Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022 : राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को NEET और JEE की मुफ्त कोचिंग , जानिए योजना की मुख्य बातें

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022 : नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Biharhelp.in में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022 के बारे में | सरकार ने छात्रों को कोचिंग देने के लिए स्वर्ण जयंती विद्यार्थी अनुषासन योजना शुरू की है। यह योजना 5 सितंबर 2021 से अधिकारिक रूप से शुरू की गई है। हर घर पाठशाला अभियान के तहत शिक्षकों को लिंक भेजने का काम शुरू हो गया है। इस योजना के तहत योजना के तहत सरकारी स्कूलों के छात्रों को उच्च गुणवत्ता वाली गणित और विज्ञान सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी।

इस योजना का उद्देश्य सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को मेडिकल और इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए तैयार करना है। इससे मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों के लिए कोचिंग का खर्च बचेगा, जो अपने बच्चों को कोचिंग संस्थानों में नहीं भेज सकते हैं। योजना के तहत छात्रों को यह कोचिंग नि:शुल्क प्रदान की जाएगी।

सभी आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना 2022” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे | तो आइये इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी जैसे – योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया आदि के बारे में नीचे पुरे विस्तार से बताया गया हैं , इसके लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े |

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022: Overview

Name of Scheme Swarna Jayanti Anushikshan Yojana (SJAY)
Launched by Himachal Pradesh Government
Beneficiaries Himachal Pradesh students
Major Benefit To help poor students prepare for Entrance Exams
Scheme Objective To provide free coaching for JEE and NEET exams.
Budget 5 crore rupees
Official Website himachal.nic.inSwarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022

 




 

Latest News Update : राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को NEET और JEE की मुफ्त कोचिंग देने के लिए स्वर्ण जयंती विद्यार्थी अनुशिक्षण योजना शुरू की गई है। इस योजना के तहत अब प्रत्येक शनिवार और रविवार को छात्रों की नियमित कक्षाएं लगेंगी।
इस परीक्षा के टॉपर्स को जेईई / एनईईटी विशेषज्ञ टीम द्वारा प्रति सप्ताह 15-18 घंटे की लाइव कक्षाएं और संदेह समाधान सत्र दिए जाएंगे।
समिति सरकारी स्कूलों की 100 मेधावी छात्राओं की चयन प्रक्रिया में अहम भूमिका निभाएगी।

यह भी पढ़े 




 

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया

5 सितंबर 2021 को हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल द्वारा स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से, राज्य के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को मेडिकल और इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रवेश लेने के लिए NEET और JEE की मुफ्त कोचिंग प्रदान की जाएगी। इस योजना का लाभ कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थी प्राप्त कर सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले नौवीं से बारहवीं कक्षा के करीब दो लाख छात्रों को हर हफ्ते शनिवार और रविवार को डॉक्टर और इंजीनियर बनने के लिए कोचिंग दी जाएगी। 18 सितंबर से नौवीं से बारहवीं कक्षा के छात्रों को शिक्षक मोबाइल पर लिंक भेजेंगे। यूट्यूब के इस लिंक के जरिए छात्र नीट और जेईई की कोचिंग ले सकेंगे।

सरकारी स्कूलों के छात्रों को उच्च गुणवत्ता वाली गणित और विज्ञान सामग्री मिलेगी। हर हफ्ते 15 से 18 घंटे की क्लास और शंका समाधान भी होगा। योजना के समुचित क्रियान्वयन के लिए सरकार जिला स्तर पर एक निगरानी समिति का गठन करेगी।

सभी पात्र आवेदक जो इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं, तो सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और ऑनलाइन आवेदन पत्र को लागू करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें |




 

Procedure to Apply Online Swarna Jayanti Anushikshan Yojana Application Form 2022

  • चरण 1- सबसे पहले स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना की आधिकारिक वेबसाइट यानी Himachal.nic.in पर जाएं।
  • चरण 2-  उसके बाद होमपेज पर, विकल्प “ऑनलाइन आवेदन करें” बटन पर क्लिक करें।
  • चरण 3- अब आपके सामने स्क्रीन पर एक एप्लीकेशन फॉर्म खुलकर सामने आएगा |
  • चरण 4- उसके बाद अब आवश्यक विवरण दर्ज करें (सभी विवरण जैसे नाम, पिता / पति का नाम, जन्म तिथि, लिंग, जाति और अन्य जानकारी का उल्लेख करें) और दस्तावेज अपलोड करें।
  • चरण 5- आवेदन को अंतिम रूप से जमा करने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें।

 

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पता का सबूत
  • आय प्रमाण पत्र
  • उम्र का सबूत
  • अंक तालिका
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • मोबाइल नंबर

 




 

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना पात्रता मानदंड

  • आवेदक हिमाचल प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • इस योजना का लाभ केवल सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले छात्रों को ही मिल सकता है।
  • केवल 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्र ही इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं।

 

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना 2022 के उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उद्देश्य सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले छात्रों को मेडिकल और इंजीनियरिंग में प्रवेश लेने के लिए तैयार करना है। अब राज्य के वे सभी बच्चे जो आर्थिक रूप से कमजोर हैं वे इस योजना के माध्यम से नीट और जेईई की मुफ्त कोचिंग प्राप्त कर सकेंगे।

 




 

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना 2022 के लाभ

  • इस योजना पर राज्य सरकार पांच करोड़ रुपये खर्च करेगी।
  • कक्षा 9 से 12 तक पढ़ने वाले छात्र इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं।
  • इस योजना का लाभ पाने के लिए छात्रों के माता-पिता को कोचिंग सेंटर का कोई अतिरिक्त खर्च या फीस देने की जरूरत नहीं है।
  • इस योजना को शुरू करने की घोषणा हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने अपने बजट भाषण में की थी।
  • पहले चरण में विज्ञान और गणित की कोचिंग दी जाएगी। नीट में किस तरह के सवाल आते हैं, कैसा है जेईई का पेपर।
  • 11वीं पास करने के बाद जब बच्चे टॉप टू में पहुंचेंगे तो उनका टेस्ट लिया जाएगा।
  • इस परीक्षा को उत्तीर्ण करने वाले 10% छात्रों का चयन अंतिम कोचिंग के लिए किया जाएगा।

 

स्वर्ण जयंती अनुसंधान योजना की मुख्य विशेषताएं

  • स्वर्ण जयंती अनुशिक्षण योजना 2022 हिमाचल प्रदेश सरकार द्वारा 5 सितंबर 2021 को शुरू की गई है।
  • शिक्षा विभाग द्वारा ऑनलाइन पढ़ाई के लिए तैयार किए गए कार्यक्रम हर घर पाठशाला के माध्यम से कोचिंग दी जाएगी।
  • शिक्षा विभाग का राज्य संसाधन समूह इसके लिए वीडियो सबक तैयार करेगा।
  • यह योजना दो चरणों में लागू की जाएगी।
  • इस गोल्डन जुबलीशिक्षण योजना के तहत प्रत्येक छात्र को सप्ताह में दो बार शनिवार और रविवार को इस प्रशिक्षण में भाग लेना अनिवार्य होगा।
  • यह कोचिंग शिक्षा विभाग द्वारा तैयार मंच हर घर पाठशाला के माध्यम से प्रदान की जाएगी।
  • विभाग के अनुसार कक्षा 9-11 तक के प्रत्येक छात्र के लिए नीट और जेईई की कोचिंग अनिवार्य होगी।

 




 

Important Links

Swarna Jayanti Anushikshan Yojana Official Portal Official Website – Launched SoonSwarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022
Join Our Telegram Group Click HereSwarna Jayanti Anushikshan Yojana 2022

 




 

यह भी पढ़े 

 

सारांश

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी ,अगर आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों , फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Updated: 24/06/2022 — 9:21 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published.