The Indian Toy Fair 2022 : आइये जानते हैं भारत खिलौना मेला रजिस्ट्रेशन कैसे करें

The Indian Toy Fair 2022 : नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग  बिहार्हेल्प.इन में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा The Indian Toy Fair 2022 के बारे में |

“द इंडियन टॉय फेयर 2022” का शुभारंभ केंद्र सरकार के द्वारा किया गया है। यह टॉय फेयर स्वदेशी उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए शुरू किया गया है। भारत सरकार के द्वारा इस समूह के माध्यम से ”The Indian Toy Fair भारत खिलौना मेला 2022” का आयोजन किया जा रहा है।

यह पहल भारत के खिलौना उद्योग के लिए एक ग्लोबल सेंटर बनाने को लेकर प्रधानमंत्री के विज़न के समरूप है। भारत सरकार के इस मिशन के अंतर्गत “आत्मनिर्भर भारत” और “वोकल फॉर लोकल” अभियानों के मूलभूत मुद्दों को एक उत्तेजना प्रदान करना है। इसके अलावा इसका ध्येय शिक्षा में सभी उम्र के लोगों की सीखने की प्रगति को प्रफुल्ल बनाने में खिलौने की योग्यता का लाभ भी उठाना है।

जो भी मेले के लिए रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हैं उन्हें ऑनलाइन माध्यम से अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा।

The Indian Toy Fair 2022

The Indian Toy Fair 2022: overview

आर्टिकल Registration The Indian Toy Fair 2022
वेब पोर्टल The Indian Toy Fair
लॉन्च किया गया डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ ,स्मृति ईरानी
पीयूष गोयल।
लॉन्च की तिथि 11 फ़रवरी 2021
रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन
मेले का आयोजन तिथि जल्द ही घोषित की जा आएगी
वर्ष 2022
आधिकारिक वेबसाइट www.theindiatoyfair.in

 




The Indian Toy Fair 2022 Registration

भारतीय खिलौना मेला के लिए भारत सरकार के द्वारा 11 फ़रवरी को वेब पोर्टल को लॉन्च किया गया है जिसमें सभी नागरिक अपना पंजीकरण करके मेले में शामिल हो सकते है। यह वेब पोर्टल माता-पिता, बच्चों, शिक्षकों, प्रदर्शकों आदि को वर्चुअल मेले में भाग लेने के लिए खुद को पंजीकृत करने में कुशल बनाएगी, जो भारतीय खिलौने के विविध भाव को Displayed करेगा।

The Indian Toy Fair 2022 की आधिकारिक वेबसाइट में भारतीय खिलौना मेला के लिए ऑनलाइन पंजीकरण को शुरू किया गया है सभी इच्छुक लाभार्थी नागरिक वेबसाइट के माध्यम से अपना पंजीकरण करके वर्चुअल के अंतर्गत 27 फरवरी से दो मार्च, 2021 तक खिलौना मेला देखा जा सकता है।

 

भारतीय खिलौना मेला का उद्देश्य

द इंडियन टॉय फेयर 2022 का मुख्य उद्देश्य है खिलौना निर्माण उधोग को बढ़ावा देना आत्मनिर्भर भारत अभियान और लोकल फॉर वोकल होने से उद्योग में रुपांतरक परिवर्तन लाने के लिए यह पहल की जा रही है। मेले के मुख्य मोहकता में 1,हजार से अधिक स्टालों के साथ एक वर्चुअल प्रतिपादन किया जायेगा।

मोहकता पैनल चर्चा के साथ ज्ञान सत्र और विभिन्न विषयों पर एक्सपर्ट द्वारा खिलौना-स्थापित शिक्षण, शिल्प प्रदर्शन, क्विज़, प्रतियोगिताओं, वर्चुअल टूर, उत्पाद लॉन्च आदि को शामिल किया गया हैं। शिक्षा के क्षेत्र के लिए विशेष रूप से ज्ञान सत्रों में शामिल होने वाले एक्सपर्टों के द्वारा NEP 2020 में दिए गए राष्ट्रीय शिक्षा नीति के क्षेत्रों में ध्यान को फोकस किया जायेगा।

भारतीय खिलौना मेला Indian toy industry को बढ़ावा देने में यह एक ग्लोबल प्रतिद्वन्दतापूर्ण प्रगमन देता है।

 




भारतीय खिलौना मेला के लाभ The Indian Toy Fair 2022 (Benifits)

  • The Indian Toy Fair 2022 के माध्यम से तरह-तरह के पारंपरिक (traditionl) और आधुनिक (Modern) खिलौनों और खेलों का पता लगाने और खरीदने के लिए एक मंच को प्रस्तुत करेगा।
  • आत्मनिर्भर भारत एवं लोकल फॉर वोकल अभियान को इस मिशन के अंतर्गत एक नई दिशा प्राप्त होगी।
  • हस्त कलाकारों कारीगरों को द इंडियन टॉय फेयर 2022 के अंतर्गत इस मंच के तहत अपनी कलाकारी को नया रूप देने का अवसर प्राप्त होगा।
  • मेले में शामिल होने वाले नागरिकों को खिलौने के सुरक्षा मानकों के बारे में जानकारी प्राप्त होगी।
  • क्रेटिविटी स्किल डेवलोपमेन्ट को द इंडियन टॉय फेयर 2022 के अंतर्गत विकसित करने में एक महत्वपूर्ण भूमिका अदा की जाएगी।
  • मेले के अंतर्गत सभी दर्शकों को विभिन्न प्रकार के मनोरंजन को देखने का अवसर प्राप्त होगा।
  • मेले में शामिल होने वाले नागरिकों के द्वारा स्वदेशी खिलौने की खरीदारी की जाएगी जिससे Indian toy industry को प्रोत्साहन मिलेगा।
  • भारतीय खिलौना मेला के अंतर्गत टॉय के माध्यम से भारतीय कला के इतिहास को समझने में मदद करेगा।
  • इस वर्चुअल के माध्यम से भारत की भाग्यशाली उत्तराधिकार और हस्तकला (Handicarfts) फीचर्स के प्रशंशा के महत्व को समझा जायेगा।
  • सभी नागरिकों के द्वारा वेबिनार, पैनल चर्चा और गतिविधियों में भाग लेने से ज्ञान को बढ़ावा मिलेगा।
  • Indian toy industry को इस पहल के माध्यम से एक नया स्वरूप प्रदान किया जायेगा जिससे देश की अर्थ व्यवस्था में भी मजबूती आएगी।

The Indian Toy Fair 2022

भारतीय खिलौनों के तहत गतिविधियाँ (Activities )

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा 30 अगस्त 2020 को मन की बात के माध्यम से खिलौने की योग्यता पर ध्यान देते हुए यह कहा गया की स्थानीय खिलौने के लिए विशेष रूप से द इंडियन टॉय फेयर 2022 के माध्यम से भारतीय नागरिकों को प्रोत्साहित किया जायेगा , जिसमें सभी नागरिकों के द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान का समर्थन किया जायेगा।

इस वर्चुअल के माध्यम से भारत की समृद्ध विरासत और परंपरा को पोषित करने के साथ-साथ भारतीय खिलौनों के अंतर्गत चल रही विभिन्न प्रकार की गतिविधियों को इस मिशन के अंतर्गत शामिल किया गया है। जो निम्न रूप से नीचे दर्शायी गयी है।

  1. Aatmnirbhar toys Video Contest
  2. Aatmnirbhar toy stories
  3. टॉयकोथॉन
  4. Aatmnirbhar toys innovation challenge

इस मिशन को सफल बनाने के लिए इसमें विभिन्न प्रकार के मंत्रालय को शामिल किया गया है जिसमें मुख्य रूप से शिक्षा मंत्रालय, महिला और बाल विकास मंत्रालय, सूचना और प्रसारण मंत्रालय इस मेले के साथ मिनिस्ट्री ऑफ़ टेक्सटाइल्स के साथ मिलकर साझेदारी कर रहें है।




भारत खिलौना मेला रजिस्ट्रेशन कैसे करें – The Indian Toy Fair 2022 Online Registration

जो इच्छुक लाभार्थी नागरिक भारतीय खिलौना मेला में ऑनलाइन पंजीकरण करना चाहते है वह नीचे बताई गयी प्रक्रिया के अनुसार सरलता से अपना पंजीकरण कर सकते है।

  • The Indian Toy Fair 2022 Online Registration करने के लिए नागरिकों को www.theindiatoyfair.in ऑफिसियल वेबसाइट में प्रवेश करना होगा।
  • वेबसाइट में प्रवेश करने के पश्चात होम पेज में Register Now के ऑप्शन में क्लिक करना है।
  • next page में आवेदक को पंजीकरण करने का फॉर्म प्राप्त होगा।
  • पंजीकरण फॉर्म में आवेदक को पूछी गयी सभी प्रकार की जानकारी को दर्ज करना है। जैसे अपना नाम ,मोबाइल नंबर ,ईमेल आईडी , country ,state आदि।
  • पंजीकरण फॉर्म में सभी डिटेल्स भरने के बाद आवेदक को सबमिट बटन में क्लिक करना है।
  • इसके बाद आपके मोबाइल नंबर में रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त होगा।
  • रजिस्ट्रेशन नंबर को मेले में शामिल होने के लिए सुरक्षित रखे।
  • इस तरह से The Indian Toy Fair 2022 Online Registration करने की प्रक्रिया आपकी पूर्ण हो जाएगी।

 

भारत के खिलौने (Toys Of India )

द इंडियन टॉय फेयर 2022 के माध्यम से भारत सरकार के द्वारा देश के विभिन्न राज्यों को इस मेले शामिल किया गया है नीचे बताई गयी प्रक्रिया के अनुसार आप आसानी से सभी जिलों की लिस्ट को देख सकते है।

  • भारतीय खिलौने समूह के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए पोर्टल की ऑफिसियल वेबसाइट में प्रवेश करें।
  • वेबसाइट में प्रवेश करने के अंतर्गत होम पेज में भारत के खिलौने वाले ऑप्शन में क्लिक करें।
  • इसके पश्चात आपकी स्क्रीन में भारत का मानचित्र प्रदर्शित होगा।
  • मानचित्र में उन सभी राज्यों के नाम में लट्टू के आकर के आइकॉन बनाये गए है जो Toys Of India Fair में शामिल किये गए है।

 




Important links

Official Website  Click Here
Registration  Click Here
Join Our Telegram Group Click Here

 




यह भी पढ़े 

 

FAQ About The Indian Toy Fair 2022

द इंडियन टॉय फेयर 2022 की शुरुआत क्यों की गयी है ?

आत्मनिर्भर भारत और लोकल फॉर वोकल जैसे अभियान को सफल बनाने के लिए The Indian Toy Fair 2022 की शुरुआत भारत सरकार के द्वारा की गयी है। भारत सरकार की इस मुहीम के द्वारा Indian toy industry को एक मजबूती प्रदान की जाएगी जिससे देश की अर्थव्यवस्था के पक्ष को भी मजबूत किया जायेगा।

भारत खिलौना मेला 2022 को सफल बनाने के लिए कितने उद्योग मिलकर कार्य कर रहें है ?

6 मंत्रालय के द्वारा भारत खिलौना मेला 2022 सफल बनाने के लिए एक जुटता के साथ मिलकर कार्य किया जायेगा।

किस प्रकार के खिलौने को मेले में शामिल किया जायेगा ?

हस्त कलाकारों के द्वारा बनाये गए स्वदेशी खिलौने को मेले में शामिल किया जायेगा जिससे लोगो को हस्त शिल्पकलाकारों के द्वारा दिखाई गयी कलाकारी देखने का अवसर भी प्राप्त होगा।

खिलौने मेले में शामिल होने के लिए लाभार्थी अपना पंजीकरण को कैसे पूर्ण कर सकते है ?

www.theindiatoyfair.in की ऑफिसियल वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन पंजीकरण करके लाभार्थी नागरिक भारतीय खिलौने मेले में उपस्थित हो सकते है।

The Indian Toy Fair के अंतर्गत कितने खिलौने स्टॉल मेले में प्रदर्शित किये जायेंगे ?

एक हजार से अधिक खिलौने स्टॉल को The Indian Toy Fair के तहत प्रदर्शित किया जायेगा जिसमें दर्शकों को तरह तरह के स्वदेशी खिलौने की खरीदारी करने के अवसर प्राप्त होगा।

बच्चों के विकास के लिए खिलौने की क्या भूमिका है ?

खिलौना बच्चों जीवन में मनोरंजन का साधन ही नहीं बल्कि यह बच्चों की growth (विकास ) करने में भी एक विशेष भूमिका निभाता है। मस्तिष्क से संबंधित खेलों से बच्चों की वृद्धि एवं सोचने की क्षमता को बढ़ाने में टॉयज के द्वारा एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई जाती है।

भारतीय खिलौने मेले में कौन-कौन लोग शामिल हो सकते है ?

सभी प्रकार के नागरिक भारतीय खिलौने मेले में शामिल हो सकते है जिसमें मुख्य रूप से बच्चे-उनके माता- पिता ,शिक्षक प्रदर्शक ,कारीगरों ,उद्योग विशेषज्ञ ,सभी नागरिकों को भारतीय खिलौने मेले में शामिल होने का अवसर प्राप्त होगा।

 

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह आर्टिकल पसंद आई होगी , अगर आपको मेरी यह आर्टिकल पसंद आई हैं तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों , फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Updated: 25/04/2022 — 7:24 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published.