बिहार के इन 12 जिलो में इंटरनेट बंद, फेसबुक व व्हटास्अप समेत 22 एप्प्स पर 3 तीन तक मैसेज – वीडियो सब बैन बिहार हेल्प से जानिए पूरी घटना

Agnipath Agnivir Scheme Protests: अग्निपथ योजना के तहत  देश के युवा वास्तविक मायनो  में अग्निथ पर चलते हुए देश की शासन व कानून व्यवस्था को खुली ललकार देते हुए हुंकार भर रहे है जिसका विध्वंसक परिणाम बिहार राज्य में देखने को मिल रहा है।

बिहार सरकार द्धारा लगातार युवाओँ द्धारा की जा रही इन हिंसात्मक कार्यवाहियो को रोकने के लिए  जबावी कार्यवाही करते हुए 12 जिलो में, 22 एप्प्स व इंटरनेट सेवाओं को बैन करने का ऐलान कर दिया गया है जिसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल मेें प्रदान करेगे।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

अन्त हम आपको इस आर्टिकल मे विस्तार से   Agnipath Agnivir Scheme Protests, agnipath scheme why protest?, why protest against agneepath scheme?.agneepath scheme protest reason?, agnipath protest why?, agneepath scheme controversy?  की जानकारी प्रदान करेगे ताकि आप पूरी स्थिति को समझ सकें।

Agnipath Agnivir Scheme Protests

Agnipath Agnivir Scheme Protests

बिहार राज्य समेत देश के सभी राज्यो मे,  अग्निथ योजना  को लेकर युवाओं द्धारा हिंसक प्रदर्शन किये जा रहे है और इसी क्रम में, बिहार में युवाओं द्धारा किये जा रहे हिंसक वारदातो की समस्या से निपटने के लिए बिहार सरकार ने, Agnipath Agnivir Scheme Protests के तहत अधिसूचना को जारी किया है।

Read Also – HQ Southern Command MH Ahmednagar Recruitment 2022: मुख्यालय दक्षिणी कमान एमएच अहमदनगर भर्ती 2022

Agnipath Agnivir Scheme Protests  के तहत हो रही भी हिंसात्मक वारदातो पर त्वरित जबावी कार्यवाही करने के लिए बिहार सरकार द्धारा उठाये गये सभी फैसलो  का बिंदु – दर – बिंदु विश्लेषण करते हुए पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल में प्रदान करेेगे जिसके लिए आपको अन्त तक इस आर्टिकल को पढना होगा।




Agnipath Agnivir Scheme Protests: बिहार के इन 12 जिलो में इंटरनेट बंद, फेसबुक व व्हटास्अप समेत 22 एप्प्स पर 3 तीन तक मैसेज – वीडियो सब बैन बिहार हेल्प से जानिए पूरी घटना?

बिहार में, लगातार बेकाबू  हो रहे युवाओं के आक्रोश पर शान्तिपूर्ण जबावी कार्यवाही करते हुए बिहार की नीतिश सरकार ने उठाया ब़ड़ा जिसकी  बिंदु – दर- बिंदु  जानकारी जानिए सबसे पहले  बिहार हेल्प  पर जो कि, इस प्रकार से हैं –

Agnipath Agnivir Scheme Protests

17 जून से लेकर 19 जून तक इन जिलो में इन्टरनेट सेवाओं पर बैन

  • Agnipath Agnivir Scheme Protests  को लेकर बिहार के  गृह विभाग ( स्पेशल ब्रांच ) को इस अकल्पनीय स्थिति से निटने के लिए  मुख्यमंत्री श्री. नीतिश कुमार द्धारा खुली जबावी कार्यवाही की मिली हरी झंडी,
  • मुख्यमंत्री से  हरी झंडी पाने के बाद बिहार गृह विभाग ( स्पेशल ब्रांच ) ने स्थिति  से निपटने हेतु बिहार के कुल 12 जिलो में,  इंटरनेट सेवाओं को पूर्णत बैन करने के जारी की अधिसूचना,
  • आपको बता दे कि, इस अधिसूचना के मुताबिक बिहार के 12 जिलो में 17 जून, 2022 से लेकर 19 जून, 2022 तक इंटरनेट सेवाओं पर पूर्ण बैन लगा दिया गया है,
  • बिहार के इन 12 जिलो में, बैन हुई इंटरनेट सेवायें – कैमुर, भोजपुर, औरंगाबाद, रोहतास, बक्सर, नवादा, पश्चिमी चम्पारण, समस्तीपुर, लखीसराय, बेगुसराय औऱ सारण जिले में इंटरनेट सेवाओं को तत्कालीन प्रभाव से बैन कर दिया गया है।




