Bihar Jati Janganana: जाति जनगणना को मिली मंजूरी, 2023 तक पूरा होगा जनगणना का काम

Bihar Jati Janganana: बिहार की हमारी वे सभी जातियां जो कि, आज तक अनजान थी या जिनका नाम, बिहार जाति लिस्ट  मे नहीं था उनके लिए  खुशी की घड़ी   आ चुकी है क्योंकि  बिहार सरकार ने, Bihar Jati Janganana  को  हरी झंडी  दे दी है जिसकी पूरी विस्तृत जानकारी हम आपको इस लेख मे, प्रदान करेग।

आपको बता दें कि, Bihar Jati Janganana को लेकर  बिहार सरकार  द्धारा जारी  न्यू अपडेट  के अनुसार,  ना को जातिगत जनगणना  का आयोजन किया जायेगा बल्कि आर्थिक जनगणना  का भी आयोजन किया जायेगा ताकि बिहार सरकार को पूरा  डाटा  प्राप्त हो सके औऱ  बिहार  सरकार आपके लिए  अलग – अलग प्रकार की सकारी योजनाओं का निर्माण कर सके और  एक नये विकासशील बिहार  का निर्माण किया  जा सकें।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

अन्त, आर्टिकल के अन्त मे, हम आपको  क्विक लिंक्स  प्रदान करेगे ताकि आप  इसका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें।

Bihar Jati Janganana

Read Also – Bihar Police Fireman Exam Result 2022 Direct Download Link; How To Check Fastest Online

Bihar Jati Janganana – Overview

Name of the Article Bihar Jati Janganana
Type of Article Latest Update
Subject of Article Proper Details of जातित जनगणना
Caste Census Begins From? Very Soon…
Total Budget of This Census? 500 Crore Rs
Deadline of Caste Census? 2023
Nodal Officer? DM of Each District of Bihar




जाति जनगणना को मिली मंजूरी, 2023 तक पूरा होगा जनगणना का काम – Bihar Jati Janganana?

आप सभी बिहार राज्य के नागरिको व अलग – अल जातियो के लोगो को  जाति जनगणना  को लेकर जारी हुए  न्यू  अपडेट  के बारे मे  बताना चाहते है जो कि, इस प्रकार से हैं –

Read Also – Bihar Rural Development Recruitment 2022: बिहार ग्रामीण विकास भर्ती 2022, ऐसे करें आवेदन

Bihar Jati Janganana

Bihar Jati Janganana – मुख्य बिंदुओं पर एक नजर?

  • बिहार राज्य मे, पिछले काफी समय जाति की जनगणना  अर्थात् जातिगत जनगणना  के लिए  बातो और वार्ताओं का दौर  चल रहा था,
  • इन सभी वार्ताओं को दौरो को  ऩिर्णायक मोड़  देते हुए  बिहार सरकार ने, राज्य मे, Bihar Jati Janganana  2022  को  आधिकारीक मंजूरी  दे दी है
  • बिहार में,  आयोजित की जाने वाली इस जातिगत जनगणना  की पूरे  क्रियान्वयन की जिम्मेदारी DM के सुपुर्द किया गया है और इन्हें ही नोडल अधिकारी  बनाया गया है,
  •  आपको बता दे कि, इस पूरी  जातित जनगणना  के संचालन में, कुल  500 करोड़ रुपयो का खर्च आयेगा  और
  • तााजा मिली जानकारी के अनुसार,  जातिगत जनगणना  को  साल 2023  तक सफलतापूर्वक सम्पन्न कर लिया जायेगा आदि।

Bihar Jati Janganana  का लाभ क्या होगा?

  • इस जातिगत जनणना  की मदद से बिहार सरकार को  राज्य में,  रहने वाले अलग – अलग जातियो की पूरी – पूरी जानकारी प्राप्त  होगी,
  • बिहार सरकार, इन सभी  जातियो की पहचान  करके  उत्थान के लिए अनेको कल्याणकारी व विकासात्मक कदम उठाया जा सकें,
  •  राज्य की सभी  जातियो  की पहचान करके बिहार सरकार  इन सभी जातियो के  सामाजिक – आर्थिक विकास  के लिए अलग – अलग प्रकार के  विकासकारी व कल्याणकारी योजनाओं का शुभारम्भ किया जायेगा  ताकि सभी जातियो का सतत व सर्वांगिन विकास सुनिश्चित किया जा सकें आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको विस्तार से  बिहार जातिगत जनगणना  के बारे मे जारी  न्यू अपडेट्स  के बारे मे बताया ताकि आप इसका पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें।

सारांश

राज्य के आप सभी पाठको व अलग – अलग जातियो के  नागरिको को हमने इस आर्टिकल में, विस्तार से Bihar Jati Janganana  को लेकर बिहार सरकार द्धारा जारी सभी  न्यू अपडेट्स  के बारे मे बताया ताकि आप सभी इसकी पूरी – पूरी जानकारी प्राप्त कर सके और इसका लाभ प्राप्त कर सकें।

अन्त, हमें उम्मीद है कि, बिहार राज्य के आप सभी पाठको को हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक, शेयर व कमेट करेगे।

Quick Links

Join Our Telegram Group Click Here

FAQ’s – Bihar Jati Janganana

बिहार में किस जाति की कितनी जनसंख्या है?

जनगणना 2011: बिहार में 82% हिंदू, इसमें 51% आबादी ओबीसी की मोटे-मोटे तौर पर यह कहा जाता है कि बिहार में 14.4% यादव समुदाय, कुशवाहा यानी कोइरी 6.4%, कुर्मी 4% हैं। सवर्णों में भूमिहार 4.7%, ब्राह्मण 5.7%, राजपूत 5.2% और कायस्थ 1.5% हैं।

जातीय जनगणना कब हुई थी?

1931 के बाद 1941 को जाति के आधार पर जनगणना तो हुई थी, लेकिन इसके आंकड़ें सार्वजनिक नहीं किए गए. इसके बाद भारत आजाद हो गया और फिर 1951 में आजाद भारत की पहली जनगणना करवाई गई. हालांकि, इस दौरान ही ये फैसला ले लिया गया था कि अब जाति के आधार पर जनसंख्या की गिनती नहीं होगी

Updated: 07/09/2022 — 6:54 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *