Aatm Nirbhar Bharat 3.0: 2.65 लाख करोड़ के राहत पैकेज का एलान, जाने पूरी जानकारी

Aatm Nirbhar Bharat 3.0: क्या आप भी बेरोजगारी की समस्या का सामना कर रहे है, पक्का घर नहीं है, शिक्षा प्राप्त नहीं कर पा रहे है, बीमारी से परेशान है या फिर खेती में नुकसान हो रहा है तो हमाार यह आर्टिकल आपके लिए है जिसमें हम, आपको विस्तार से Aatm Nirbhar Bharat 3.0 की पूरी जानकारी प्रदान करेगे।

हम, आपको बता दें कि, भारतीय अर्थव्यवस्था और जन – जीवन को तेजी से विकसित करने के लिए atmanirbhar bharat 3.0 के तहत कुल 12 नई तीव्र घोषणायें की गई है और साथ ही साथ आम जन मानस के जीवन स्तर में सुधार होगा जिससे वे एक बेहतर जीवन जी पायेगे आदि।

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

अन्त, हमारे सभी पाठक व नागरिक सीधे यहां पर क्लिक करके पूरी योजना की जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Aatm Nirbhar Bharat 3.0

Aatm Nirbhar Bharat 3.0 – संक्षिप्त परिचय

मंत्रालय का नाम वित्त मंत्रालय, भारत सरकार
योजना का नाम Aatm Nirbhar Bharat 3.0
आर्टिकल का प्रकार सरकारी योजना
Aatm Nirbhar Bharat 3.0 का लक्ष्य भारतीय अर्थव्यवस्था और जन – जीवन को तेजी से विकसित करने के लिए atmanirbhar bharat 3.0 के तहत कुल 12 नई तीव्र घोषणायें की गई है और साथ ही साथ आम जन मानस के जीवन स्तर में सुधार होगा जिससे वे एक बेहतर जीवन जी पायेगे आदि।
योजना का लाभ देश की अर्थव्यवस्था व देश के नागरिको के सतत विकास के लिए 12 कल्याकारी योजनाओं को जारी किया गया है जिसका सीधा लाभ सभी भारतवासियो को प्राप्त होगा।
Aatm Nirbhar bharat 3.0 notification Click Here
Official Website Click Here




Aatm Nirbhar Bharat 3.0

हम, अपने इस आर्टिकल मे, आप सभी पाठको व देश की जनता का स्वागत करते हुए आपको विस्तार से Aatm Nirbhar Bharat 3.0 की पूरी जानकारी प्रदान करना चाहते है ताकि आप इस योजना का पूरा – पूरा लाभ प्राप्त कर सकें।

हम आपको बता दे कि, इस योजना के तहत भारत का सतत और सतत भारतीय अर्थव्यवस्था के विकास के लिए आधिकारीक तौर पर Aatm Nirbhar Bharat 3.0 को लांच किया गया है जिसकी पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल में प्रदान की जायेगी।

अन्त, हमारे सभी पाठक व नागरिक सीधे यहां पर क्लिक करके पूरी योजना की जानकारी प्राप्त कर सकते है।

Read Also – Digital India Internship Scheme 2022: भारत सरकार के साथ Internship का शानदार मौका, 10000 रुपये Stipend मिलेंगे

लाभ व विशेषतायें –Aatm Nirbhar bharat 3.0 highlights

आइए अब हम, आपको विस्तार से Aatm Nirbhar bharat 3.0 highlights प्रदान करते है जो कि, इस प्रकार से हैं –

  • आत्मनिर्भर भारत योजना 3.0 के तहत सीधे तौर पर भारतीय अर्थव्यवस्था मे सुधार किया जायेगा,
  • भारतीय अर्थव्यवस्था और जन – जीवन को तेजी से विकसित करने के लिए atmanirbhar bharat 3.0 के तहत कुल 12 नई तीव्र घोषणायें की गई है,
  • इस अपग्रेेडेड योजना की मदद से भारत में बेरोजगारी की समस्या में कमी आयेगी,
  • और साथ ही साथ आम जन मानस के जीवन स्तर में सुधार होगा जिससे वे एक बेहतर जीवन जी पायेगे आदि।

अन्त, इस प्रकार हमने आपको विस्तार से इस योजना के तहत प्राप्त होने वालें लाभों व विशेषताओं के बारे में बताया।




Aatm Nirbhar Bharat 3.0 के तहत जारी नई 12 घोषणायें कौन सी है

आइए अब हम, आपको एक – एक करके Aatm Nirbhar Bharat 3.0 के तहत जारी सभी 12 नई घोषणाओ की जानकारी प्रदान करना चाहते है जो कि, इस प्रकार से है –

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना

  • बेरोजगारी की समस्या के सामाधान हेतु नई नौकरीयो का सृजन किया जायेगा,
  • पंजीकृत संगठनो के कर्मचारीयो को लाभ प्रदान किया जायेगा,
  • Any new employee joining employment in EPFO registered establishments on
    monthly wages less than Rs.15000/-.
  • EPF members drawing monthly wage of less than Rs.15000/- who made exit
    from employment during COVID Pandemic from 01.03.2020 to 30.09.2020 and is employed on or after 01.10.2020 आदि।

आपातकालीन क्रेडिट लाइन क्रेडिट योजना

  • Announced as part of the Aatmanirbhar Bharat Abhiyaan .
  • The scheme is extended till 31st March,2021.
  • Fully guaranteed and collateral free.
  • Additional credit up to 20% of outstanding loans as on 29.2.2020
    for entities with outstanding credit up to Rs. 50 crore as on 29.2.2020 and annual turnover up to Rs. 250 crore, which were up to 60 days past due as on 29.2.2020
  • Eligible entities – MSME units, business enterprises, individual
    loans for business purposes and MUDRA borrowers
  • Scheme update as on 12.11.2020
     Rs. 2.05 lakh crore sanctioned to 61 lakh borrowers
     Rs. 1.52 lakh crore disbursal आदि।

उत्पादन लिंक्ड प्रोत्साहन योजना

  • Government of India has already approved PLI schemes for 3 sectors at a
    cost of Rs 51,355 crores as below,
  •  Mobile Manufacturing and specified electronics components at a cost of Rs 40,995 crore
  • Critical Key Starting Materials (KSM), Drug intermediates and Active Pharmaceuticals Ingredients (API) at a cost of Rs. 6,940 crore
  • Manufacturing of Medical Devices at a cost of Rs Rs. 3,420 crore.
  • 10 more Champion Sectors (next slide) will now be covered under the
    Production Linked Incentives Scheme to boost the competitiveness of
    domestic manufacturing.
  • This is expected to give a significant boost to Economic Growth and
    domestic employment आदि।

PM Awaas Yojana (PMAY) –Urban / पी.एम आवास योजना / शहरी

  • A number of measures have been taken in the past several months for
    revival of the Housing and Real Estate Sector. These measures have
    contributed to fair recovery in this sector.
  • (SWAMIH- 135 projects approved with an outlay of Rs. 13,200 cr. This will result in completion of 87,000 stuck houses/Flats)
  •  However, there is need for further measures to enable the sector to
    generate more employment.
  • Rs 18,000 crores will be provided over the Budget Estimates for 2020-21
    for Prime Minister Awaas Yojana – Urban (PMAY-U) through additional
    allocation and Extra Budgetary Resources.
  • This is over and above Rs 8,000 crores already this year.
  • This will help 12 lakhs houses to be grounded and 18 lakhs to be completed
  • Expected addl jobs – 78 lakhs, Steel – 25 LMT, Cement – 131 LMT आदि।

Earnest Money Deposit (EMD)

  • Performance security on contracts to be reduced to 3 % instead of 5
    to 10%
  • Will be extended to ongoing contracts which are free of disputes
  • Will also be extended to Public Sector Enterprises.
  • States will be encouraged to adopt the same
  • EMD will not be required for tenders and will be replaced by Bid
    Security Declaration
  • Relaxations will be given till 31.12.2021 under General Financial
    Rules
  • Will give relief to contractors by reducing locking up of capital and
    cost of BG आदि।

PM Garib Kalyan Rozgar Yojana

  • Prime Minister Garib Kalyan Rozgar Yojana is also in progress in 116
    districts. Rs 37,543 crores spent till date.
  • PMGKRY effectively dovetails various schemes including MGNREGA,
    PMGSY etc.
  • MGNREGA was provided with Rs 61,500 crore in Budget for 2020-21.
  • Rs.40,000 crore was additionally provided in Atma Nirbhar Bharat 1.0.
  • As on date, Rs 73,504 crore has been released under MGNREGA and 251
    crore person-days of employment have been generated.
  • Further additional outlay of Rs. 10,000 crores will be provided for PM
    Garib Kalyan Rozgar Yojana in the current financial year.
  • This will accelerate growth of the rural economy आदि।

अन्त,इस प्रकार हमने आपको इस योजना के तहत जारी सभी घोषणाओं की पूरी जानकारी प्रदान की।

कितने रुपयो का होगा अतिरिक्त खर्च – Aatm Nirbhar Bharat 3.0

Housing for All – PMAY-U Rs. 18,000 crores
Boost for Rural Employment Rs.10,000 crores
R&D Grant for Covid Suraksha – Indian vaccine development Rs. 900 crores
Industrial Infrastructure, Industrial Incentives and Domestic Defence
Equipment
Rs.10,200 crores
Boost for Project Exports – Support for EXIM Bank Rs.3,000 crores
Boost for Atmnanirbhar Manufacturing – Production Linked Incentives Rs 1,45,980 crores
Support for Agriculture – Fertiliser Subsidy Rs. 65,000 crores
Boost for Infrastructure – equity infusion in NIIF Debt PF Rs 6000 crores
Atmanirbhar Bharat Rozgar Yojana (overall Rs 36,000 cr) Rs 6,000 crores
Total  Rs 2,65,080 crores




How to Apply Online in Aatm Nirbhar Bharat 3.0?