फेसबुक व व्हाट्सअप पर नहीं भेज पायेगे मैसेज व वीडियो

  • Agnipath Agnivir Scheme Protests  पर जबावी कार्यवाही करते हुए DGP ( Law and Order ) बिहार द्धारा राज्य के उपरोक्त 12 जिलो मे फेबुक, व्हाट्सअप समेल कुल 22 एप्प्स को बै कर दिया गया है जिसकी वजह से अब इन प्लेटफॉर्म्स पर भड़काऊं व हिंसाजनक संदेशो व वीडियो का आदान – प्रदान नहीं हो पायेगा,
  • तत्कालीन प्रभाव से बिहार राज्य में,  भारतीय धारा अधिनियम, 1885 की धारा 5 को तत्कालीन प्रभाव से लागू कर दिया गया है,
  • Agnipath Agnivir Scheme Protests  पर पूर्णत काबू पाने के लिए भारतीय धार अधिनियम, 1885 की धारा 5 के तहत राज्य में कानून व लोक व्यवस्था बनाये रखने के लिए श्री. चैन्य प्रसाद, Additional Chief Secretarym Home Departmet, Govt. of Bihar  को  स्वतंत्र रुप से कार्य करने का अधिकार दे दिया गया है ,
  • जबावी कार्यवाही के फलस्वरुप  बिहार के उपरोक्त 12 जिलो में 17 जून, 2022 से लेकर 19 जून, 2022 तक  कुल 22 एप्प्स पर मैसेज व वीडियो आदि भेजने पर लगा बैन।

इन 22 एप्प्स पर हुई सीधी कार्यवाही

  • Agnipath Agnivir Scheme Protests  को नियंंत्रित करने के लिए भारतीय धार अधिनियम, 1885 की धारा 5  के तहत इन 22 एप्पस को तत्कालीन प्रभाव से रद्द कर दिया गया गया है जो कि, इश प्रकार से हैं –
    Facebook, Twitter, WhatsApp, QQ, We Chat, Qzone, Tubir, Google +, Baidu, Skype, Viber, LIne, Snapchat, Pinterest, Telegram, Reddit, Snaptish, You Tube ( Upload ), Vinc, Xanga, Buaanet, Flicker  and Other Social Networking Sites Meant For Mess Messaging etc/

सरकारी इंटरनेट सेवायें रहेगी बहार

  • आपको बता दे Agnipath Agnivir Scheme Protests  के तहत इंटरनेट बैन करने के फैसले के दौरान बिहार सरकार द्धारा  सरकारीयो के सफल सम्पादन हेतु सरकारी इंटरनेट सेवायें बिना किसी समस्या से बहाल रहेंगी जैसे कि  –
  • BSWAN ( Bihar State Wide Area Network ),  NICNet, NKN ( National Knowledge Network ), Bihar SecLAN, G-SWAN, Railway and Other Government Services etc आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको विस्तार से पूरी जानकारी प्रदान की ताकि आप खुद स्थिति का मूल्यांकन कर सकें।

सारांश

भारत सरकार की योजनाओं, देश के सतत व सर्वांगिन विकास के लिए होती है लेकिन  अग्निपथ योजना  जिसे युवाओं के सपनो को पूरा करके उनका विकास करना था वो योजना  युवाओ को सड़को पर  उग्र  – हिंसात्मक प्रदर्शन  करने पर ले आई है जिसकी पूरी जानकारी हम आपको इस आर्टिकल मे, विस्तार से Agnipath Agnivir Scheme Protests  शीर्षक के तहत प्रदान की।

जन हित, युवा हित और राष्ट्र हित में बिहार हेल्प का विनम्र अनुरोध

अन्त, अपने सभी  बिहार हेल्प के नियमित युवाओं व अन्य युवाओं से विनम्र अनुरोध है कि, प्रदर्शन करें, धरना करें, अपने अधिकार  के लिए आवाज उठाये लेकिन हिंसा ना करें, हिंसात्मक कार्यवाही ना करें, सरकारी सम्पत्ति को नुसान ना पहुंचायें क्योंकि इन्हीं सरकारी सम्पत्ति के भरोसे आप सभी युवा आने वाले कुछ महिनो में अलग – अलग प्रतियोगी परीक्षायें देने के लिए जायेगे और आज की आग – जनी व हिंसात्मक वारदातो का परिणाम उस दिन आपको देखने को मिल सकता है।

महत्वपूर्ण लिंक्स

Please Join Our Telegram Group For Further Updates Click Here

FAQ’s – Agnipath Agnivir Scheme Protests

What is Aganipath scheme?

Agnipath Scheme (Devanagari: अग्नीपथ योजना, ISO: Agnīpath Yojanā, transl: Path of Fire) is the system of recruitment introduced by Indian Government led by Narendra Modi, in three levels of armed forces of India in the ranks of non officers or for non commissioned officers

Why are students protesting against agneepath scheme?

What's behind Agnipath scheme protests? For those protesting , the primary concerns and insecurity have to do with the temporary nature of the new scheme — service is only for four years; pension has been removed; and there is no lifelong healthcare benefit for the soldier and his family.

What are the benefits of Agnipath scheme?

Advantages of 'AGNIPATH' scheme 2022 A transformative reform of recruitment policy of the Armed Forces. A unique opportunity to the youth to serve the country and contribute to Nation Building. Armed Forces profile to be youthful and dynamic. Attractive financial package for the Agniveers.

What is Agnipath?

The Agnipath scheme is for the recruitment of soldiers in the Army, the Navy and the Air Force, largely on a short-term contractual basis. The youths between the ages of 17-and-a-half and 21 years would be inducted for a four-year tenure while 25 per cent of the recruits will be retained for regular service.

Updated: 17/06/2022 — 9:02 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *