PM Matsya Sampada Yojana 2022: e-Gopala App – प्रधानमंत्री मत्स्य योजना की सम्पूर्ण जानकारी

PM Matsya Sampada Yojana 2022: नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Biharhelp.in में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा PM Matsya Sampada Yojana 2022 के बारे में | इस आर्टिकल के माध्यम से जानेंगे की यह प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना क्या हैं , इस योजना का लाभ हम कैसे ले सकते हैं और साथ ही साथ इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए क्या क्या योग्यता होनी जरुरी हैं |

अगर आप इस योजना के बारे में नहीं जानते हैं तो आप सही जगह पर आये है यहाँ पर आपको इस योजना से जुडी सारी जानकारियां प्राप्त होगी , इसके लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े |

⬇️ Download Bihar Help Mobile App📱

Jobs & शिक्षा से जुड़ी सभी जानकारी ! (यहाँ Click करें 👆)

सभी उम्मीदवार जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं, फिर आधिकारिक अधिसूचना डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना 2022” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे




यह भी पढ़े :

PM Matsya Sampada Yojana 2022

PM Matsya Sampada Yojana 2022: Overview

योजना का नाम प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना (PM Matsya Sampada Yojana 2022)
लागु किया गया भारत सरकार
लाभार्थी मछुआरा
प्रमुख लाभ मछली उत्पादन और उत्पादकता
योजना का उद्देश्य मछली पकड़ने के चैनलों में सुधार करना और मछुआरे का समर्थन करना
योजना के तहत केंद्र सरकार
राज्य का नाम All India
आधिकारिक वेबसाइट http://dof.gov.in/pmmsy




Latest Update : नीली क्रांति के माध्यम से मत्स्य पालन क्षेत्र के सतत और जवाबदेह विकास के लिए प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना को कैबिनेट की मंजूरी

 

योजना के बारे में 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज PMMSY यानी मत्स्य संपदा योजना की शुरुआत कर लाखों किसानों को तोहफा दिया है. इस योजना से करीब 55 लाख लोगों को रोजगार मिलने की उम्मीद है। इस योजना के तहत वह पांच साल में 70 लाख टन अतिरिक्त मछली का उत्पादन कर सकेगी। यह मछली निर्यात को दोगुना कर 1,00,000 करोड़ रुपये कर देगा।

आइये अब जानते हैं की इस योजना का लाभ लेने के लिए इसका रजिस्ट्रेशन कैसे करते हैं ?

PM Matsya Sampada Yojana 2022: Online Registration

  • चरण 1- सबसे पहले आधिकारिक वेबसाइट प्रधान मंत्री मत्स्य संपदा योजना यानी http://dof.gov.in/pmmsy पर जाएं।
  • चरण 2- उसके बाद होमपेज पर जाने के बाद  “अभी आवेदन करें” बटन पर क्लिक करें।
  • चरण 3- अब आपके सामने एक एप्लीकेशन फॉर्म खुलकर सामने आएगा |
  • चरण 4- अब आवश्यक विवरण दर्ज करें (सभी विवरण जैसे नाम, पिता / पति का नाम, जन्म तिथि, लिंग, जाति और अन्य जानकारी का उल्लेख करें) और दस्तावेज अपलोड करें।
  • चरण 5- उसके बाद आवेदन को अंतिम रूप से जमा करने के लिए सबमिट बटन पर क्लिक करें।

इस तरह आप एप्लीकेशन फॉर्म भरकर इस योजना में लाभ लेने के लिए रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं |

यह भी पढ़े :

ई-गोपाला ऐप के बारे में

पीएम ने खुद ई-गोपाला ऐप के बारे में ट्वीट किया और कहा कि यह हमारे मेहनती किसानों के लिए एक व्यापक नस्ल सुधार बाजार और सूचना पोर्टल प्रदान करता है। यह एक अभिनव प्रयास है, जिससे कृषि क्षेत्र को काफी लाभ होगा।

इसकी कुछ बिंदु को नीचे बताया गया हैं |

  • इस ऐप के माध्यम से किसानों को कृत्रिम गर्भाधान, पशु प्राथमिक उपचार, टीकाकरण, उपचार आदि और पशु पोषण के लिए मार्गदर्शन किया जाएगा।
  • साथ ही यह ऐप क्षेत्र में टीकाकरण, गर्भावस्था निदान, शांत करने आदि की नियत तारीख और विभिन्न सरकारी योजनाओं, अभियानों की भी सूचना देगा।
  • इन सभी पहलुओं पर किसानों को ई-गोपाला एप समाधान मुहैया कराएगा।

 

PM Matsya Sampada Yojana 2022 के लाभार्थी कौन कौन हो सकते हैं ?

  • मछुआरों
  • मछली किसान
  • मछली श्रमिक और मछली विक्रेता
  • मत्स्य विकास निगम
  • मत्स्य सहकारी समितियां
  • मत्स्य संघ
  • उद्यमी और निजी फर्म
  • मछली किसान उत्पादक संगठन/कंपनियां
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/महिलाएं/विकलांग व्यक्ति
  • राज्य मत्स्य विकास बोर्ड
  • केंद्र सरकार और उसकी संस्थाएं




PM Matsya Sampada Yojana 2022 का उद्देश्य

  • भूमि और पानी के विस्तार, गहनीकरण, विविधीकरण और उत्पादक उपयोग के माध्यम से मछली उत्पादन और उत्पादकता में वृद्धि करना |
  • मछुआरों और मछली किसानों की आय दोगुनी करना और रोजगार सृजन करना
  • कृषि जीवीए और निर्यात में योगदान बढ़ाना देना
  • मछुआरों और मछली किसानों के लिए सामाजिक, भौतिक और आर्थिक सुरक्षा मजबूत करना |

 

PM Matsya Sampada Yojana 2022 का मुख्य लाभ 

  • टिकाऊ और जिम्मेदार मछली पकड़ने की प्रथाओं के माध्यम से 2024-25 तक 22 मिलियन मीट्रिक टन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए लगभग 9% की निरंतर औसत वार्षिक वृद्धि दर पर मछली उत्पादन और उत्पादकता में वृद्धि करना।
  • प्रमाणित गुणवत्ता वाले मछली के बीज और चारा की उपलब्धता में सुधार करना |
  • मछली पकड़ने और संबद्ध गतिविधियों में लगभग 15 लाख मछुआरों, मछली किसानों, मछली श्रमिकों, मछली विक्रेताओं और अन्य ग्रामीण/शहरी आबादी को प्रत्यक्ष लाभकारी रोजगार के अवसरों का सृजन पैदा करना |
  • उनकी आय में वृद्धि सहित अप्रत्यक्ष रोजगार के अवसरों के रूप में लगभग तीन गुना करना |
  • मात्स्यिकी क्षेत्र में निवेश को बढ़ावा देना और मछली और मत्स्य उत्पादों की प्रतिस्पर्धात्मकता में वृद्धि करना
  • 2024 तक मछुआरों, मछली किसानों और मछली श्रमिकों की आय दोगुनी करना
  • मछुआरों और मछली श्रमिकों के लिए सामाजिक, भौतिक और आर्थिक सुरक्षा प्रदान करना , आदी

 

PM Matsya Sampada Yojana 2022 की मुख्य विशेषताएं

  • यह योजना वित्त वर्ष 2020-21 से वित्तीय वर्ष 2024-25 तक 5 वर्षों की अवधि के दौरान लागू की जाएगी।
  • PMMSY को दो अलग-अलग घटकों के साथ एक छत्र योजना के रूप में लागू किया जाएगा
  • केंद्र प्रायोजित योजना (सीएसएस) घटक को निम्नलिखित तीन व्यापक शीर्षों के तहत गैर-लाभार्थी उन्मुख और लाभार्थी उन्मुख उप-घटकों/गतिविधियों में विभाजित किया गया है |
  1. उत्पादन और उत्पादकता में वृद्धि
  2. इंफ्रास्ट्रक्चर और पोस्ट हार्वेस्ट मैनेजमेंट
  3. मात्स्यिकी प्रबंधन और नियामक ढांचा

 

PM Matsya Sampada Yojana 2022: Important Links

Apply Online Registration | Login
Notification Click Here
Pradhan Mantri Matsya Sampada Yojana 2022 Official Website
join our Telegram Group Click Here




यह भी पढ़े :

सारांश 

मैं उम्मीद करता हूँ की मेरे द्वारा दी गयी जानकारी आपको पसंद आई होगी , अगर मेरी यह आर्टिकल ( PM Matsya Sampada Yojana 2022 ) आपको पसंद आई हैं तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों , फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Updated: 01/04/2022 — 11:51 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published.