PM kisan Samman Nidhi Yojna 2022 : 11वीं किस्त पर आई बड़ी अपडेट, देखें

PM kisan Samman Nidhi Yojna 2022 : नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Biharhelp.in में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा PM kisan Samman Nidhi Yojna 2022 के बारे में |

PM Kisan Yojana : हर साल लगभग चार महीने के अंतराल में भारत सरकार पात्र किसानों के खातों में पीएम किसान किस्त के रूप में 2,000 रुपये की राशि ट्रांसफर करती है। पीएम किसान सम्मान निधि योजना छोटे और मध्यम स्तर के किसानों को 6,000 रुपये की न्यूनतम आय सहायता प्रदान करती है जो योजना के लाभार्थी किसानों के बैंक खातों में 3 समान किस्तों में वितरित की जाती है।

PM kisan Samman Nidhi Yojna 2022

PM kisan Samman Nidhi Yojna 2022: Overview

आर्टिकल का नाम PM Kisan Samman Nidhi Yojana 
योजना का नाम PM Kisan Samman Nidhi Yojana 2022
लागु किया गया केंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थी देश के छोटे और सीमांत किसान
प्रमुख लाभ रु. 6000 को 2000 प्रत्येक की 3 किस्तों में दिया गया
योजना का उद्देश्य किसानों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
योजना के तहत राज्य सरकार
आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/

 




PM Kisan Status

PM Kisan 11th installment Status को लेकर एक बड़ा अपडेट सामने आया है. दरअसल, किसानों के खाते में पैसा आएगा भी या नहीं. इस मामले को लेकर तरह-तरह के विवाद चल रहे हैं। हालांकि अगली किस्त अप्रैल के अंत तक जारी की जा सकती है। जिसके बाद 11th kist के ₹2000 किसानों के खाते में आने वाले हैं।

हालांकि कई सवालों के बीच अभी तक किसानों को Kisan Samman Nidhi को लेकर सरकार से मंजूरी नहीं मिली है। जिसके कारण किसान राज्य से मंजूरी का इंतजार करते नजर आ रहे हैं। जिसके बाद माना जा रहा है कि PM Kisan Samman Nidhi की राशि मिलने में विलंब हो सकता है।

आंकड़ों की बात करें तो अब तक 11 करोड़ 78 लाख किसान PM Kisan Samman Nidhi से लाभान्वित हुए हैं, जबकि 1.82 लाख करोड़ रुपये किसानों के खाते में भेजे जा चुके हैं। वही सरकारी आंकड़ों के अनुसार अब तक इस योजना के तहत PM Kisan Portal पर 12 करोड़ पचास लाख से अधिक किसानों का PM Kisan Samman Nidhi Yojana Registration हो चुका है।

जिसके बाद PM Kisan Nidhi के तहत किसान परिवारों को 6000 रुपये प्रति वर्ष के खाते में 2000 रुपये की तीन समान किश्तें भेजी जाती हैं।

प्रधानमंत्री ने जनवरी महीने में पीएम किसान की 10 वीं किस्त (PM Kisan 10 th Installment) किसानों के खाते में भेजी थी।

कब आएगी पीएम किसान की 11 वीं किस्त

पीएम किसान योजना की 11 वीं किस्त (PM Kisan Yojana 11 th Installment) किसानों के खाते में कब आएगी। इसको लेकर अभी कोई आधिकारिक जानकारी प्राप्त नहीं हुई है। पीएम किसान योजना (PM Kisan Yojana) एक साल में तीन बार जारी की जाती है। यह किस्त चार महीने के अंतराल में किसानों को दी जाती है। जल्द ही केंद्र सरकार किसानों के खातों में 11 वीं किस्त भेजी जाएगी।

 




PM kisan Samman Nidhi Yojna 2022

PM kisan beneficiary Status कैसे देखे ?

  1. सबसे पहले आपको pmkisan.gov.in लिंक से pm kisan samman nidhi yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  2. इसके बाद ‘किसान कार्नर’ पर pm kisan 11वीं किस्त लिस्ट का ऑप्शन आएगा जिस पर आपको इस लिंक पर क्लिक करना होगा।
  3. इसके बाद मोबाइल नंबर, आधार नंबर और खाता संख्या को दर्ज करें और ‘डेटा प्राप्त करें’ बटन पर क्लिक करें।
  4. 11वीं किस्त के लिए pm किसान लाभार्थी स्थिति 2022 आपकी स्क्रीन पर दिखाई देगी।

Waiting for approval by State Government

आपको बता दें कि Kisan Official Portal पर Kisan Status पर waiting for approval by State या Rft Signed by State Government दिखाई दे रहा है जिसका अर्थ है किसानों को ₹2000 की राशि प्राप्त करने के लिए अभी थोड़ा और इंतजार करना पड़ सकता है। राज्य सरकार ने अभी तक उनके खाते में दो हजार की राशि भेजने की मंजूरी नहीं दी है।

वहीं, राज्य सरकार से मंजूरी मिलने के बाद उनके खाते में यह राशि उपलब्ध करा दी जाती है। जिसके बाद दस्तावेज़ को सत्यापित करने के बाद आरएफटी साइन केंद्र सरकार को भेजा जाता है।ऐसे में अगर किसान अपना स्टेटस चेक करने के बाद ऐसा नया स्टेटस देख रहे हैं तो समझ लें कि अभी ₹2000 मिलने में थोड़ी देरी हो सकती है.




Important Links 

Official Website  Click Here
Join Our Telegram Group Click Here

 




यह भी पढ़े 

 

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी , अगर आपको मेरी यह आर्टिकल पसंद आई होगी तो आप भी इसे लाइक करे और अपने दोस्तों , फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी प्राप्त कर सके |

धन्यवाद !!!

Updated: 16/04/2022 — 8:36 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published.