Digital Saksharta Abhiyan 2022 – सरकार की क्रन्तिकारी कदम, अब हर गाँव होगा डिजिटल…. जानिए पूरी प्रक्रिया

Digital Saksharta Abhiyan 2022 : नमस्कार दोस्तों , स्वागत हैं आज आपका अपना हिंदी ब्लॉग Biharhelp.in में | आज मैं इस आर्टिकल के माध्यम से बात करूँगा Digital Saksharta Abhiyan 2022 के बारे में | प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान इसकी शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी 2017 में की थी। इस अभियान का उद्देश्य देश के ग्रामीण लोगों को डिजिटल रूप से साक्षर बनाना था।

भारत के अधिकांश लोग ग्रामीण परिवेश में रहते हैं। अतः इस अभियान के माध्यम से डिजिटल उपकरण कंप्यूटर, टैबलेट, लैपटॉप, एंड्राइड मोबाइल आदि पर प्रशिक्षण देकर इंटरनेट का उपयोग कैसे करें, गूगल पर सरकारी योजनाओं की जानकारी कैसे प्राप्त करें, ई-मेल कैसे भेजें और ऑनलाइन भुगतान कैसे करें आदि के बारे में प्रशिक्षण प्रदान करना |

तो आइये इस आर्टिकल के माध्यम से इस अभियान के बारे में सम्पूर्ण जानकारी नीचे पुरे विस्तार से बताया गया हैं, इसके लिए आर्टिकल को अंत तक पढ़े |

Digital Saksharta Abhiyan 2022

Digital Saksharta Abhiyan 2022: Overview

योजना का नाम प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान
योजना का प्रकार केंद्र सरकार की योजना
प्रशिक्षण स्थान सामान्य सेवा केंद्र
प्रशिक्षण शुल्क zero
प्रशिक्षण अवधि 20 hours

 




 

Digital Saksharta Abhiyan 2022

यह अभियान देश के ग्रामीण परिवेश में रहने वाली आबादी के लिए लागू किया गया है। इस PMGDISHA 2022 अभियान में ऐसे परिवारों को विशेष अवसर दिए जाएंगे, जिनके परिवार में कोई भी व्यक्ति साक्षर नहीं है या उन्हें किसी डिजिटल सेवा के उपयोग से संबंधित जानकारी नहीं है।

PMGDISHA अभियान 2022 इसके तहत किसी भी परिवार के एक सदस्य को डिजिटल साक्षरता का प्रशिक्षण दिया जाएगा। परिवार के सदस्यों में परिवार का मुखिया, उसकी पत्नी और उसके बच्चे शामिल हैं। अगर आप भी इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन करना होगा।

यह भी पढ़े :




 

ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के उद्देश्य

2014 में एनएसएसएस द्वारा किए गए साक्षरता सर्वेक्षण के अनुसार, देश में केवल 6% ग्रामीण आबादी के पास कंप्यूटर की पहुंच थी। इससे साफ था कि जब सुविधा ही नहीं तो ज्ञान कैसे होगा। इस समस्या को हल करने के उद्देश्य से सरकार ने ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान शुरू किया।

यह अभियान जनता के बीच शिक्षा के क्षेत्र में जागरूकता फैलाने और प्रगति करने में बड़ी भूमिका निभा रहा है। देखा जाए तो आज के समय में मूलभूत सुविधाएं- रोटी, कपड़ा, घर और इंटरनेट बन चुकी हैं। अब ऐसे में इंटरनेट के इस्तेमाल के लिए जानकारी होना बेहद जरूरी है। इसलिए ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान पीएमजीदिशा अभियान द्वारा दिया जा रहा डिजिटल प्रशिक्षण रोजगार पाने में मददगार साबित हो रहा है।

Digital Saksharta Abhiyan 2022




 

प्रधानमंत्री के डिजिटल साक्षरता अभियान की विशेषताएं

  • पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान इसके तहत 31 मार्च 2020 तक 40% ग्रामीण परिवारों में से कम से कम एक सदस्य को डिजिटल रूप से साक्षर करने का लक्ष्य रखा गया है।
  • ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के तहत देश के लगभग 6 करोड़ नागरिकों को डिजिटल साक्षरता प्रदान की जाएगी।
  • PMGDISHA YOJANA 2020 तक 52.5 लाख लोगों को आईटी ट्रेनिंग दी जाएगी।

 

प्रधानमंत्री के ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के लाभ

  • प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान इसके तहत प्रत्येक ग्रामीण परिवार के एक सदस्य को कंप्यूटर प्रशिक्षण दिया जाएगा, जिससे वे इससे डिजिटल शिक्षा ले सकेंगे।
  • इस अभियान के माध्यम से ग्रामीण परिवेश के लोग इंटरनेट का सही उपयोग करना सीख सकेंगे।
  • इस अभियान में आप प्रशिक्षण प्राप्त करके डिजिटल उपकरणों जैसे लैपटॉप, कंप्यूटर, टैबलेट, एंड्रॉइड मोबाइल आदि का उपयोग करना सीख सकते हैं।
  • PMGDSA इसके माध्यम से आप सरकारी योजनाओं की ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करने, ऑनलाइन भुगतान कैसे करें, अन्य सरकारी और उपयोगी सेवाओं के बारे में ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करने के लिए प्रशिक्षण प्राप्त करने में सक्षम होंगे।
  • इस अभियान के तहत अनुसूचित जाति (एससी), अनुसूचित जनजाति (एसटी), गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल), महिला, दिव्यांग और अल्पसंख्यकों को प्राथमिकता देकर प्रशिक्षण दिया जाएगा.
  • छात्र वर्ग के लिए कंप्यूटर का ज्ञान बहुत महत्वपूर्ण है, इसलिए छात्र इस योजना के माध्यम से लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
  • ऐसे प्रतिभागी जिन्होंने किसी कारणवश अपनी पढ़ाई बीच में ही छोड़ दी थी, लेकिन उनमें रुचि है तो वे इस योजना से दोबारा अध्ययन में शामिल हो सकते हैं।

 




 

पीएम ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के लिए दस्तावेज / पात्रता

  • आवेदक भारत का निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु सीमा 18 से 60 वर्ष होनी चाहिए।
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • आयु प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

 

प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

यदि आप प्रधानमंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते हैं, तो आपको नीचे दिए गए आसान चरणों का पालन करना होगा। प्रधान मंत्री ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान ऑनलाइन आवेदन के चरणों का पालन करना होगा |

  • अभ्यार्थी सबसे पहले ग्रामीण डिजिटल साक्षरता अभियान के आधिकारिक वेबसाइट पर जाएगी।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा।
  • इस होम पेज पर आपको डायरेक्ट कैंडिडेट एक विकल्प दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको लॉगइन के नीचे दिख रहे रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपकी स्क्रीन पर इस तरह रजिस्ट्रेशन एप्लीकेशन खुल जाएगा।
  • इस आवेदन पत्र में आपसे यूआईडीएआई नंबर, छात्र का नाम, लिंग, जन्म तिथि आदि जैसी जानकारी सही-सही भरनी होगी।
  • इसके बाद नीचे दिए गए महत्वपूर्ण निर्देशों को पढ़कर सहमत बॉक्स पर क्लिक करें। और ऐड के ऑप्शन पर क्लिक करें।
  • इसके बाद आपको दो विकल्प फिंगरप्रिंट स्कैन या आई स्कैन दिखाई देंगे, जो विकल्प आपको उपलब्ध है उसे चुनें और अगले विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आपका रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा। और आपको आपकी आईडी और पासवर्ड मिल जाएगा, जिसकी मदद से आप अपनी जानकारी देख सकते हैं।

 




 

Important Links

Official Website  Click HereDigital Saksharta Abhiyan 2022
Online Apply Click HereDigital Saksharta Abhiyan 2022
Join Our Telegram Group Click HereDigital Saksharta Abhiyan 2022

 




 

यह भी पढ़े 

 

सारांश

मैं आशा करता हूँ की आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी ,अगर आपको मेरी यह जानकारी पसंद आई होगी तो आप इसे लाइक करे और अपने दोस्तों , फॅमिली और ग्रुप में जरुर शेयर करे ताकि उन्हें भी इसकी जानकारी मिल सके |

धन्यवाद !!!

Updated: 13/07/2022 — 7:07 PM

Leave a Reply

Your email address will not be published.