Bihar Niyojit Shikshak: नियोजित शिक्षको को राज्य कर्मचारी / कर्मी का दर्ज मिले या नहीं, इस बिहार में चर्चा शुरु, आप भी बतायें अपने सुझाव?

Bihar Niyojit Shikshak: क्या आप भी  बिहार  मे  नियोजित शिक्षक  के तौर पर  कार्यरत है तो आपके लिए  अच्छी खबर  है कि, जल्द ही आपको  राज्य कर्मी  का  दर्जा दिया जा सकता है क्योेंकि  बिहार सरकार  ने, इस  मुद्दे  को लेकर कैबिनेट चर्चा  को शुरु  कर दिया है तथा इसी वजह से हम, आपको  इस लेख मे विस्तार से Bihar Niyojit Shikshak के बारे में बताया।

आपको बता देना चाहते है किBihar Niyojit Shikshak  के तहत  कुल 4 लाख नियोजित शिक्षको  को  राज्य कर्मी  का दर्जा दिये जाने को लेकर  चर्चा  हो रही है औऱ जल्द ही  कोई बड़ी न्यू अपडेट  सामने आ सकती है जिसकी हम, आपको  त्वरित जानकारी  प्रदान  करेगे  एंव

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱
Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

लेख के अन्त में हम, आपको  क्विक लिंक्स  प्रदान करेगे ताकि आप आसानी से इसी प्रकार के आर्टिकल्स को प्राप्त करके इनका लाभ प्राप्त कर सकें।

Read Also – Ayushman Card App: अब घर बैेठे मोबाइल पर ₹5 लाख रुपयो का लाभ, आयुष्मान भारत योजना का तीसरा फेज शुरु

Bihar Niyojit Shikshak

Bihar Niyojit Shikshak : एक नज़र

Name of the Article Bihar Niyojit Shikshak
Type of Article Latest Update
Article Useful For? All Niyojit Shikshak’s of Bihar
Detailed Information Please Read The Article Completely.



नियोजित शिक्षको को राज्य कर्मचारी / कर्मी का दर्ज मिले या नहीं, इस बिहार में चर्चा शुरु, आप भी बतायें अपने सुझाव – Bihar Niyojit Shikshak?

बिहार सरकार  द्धारा  राज्य  मे सभी  नियोजित शिक्षको   को  राज्य कर्मचारी  / कर्मी  का  दर्जा   देने पर  विचार – विमर्श  किया जा रहा है और यही  विचार – विमर्श, संवाद  से  विवाद  का  रुप लेता  जा रहा है जिसको लेकर  बिहार  मे  तेजी  से  चर्चाओ  का दौर शुरु हो  चुका है और इसीलिए हम, आपको इस लेख में विस्तार से Bihar Niyojit Shikshak  को लेकर जारी  न्यू अपडेट  के बारे में बताना चाहते है जो कि, इस प्रकार से हैं –

Read Also – 

Bihar Niyojit Shikshak को लेकर जारी न्यू अपडेट क्या है?

  • सबसे पहले हम, आप सभी   पाठको  सहित सभी युवाओं  को बताना चाहते है कि,   बिहार सरकार  द्धारा  राज्य  में  नियोजित सभी शिक्षको  को राज्य कर्मचारी / कर्मी  का  दर्जा दिये जाने को लेकर  विचार विमर्श  शुरु हो चुका है औऱ
  • जल्द ही  राज्य सरकार  द्धारा   नियोजित शिक्षको  के  दर्जे  को लेकर  कोई बड़ा ऐलान  किया जा सकता है जिसकी हम, आपको  त्वरित जानकारी  प्रदान करेगे।

बिहार में कितने नियोजित शिक्षको को राज्य कर्मी का दर्जा दिये जाने पर बहस हो रही है?

  • बिहार राज्य  मे वर्तमान समय  की बात करें तो आपको बताना चाहते है कि,  वर्तमान समय मे  बिहार राज्य  मे  कुल 4 लाख नियोजित शिक्षक  है जिन्हें  राज्य कर्मी  का दर्जा  दिये जाने पर  विचार  चल रहा है,
  • राज्य सरकार का कहना है कि,  वित्त विभाग एंव कैबिनेट  द्धारा  स्वीकृति  मिलने के बाद  राज्य  के इन  4 लाख नियोजित शिक्षको  को   राज्य कर्मी  का दर्जा  दे दिया जायेगा।



1.70 लाख शिक्षको की भर्ती प्रक्रिया के बीच यह चर्चा बना सकती है तनाव का माहौल?

  • यहां पर हम, आपको बता देना चाहते है कि,  बिहार  मे  वर्तमान समय  मे  तेजी से 1.70 लाख शिक्षको  की  भर्ती प्रक्रिया  को  संचालित  किया जा रहा है और  इसी बीच नियोजित शिक्षको  को  राज्य कर्मी  का दर्जा दिये जाने का  मुद्दा  कहीं ना कहीं  तनाव का सबब  बन सकता है जिसकी हम, आपको   त्वरित जानकारी  प्रदान करते रहेंगे।

अन्त इस प्रकार हमने आपको विस्तार से  बिहार नियोजित शिक्षको  को लेकर जारी  न्यू अपडेट  के बारे में बताया ताकि आप इस  अपडेट  का लाभ प्राप्त कर सकें।

सारांश

राज्य के आप सभी  नागरिको, पाठको सहित शिक्षक  बनने की तैयारी कर रहे आप सभी  उम्मीदवारो  को हमने इस लेख में विस्तार से ना केवल Bihar Niyojit Shikshak  को लेकर जारी  न्यू अपडेट  के बारे में बताया बल्कि हमने आपको इससे संबंधित  महत्वपूर्ण अपडेट  भी प्रदान किया ताकि आप इस  पूरे  अपडेट  का लाभ प्राप्त कर सकें तथा

लेख के अन्तिम चऱण मे हमें, उम्मीद है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को  लाईक, शेयर व कमेंट  करेगे।

क्विक लिंक्स

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – Bihar Niyojit Shikshak

बिहार शिक्षक नियमावली 2023 क्या है?

बिहार शिक्षक नियमावली 2023 के अनुसार, पदोन्नति प्रक्रिया में सुधार किया गया है। अब शिक्षकों को नियमित रूप से कार्य करना, उनकी शिक्षा संबंधी योग्यता को मान्यता प्राप्त करना और चयन प्रक्रिया में सफलता प्राप्त करना होगा ताकि वे पदोन्नति का मान्यता प्राप्त कर सकें।

नियोजित शिक्षकों का मतलब क्या है?

ग्रामीण स्तर पर बेरोजगार युवाओं को रोजगार के अवसर मुहैया कराने और शिक्षकों की कमी झेल रहे सरकारी विद्यालयों में वर्ष 2003 से शिक्षा मित्र रखे जाने का फैसला किया गया था. उस समय दसवीं और बारहवीं में प्राप्त किए अंकों के आधार पर इन शिक्षकों को 11 महीने के कांट्रैक्ट पर रखा गया था.

Related Posts

Updated: 30/09/2023 — 10:14 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *