Dron Yojana: किसानों को खेती के लिए मिल रहा है ड्रोन, अब कीटनाशक का आसानी से होगा छिड़काव कैसे करें आवेदन

Drone Yojana – सरकार किसानों के हित के लिए विभिन्न प्रकार के योजनाओं को लागू करती रहती है। इसका मुख्य उद्देश्य कृषि क्षेत्र को बढ़ावा देना है। पूरी दुनिया में आधुनिक उपकरणों की मदद से खेती को बेहतर बनाया जा रहा है।

इसकी एक पल ड्रोन दीदी योजना के तहत भारत देश में भी की जा रही है। ड्रोन की मदद से खेत में कीटनाशक का छिड़काव और खेत पर नजर रखना आसान हो सकता है। सरकार खेती के लिए ड्रोन मुहैया करवा रही है और उसमें होने वाले खर्च का 50% से 90% सब्सिडी के रूप में दे रही है। इस योजना का मुख्य रूप से लाभ महिलाओं को मिलने वाला है, लेकिन आज के लेख में हम आपको बताएंगे कि इसके लिए आवेदन प्रक्रिया क्या होगी और कौन सी पात्रता को पूरा करना होगा।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

ड्रोन एक नई तकनीक है जिसका इस्तेमाल खेती के लिए किया जा रहा है। इसका इस्तेमाल करके आप आसानी से खेत में कीटनाशक और खाद का छिड़काव कर सकते हैं इसके अलावा खेत पर नजर भी रख सकते है। लेकिन ड्रोन चलाना एक अलग प्रक्रिया होती है सरकार उसके लिए ट्रेनिंग भी दे रही है। किस प्रकार आप इन सभी सुविधाओं का लाभ उठा पाएंगे इसे जानने के लिए हमारे लेख के साथ अंत तक बन रहे।

drone Yojana

Drone Yojana – Overview

Name of Post  Drone Yojana 
When you get drone Process is given below
Subsidy  SC/ST Farmers – 50% 

General – 40%

Women – 75 to 80%

Eligibility  Women of SHGs

SC/ST, OBC, and GEN Farmers 

Apply Process  Wait

Must Read

Drone Yojana: खेती के लिए सरकार दे रही है ड्रोन

हाल ही में सरकार ने खेती के लिए महिलाओं के स्वयं सहायता समूह को ड्रोन की मंजूरी दे दी है। 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा यह वादा किया गया था कि लखपति दीदी योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्र में महिलाओं को लखपति बनाने का प्रयास किया जाएगा। ऐसे में देश के अलग-अलग ग्रामीण क्षेत्र में संचालित स्वयं सहायता समूह की महिलाओं को drone की सुविधा दी जा रही है। इस योजना को भारत के अलग-अलग क्षेत्र में ड्रोन दीदी योजना के नाम से जाना जा रहा है।



आपको बता दे ग्रामीण इलाके में ड्रोन की सुविधा देने हेतु 15 000 स्वयं सहायता समूह की पहचान की गई है। आपको बता दे हर राज्य में काम से कम 1000 हेक्टेयर जमीन की पहचान की जाएगी जहां ड्रोन के जरिए खेती होगी। इसके लिए सरकार क्लस्टर लेवल फेडरेशन का गठन करने वाली है। इस फेडरेशन के लोग स्वयं सहायता समूह की पहचान करेंगे और खेती करने योग्य जमीन की तलाश करेंगे।

किस किस को कितनी सुविधा मिल रही है

इस योजना का मुख्य उद्देश्य खेती की लागत को कम करना और खेती के उत्पादन को बढ़ाना है। इसके लिए कुछ किसान और जमीनों का मापदंड निर्धारित किया गया है – 

  • ऐसे किसान जो एससी एसटी वर्ग से ताल्लुक रखते हैं उन्हें ₹500000 तक का अनुदान दिया जाएगा। ड्रोन की कीमत 10 लख रुपए तक है इस वजह से इन्हें 50% की सब्सिडी मिलेगी।
  • स्वयं सहायता समूह को 75% की सब्सिडी पर ड्रोन दिया जाएगा और उस समूह से जुड़े हर व्यक्ति को ट्रेनिंग दी जाएगी और हर व्यक्ति उसका इस्तेमाल कर पाएगा।
  • सामान्य वर्ग के लोगों को खेती करने के लिए 40% की सब्सिडी दी जाएगी अर्थात चार लाख रुपए मिलेंगे बाकी आपको लोन लेना होगा।

ड्रोन उड़ने की ट्रेनिंग कैसे मिलेगी

सरकार अलग से एक फेडरेशन का गठन करने वाली है जो ड्रोन से खेती करने योग्य जमीन और स्वयं सहायता समूह के साथ-साथ ट्रेडिंग की पहचान भी करेंगे। इसके अलावा कृषि संस्था में ट्रेनिंग दी जाएगी ट्रेनिंग में आपको पूरी तरह से 100% सब्सिडी पर लोन दिया जाएगा। ट्रेनिंग पर लगने वाला पैसा आपको पूरी तरह से वापस मिलेगा और साथ ही ड्रोन उड़ने पर नौकरी भी मिलेगी।



स्वयं सहायता समूह से जुड़ी महिला ड्रोन उड़कर अगर खेती करना चाहती है। तो एक पायलट का गठन और एक को पायलट का गठन किया जाएगा जिन्हें हर महीने तनख्वाह मिलेगी और वह अपने स्वयं सहायता समूह के किसानों के लिए ड्रोन उड़ने का काम करेंगी। ट्रेनिंग में आपको ड्रोन उड़ने की प्रक्रिया उसको लैंड करने की प्रक्रिया और इसके साथ-साथ कुछ छोटे-छोटे टेक्निकल चीज भी समझाइए ताकि बिगड़ने पर आप ड्रोन खुद से तैयार कर सकें।

ड्रोन की सुविधा पाने के लिए पात्रता

  • कोई महिला अगर ग्रामीण कृषि स्वयं सहायता समूह से जुड़ी है तो उसे इसका मदद दिया जाएगा।
  • इसके अलावा किस का भारत का मूल नागरिक होना आवश्यक है।
  • आवेदन करने वाले किसान के पास खुद की जमीन होनी चाहिए किसी और की जमीन पर खेती करने वाले किसानों को इसका लाभ नहीं मिलेगा।

ड्रोन सहायता के लिए आवेदन कैसे करें

वर्तमान समय में ड्रोन सहायता के लिए आवेदन प्रक्रिया को शुरू नहीं किया गया है। इस योजना की अधिक जानकारी हेतु आप स्थानीय कृषि विभाग में जाकर संपर्क कर सकते है। अभी इस योजना का केवल ऐलान किया गया है, जल्द ही इस योजना से जुड़ी जानकारी को भी साझा किया जाएगा। अगर आप इसके लिए आवेदन करना चाहते हैं तो अभी आपको थोड़ा इंतजार करना होगा और स्थानीय कृषि विभाग में जाकर इसके बारे में संपर्क कर सकते हैं।

निष्कर्ष

हमने सभी अभिभावकों को ड्रोन सहायता (Drone Yojana) के बारे में विस्तार पूर्वक जानकारी दी है जिसे पढ़कर आप आसानी से समझ सकते हैं कि ड्रोन का इस्तेमाल किस प्रकार किया जाता है और किस तरह आप आसानी से इस तरह ड्रोन का इस्तेमाल करके अपने खेती के कमाई को बढ़ा सकते हैं।

Related Posts

Updated: 16/12/2023 — 11:12 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *