उत्पादित बीज को आगामी वर्ष में बुआई हेतु उपयोग में लेंगे।

चतुर्थ चरण – नि- शुल्क बीज का वितरण किया जाता है

  • प्रत्येक कृषक समूह के बीज उत्पादक कृकों को वांछित आधार/प्रमाणित बीज निःशुल्क उपलब्ध करवाये जाने का प्रावधान।

पंचम चरण – बीज उत्पादन हेतु प्रशिक्षण एवं रोगिंग किया जाता है

  • एक समूह के एक दिवसीय प्रशिक्षण पर प्रति कृषक 30/- रुपये एवं प्रति प्रशिक्षण अधिकतम 1500/- रुपये व्यय किये जाने का प्रावधान है,
  • समूह के किसानों को बीज उत्पादन प्रक्रिया की पूर्ण जानकारी देने के लिए एक दिवसीय तीन प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये जाते है और
  • रोगिंग हेतु कृषको को किया जाने वाला भुगतान (1000/-रुपये/हैक्ट.) डी.बी.टी./आर.टी.जी.एस. के माध्यम से संबंधित बीज उत्पादक कृषक के खाते में किया जाता है आदि।

उपरोक्त सभी बिंदुओँ की मदद से हमने आपको इस योजना के चरणबद्ध क्रियान्वयन की जानकारी प्रदान की ताकि आप इस योजना में जल्द से जल्द आवेदन करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकें।



मुख्यमंत्री बीज स्वावलम्बन योजना 2023 – क्या पात्रता होनी चाहिए?

साथ ही साथ आप सभी किसानों को इस योजना में आवेदन करने के लिए कुछ पात्रताओं की पूर्ति करनी होगी जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • आवेदक पेशे से  किसान  होना चाहिए,
  • किसान, अनिवार्य तौर पर राजस्थान राज्य  का मूल नागरिक होना चाहिए आदि।

उपरोक्त सभी योग्यताओं की पूर्ति करके आप इस योजना में आवेदन कर सकते है और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।

Required Documents For Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023?

इस योजना में आवेदन करने के लिए आप सभी किसानों के पास कुछ दस्तावेज होने चाहिए जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • आवेदक किसान का आधार कार्ड,
  • किसान का  बैंक खाता पासबुक,
  • चालू मोबाइल नंबर और
  • पासपोर्ट साइज फोटो आदि।

उपरोक्त सभी दस्तावेजो की पूर्ति करके आप इस योजना मे आसानी से आवेदन कर सकते है और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।



How to Apply Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023?

राजस्थान राज्य  के  हमारे सभी किसान जो कि, इस योजना मे आवेदन करना चाहते है उन्हें इन स्टेप्स को फॉलो करके  आवेदन  करना होगा जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023  मे,  आवेदन  करने के लिए सबसे पहले आप सभी किसानों को अपने – अपने ग्राम पंचायत  के  वार्ड सदस्य या फिर मुखिया  के पास जाना होगा,
  • इसके बाद आपको उनसे  आवेदन प्रत्र  प्राप्त करना होगा,
  • अब आपको इस  आवेदन फॉर्म  को ध्यानपूर्वक पढ़ना व भरना  होगा,
  • मांगे जाने वाले सभी दस्तावेजो की  स्व – अभिप्रमाणित  छायाप्रतियों  को  आवेदन फॉर्म  के साथ  अटैच  करना होगा और
  • अन्त में, आपको अपने सभी  दस्तावेजो एंव आवेदन फॉर्मो  को  अपने ग्राम पंचायत  मे जमा करना होगा और इसकी रसीद प्राप्त  कर लेनी होगी आदि।

उपरोक्त सभी स्टेप्स को फॉलो करके आप सभी राजस्थान राज्य के किसान  मुख्यमंत्री बीज स्वावलम्बन योजना 2023  मे  आवेदन  कर सकते है और इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है।

सारांश

अपने इस आर्टिकल की मदद से हमने आप सभी  राजस्थान  राज्य  के किसान भाई – बहनो  को ना केवल Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023  के बारे मे बताया ताकि आप सभी किसान जल्द से जल्द इस योजना मे आवेदन करके इस योजना का लाभ प्राप्त कर सके और बेहतर उत्पादन करके अपने उज्जवल भविष्य का निर्माण कर सकें।

वहीं, आर्टिकल के अन्त में, हमे आप सभी किसानों से उम्मीद है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक, शेयर व कमेेंट करेगे।

क्विक लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – Mukhyamantri Beej Swavalamban Yojana 2023

मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना की शुरुआत कब हुई?

मुख्यमंत्री बीज स्वावलंबन योजना कब शुरू हुई? Ans. राजस्थान सरकार ने मुख्यमंत्री कृषक साथी योजना के अंतर्गत मुख्यमंत्री बीज स्वावलम्बन योजना वर्ष 2017-18 में प्रारम्भ की गई।

स्वावलंबन योजना के लिए कौन आवेदन कर सकता है?

हिमाचल प्रदेश का कोई भी मूल निवासी, जिसकी उम्र 18 से 35 के बीच हो, इस रोजगार योजना में आवेदन कर सकता है।

Related Posts

Updated: 10/02/2023 — 9:57 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *