PM Kisan Sampada Yojana 2022 : सरकार की तरफ से किसानो के लोए नयी योजना , जानिए योजना के बारे में

PM Kisan Sampada Yojana 2022 : नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Biharhelp.in में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा PM Kisan Sampada Yojana 2022 के बारे में | सरकार समय-समय पर कुछ नए बदलाव भी करती है ताकि अधिक से अधिक किसानों को इन योजनाओं का लाभ मिल सके। किसानों के लिए चलाई जा रही इन्हीं कल्याणकारी योजनाओं में से एक है प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना। हाल ही में सरकार ने इस योजना को लेकर एक बड़ा ऐलान किया है. सरकार ने इस योजना को 31 मार्च 2026 तक जारी रखने की मंजूरी दी है।

इस योजना की मदद से भारत में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के विकास में तेजी आई है। इससे किसानों को अपनी उपज बेचने का सही मौका और कीमत मिल सकेगी। सभी राज्य के आवेदक जो ऑनलाइन आवेदन करने के इच्छुक हैं वे आधिकारिक नोटिफिकेशन डाउनलोड करें और सभी पात्रता मानदंड और आवेदन प्रक्रिया को ध्यान से पढ़ें। हम “पीएम किसान संपदा योजना 2022” के बारे में संक्षिप्त जानकारी प्रदान करेंगे |

तो आइये इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना के बारे में सम्पूर्ण जानकारी जैसे – योजना लाभ, पात्रता मानदंड, योजना की मुख्य विशेषताएं, आवेदन की स्थिति, आवेदन प्रक्रिया आदि के बारे में नीचे पुरे विस्तार से बताया गया हैं , इसके लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े |

PM Kisan Sampada Yojana 2022

PM Kisan Sampada Yojana 2022: Overview

योजना का नाम प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना
लांच किया गया भारत सरकार
लाभार्थी भारत के किसान
योजना का उद्देश्य कृषि-समुद्री प्रसंस्करण और खाद्य प्रसंस्करण समूहों का विकास करना
राज्य का नाम All India
अधिकारिक वेबसाइट www.mofpi.gov.inPM Kisan Sampada Yojana 2022

 




 

Latest News Update : वर्ष 2020 में इस योजना के तहत 32 नए प्रोजेक्ट लॉन्च किए गए। जिसके लिए सरकार की ओर से 406 करोड़ रुपये की राशि आवंटित की गई थी.
खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय द्वारा 4,600 करोड़ रुपये के आवंटन के साथ, प्रधान मंत्री ने किसान संपदा योजना को 2026 तक जारी रखने की घोषणा की है।

यह भी पढ़े 




 

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना क्या है?

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना एक ऐसी योजना है जो खेत से खुदरा दुकानों तक कुशल आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के साथ आधुनिक बुनियादी ढांचे के निर्माण में योगदान देगी। इस योजना के माध्यम से सरकार का लक्ष्य एक व्यापक पैकेज की पेशकश करना है।

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के तहत सरकार दुकानों तक अनाज की उचित डिलीवरी के प्रबंधन और आधुनिक बुनियादी ढांचे के निर्माण में मदद करती है। इस योजना के माध्यम से सरकार किसानों को उनकी उपज को सही तरीके से बेचने के लिए प्रबंधन देती है।

 

पीएम किसान संपदा योजना ऑनलाइन पंजीकरण प्रक्रिया

केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना शुरू की गई है। इस योजना के माध्यम से कृषि, समुद्री प्रसंस्करण और खाद्य प्रसंस्करण क्लस्टर विकसित किए जाएंगे। यह योजना खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय द्वारा लागू की जाएगी। किसान संपदा योजना एक व्यापक पैकेज है जिसके माध्यम से फार्म गेट से रिटेल आउटलेट तक कुशल आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के साथ आधुनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाएगा।

सभी पात्र आवेदक जो इस योजना में आवेदन करना चाहते हैं, तो सभी निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और ऑनलाइन आवेदन पत्र को लागू करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें |

Procedure to Apply Online PM Kisan Sampada Yojana Application Form 2022

  • स्टेप 1- लाभार्थी सबसे पहले पीएम किसान संपदा योजना की आधिकारिक वेबसाइट यानी www.mofpi.gov.in पर जाएं।
  • स्टेप 2- उसके बाद होमपेज पर आपको अप्लाई के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • चरण 3- अब आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर सामने आएगा |
  • चरण 4- उसके बाद अब आवश्यक विवरण दर्ज करें (सभी विवरण जैसे नाम, पिता / पति का नाम, जन्म तिथि, लिंग, जाति और अन्य जानकारी का उल्लेख करें) और दस्तावेज अपलोड करें।
  • चरण 5- फिर सबमिट बटन पर क्लिक करके फॉर्म को सेव कर ले |
  • चरण 6- भविष्य में जरुरत के लिए आवेदन पत्र का एक प्रिंट आउट निकाल कर अपने पास रख ले |

 




 

पीएम किसान संपदा योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आवास प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • राशन पत्रिका
  • उम्र का सबूत
  • पासपोर्ट के आकार की तस्वीर
  • मोबाइल नंबर
  • ईमेल आईडी आदि

 

पीएम किसान संपदा योजना पात्रता मानदंड

  • आवेदक भारत का स्थायी निवासी होना चाहिए।

 




 

पीएम किसान संपदा योजना 2022 के उद्देश्य

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना का मुख्य उद्देश्य कृषि-समुद्री प्रसंस्करण और खाद्य प्रसंस्करण समूहों का विकास करना है। इस योजना के माध्यम से फार्म गेट से रिटेल आउटलेट तक कुशल आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के साथ आधुनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाएगा |

 

प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना के लाभ और विशेषताएं

  • केंद्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना शुरू की गई है।
  • इस योजना के माध्यम से कृषि, समुद्री प्रसंस्करण और खाद्य प्रसंस्करण क्लस्टर विकसित किए जाएंगे।
  • खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्रालय (MoFPI) की प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना (PMKSY) के तहत 32 परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है।
  • परियोजनाएं लगभग 17 राज्यों में फैली हुई हैं, जिसमें 406 करोड़ रुपये के निवेश का लाभ उठाया गया है।
  • यह योजना भारत में खाद्य प्रसंस्करण क्षेत्र के विकास को बढ़ावा देने के लिए तैयार की गई है।
  • किसान संपदा योजना एक व्यापक पैकेज है जिसके माध्यम से फार्म गेट से रिटेल आउटलेट तक कुशल आपूर्ति श्रृंखला प्रबंधन के साथ आधुनिक बुनियादी ढांचे का निर्माण किया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री किसान संपदा योजना से किसानों को बेहतर दाम दिलाने में मदद मिलेगी, जिससे रोजगार भी पैदा होगा।
  • इंटीग्रेटेड कोल्ड चेन यानी फसल फार्म गेट से डायरेक्ट रिटेल आउटलेट तक कुशल आपूर्ति। इसके अलावा, खाद्य प्रसंस्करण और संरक्षण क्षमताओं का निर्माण या विस्तार किया जाएगा।

 




 

Notice – जो उम्मीदवार सभी निजी और सरकारी नौकरियों की तलाश में हैं, उन्हें कहीं और खोजने की ज़रूरत नहीं है, आपको इस वेबसाइट से ही सभी प्रकार की सरकारी और निजी नौकरियों की जानकारी मिल जाएगी। यहां पर आपको रिजल्ट की जानकारी भी दी जा रही है. आपको इस पेज पर नई भर्ती से संबंधित सभी जानकारी देखने को मिल जाएगी और आप सभी इस पेज पर विजिट करते रहें और चेक करते रहे |

 




 

Important Links

Official Website  Click Here
Registration Click HerePM Kisan Sampada Yojana 2022
Notification Click HerePM Kisan Sampada Yojana 2022
Join Our Telegram Group Click HerePM Kisan Sampada Yojana 2022

 




 

यह भी पढ़े 

 

सारांश 

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी ,अगर आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों , फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Updated: 26/06/2022 — 11:48 AM

Leave a Reply

Your email address will not be published.