हमार सभी आवेदक व उम्मीदवार जो कि, इस योजना मे आवेदन करना चाहते है आसानी से ऑनलाइन आवेदन कर सकते है जिसके लिए आपक कुछ स्टेप्स को पूरा करना होगा –

  • Aatm Nirbhar Bharat 3.0 में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी Official Website के होम – पेज पर आना होगा जो कि, इस प्रकार का होगा –

Aatm Nirbhar Bharat 3.0

  • अब आपको यहीं पर का विकल्प मिलेगा जिस पर आपको क्लिक करना होगा,
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने इसका एक नया पेज खुलेगा जो कि, इस प्रकार का होगा –

Aatm Nirbhar Bharat 3.0

  • अब आपको इस रजिस्ट्रैशन फॉर्म को भरना होगा और
  • अन्त में, आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक कर देना होगा और इसका रजिस्ट्रैशन नंबर प्राप्त कर लेना होगा आदि।

अन्त, इस प्रकार हमारे सभी आवेदक, इस योजना में आवेदन कर सकते है और इसका लाभ प्राप्त कर सकते है।

Aatm Nirbhar Bharat 3.0 निष्कर्ष

हमने अपने इस आर्टिकल में आप सभी आवेदको व पाठको को विस्तार से Aatm Nirbhar Bharat 3.0 की पूरी जानकारी प्रदान किया ताकि हमारे सभी आवेदक जो कि, इस योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है आवेदन का लाभ प्राप्त कर सकें और अपना सतत विकास कर सकें।

अन्त, हम उम्मीद करते है कि, आपको हमारा यह आर्टिकल बेहद पसंद आया होगा जिसके लिए आप हमारे इस आर्टिकल को लाइक करेगे, शेयर करेके और अपने विचार व सुझाव भी कमेंट करके सांक्षा करेगे।

Aatm Nirbhar Bharat 3.0 – महत्वपूर्म लिंक्स




योजना का लाभ देश की अर्थव्यवस्था व देश के नागरिको के सतत विकास के लिए 12 कल्याणकारी योजनाओं को जारी किया गया है जिसका सीधा लाभ सभी भारतवासियो को प्राप्त होगा।
Join Our Telegram Group Click Here
atmanirbhar bharat 3.0 notification Click Here
Official Website Click Here

FAQ’s – Aatm Nirbhar Bharat 3.0

आत्मनिर्भर भारत योजना का लाभ कैसे लें?

आत्मनिर्भर भारत रोजगार योजना के अंतर्गत अब तक 22810 करोड़ रुपए का खर्च किया जा चुका है। जिससे कि 21 लाख नए कर्मचारियों की नियुक्ति हुई है। इस योजना का लाभ केवल वही कर्मचारी उठा सकते हैं जिनकी मासिक आय ₹15000 से कम है एवं वह 1 अक्टूबर 2020 से पहले किसी ऐसे संस्थान में काम नहीं कर रहे थे जो ईपीएफओ के साथ रजिस्टर्ड है।

आत्म निर्भर भारत अभियान क्या है?

Aatm Nirbhar Bharat Abhiyan – आत्मनिर्भर भारत अभियान योजना 2021. इस योजना का उद्देश्य लोगो के आत्मनिर्भर को बढ़ाना है। ... इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा चुने गए सभी लाभार्थियों को आर्थिक सहायता दी जाएगी। जिससे की सभी लोगो की मदद की जाये और Aatm Nirbhar Yojana के अंतर्गत सभी प्राइवेट सेक्टर को भी मदद दी जाएगी।

भारत को आत्मनिर्भर कैसे बनाएं?

भारत में सबसे ज्यादा आयात इलैक्ट्रॉनिक उत्पादों का होता आया है। इनमें से अधिकतर सामान चीन से आयात किया जाता रहा है। महामारी के चलते आपूर्ति श्रृंखला में आई बाधाओं और भारत के प्रति चीन के रणनीतिक रवैये ने केंद्र सरकार को घरेलू उद्योगों को आत्मनिर्भर बनाने की ओर सजग किया है।

आत्मनिर्भर भारत अभियान के कितने स्तंभ हैं *?

उन्होंने कहा कि आत्मनिर्भर भारत इन पांच स्तंभों पर खड़ा होगा: अर्थव्यवस्था, जो वृद्धिशील परिवर्तन नहीं, बल्कि लंबी छलांग सुनिश्चित करती है; बुनियादी ढांचा, जिसे भारत की पहचान बन जाना चाहिए; प्रणाली (सिस्‍टम), जो 21वीं सदी की प्रौद्योगिकी संचालित व्यवस्थाओं पर आधारित हो; उत्‍साहशील आबादी, जो आत्मनिर्भर भारत के लिए हमारी ...

Updated: 13/02/2022 — 3:46 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *